Loading...    
   


जबलपुर में बरगी बांध 17 गेट खोले, रेलवे ट्रैक की निगरानी बढ़ाई / JABALPUR NEWS

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में बरगी बाँध के कैचमेंट एरिया में लगातार हो रही बारिश का असर है कि इसके और गेटों को खोलना पड़ा। बीते दिन तक 9 गेटों से पानी छोड़ा जा रहा था तो शुक्रवार को 8 और गेट खोलने पड़े। इस तरह अब कुल 17 गेटों से पानी छोड़ा जा रहा है। बाँध में अभी 1 लाख 76 हजार क्यूसेक पानी आ रहा है, तो गेटों से 2 लाख 40 हजार क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा जा रहा है।  

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार और शुक्रवार को हुई तेज  बरसात को देखते हुए  रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग ने ट्रैक सर्किट सिस्टम की निगरानी के लिए मानसून पेट्रोल मैन और वॉच मैन को पटरियों के किनारे तैनात कर दिया है। ट्रैक सर्किट सिस्टम को इस तरह से विकसित किया गया है िक यदि कहीं लगातार बारिश के बाद अगर पानी रेल पटरी के ऊपर आ जाता है तो इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के जरिए उसकी सूचना मिल जाती है और आनन-फानन में गैंगमैन पानी की निकासी का उपाय करते हैं। बीती रात हुई बारिश के बाद रेलवे ने मानसून पेट्रोल मैन और वॉच मैन को रेल पटरियों के किनारे हालात पर नजर रखने की हिदायत दी। 

प्रशासन द्वारा बाढ़ की स्तिथि को देखते हुए नर्मदा तटीय 14 गांव में हाई अलर्ट घोषित कर यहां आपदा प्रबंधन दल गठित कि या जाकर हल्का पटवारियों व होमगार्ड के जवानों को तैनात कर दिया गया है। तहसीलदार पीसी पांडे ने बताया कि समस्त पटवारियों को निर्देश दिए गए है कि सम्पूर्ण स्थिति पर नजर बनाए रखे। नर्मदा नदी के हर मूवमेंट की जानकारी कंट्रोल को देते रहे। बताया जा रहा है कि बरगी बांध के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धी को देखते हुए 17 गेट औसतन 2.59 मीटर की ऊचांई तक खोले दिए गए हैं।

29 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 

क्या आप एक शब्द में भारत की सभी विश्व सुंदरियों के नाम बता सकते हैं
BF ने शादी से मना किया, रेप केस दर्ज / लड़का बोला ब्लैकमेल कर रही है
सऊदी अरब में बारिश क्यों नहीं होती है
ग्वालियर में बिजली कंपनी ने ऊर्जा मंत्री की भाभी को एक करोड़ का फायदा पहुंचाया
मध्य प्रदेश के 6 जिलों में वज्रपात की संभावना, नागरिक सावधान रहें
2 से अधिक बच्चों वाले कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी
जब यह इमारत जमीन पर खड़ी है तो इसे 'हवामहल' क्यों कहते हैं
ज्योतिरादित्य सिंधिया के नागपुर प्रवास के बाद कमलनाथ और शिवराज सिंह मिले
इंदौर में पति-पत्नी ने मिलकर किसान को हनीट्रैप का शिकार बनाया
1 सितंबर से स्कूल/कॉलेज खुलेंगे या नहीं, भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया
दूध को दही बनाने वाले चमत्कारी पत्थर में क्या खास है, कहां मिलता है, नाम क्या है
सोयाबीन की फसल को पीली पड़ने से बचाने क्या करें, वैज्ञानिकों की सलाह
जबलपुर मेडिकल हॉस्पिटल में आज दूसरे मरीज ने आत्महत्या की कोशिश की
इंदौर से पटना, भोपाल सहित चार ट्रेनें चलाने की तैयारी
सिंधिया के मोदी कैबिनेट में शामिल होने के आसार
मध्य प्रदेश के 6 जिलों में रेड अलर्ट, 14 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
होशंगाबाद में बाढ़, सेना बुलाई, मुख्यमंत्री ने दौरा रद्द कर आपात बैठक बुलाई
कमलनाथ ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को 212 करोड रुपए की सरकारी जमीन ₹100 में दी थी
इंदौर से पटना, भोपाल सहित चार ट्रेनें चलाने की तैयारी
भोपाल की निचली बस्तियों में फिर बाढ़, आधी रात को इलाके खाली करवाए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here