Loading...    
   


जीतू पटवारी के निजी सचिव कोरोना पॉजिटिव / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश में कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के निजी सचिव शिवेंद्र सिंह कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। उन्हें करीब 5 दिन से हल्का बुखार आ रहा था। उन्होंने पहले जेपी हॉस्पिटल में चेकअप करवाया था, लेकिन बुखार ठीक नहीं होने पर निजी डॉक्टर से इलाज कराया। उनका बुखार तो उतर गया था 

परन्तु रविवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटव आ गई। शिवेंद्र के ढाई साल के बेटे को भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। उन्हें पंडित खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया है। शिवेंद्र करीब 10 दिन पहले पटवारी से मिले थे।
शिवेंद्र ने बताया कि वे परिवार के साथ एमएलए रेस्ट हाउस में रहते हैं। पांच दिन से बुखार आ रहा था। जेपी हॉस्पिटल में दो-तीन दिखाने के बाद भी कुछ आराम नहीं मिला तो एक निजी डॉक्टर को दिखाया था। बुखार उतर चुका है। मेरे बेटे की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। मैं भोपाल में पटवारी का पूरा काम देखता हूं। उनसे करीब 10 दिन पहले मुलाकात हुई थी। अभी तक छुट्टी लेकर घर पर ही आराम कर रहा था।

26 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ग्वालियर में लड़की ने ब्लैकमेलर को मां का ATM और गहने तक दे दिए फिर भी नहीं माना 
मध्य प्रदेश के 38 जिलों में 5 दिन लगातार बारिश की संभावना 
ट्रैक्टर का साइलेंसर ऊपर की ओर क्यों होता है, कार की तरह पीछे, ट्रक की तरह साइड में क्यों नहीं 
ग्वालियर की सीमाएं सील, डॉक्टर सहित 59 कोरोना पॉजिटिव 
भोपाल में एक्टर की लेट नाइट पार्टी में पुलिस का छापा, 26 लड़के 7 लड़कियां गिरफ्तार 
जानिए, रत्ती में ऐसा क्या है जो हीरे-जवाहरात के लिए डिजिटल तराजु के बजाए उस पर भरोसा करते हैं 
IGNOU के सभी कोर्सेज के लिए TEE अनिवार्य, नोटिफिकेशन जारी 
दुनिया का पहला पिगी बैंक कहां बना, क्या सूअर बचत का प्रतीक होता है 
मध्य प्रदेश के 25 जिलों में आंधी और बारिश की संभावना
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सरकारी अस्पताल में भर्ती क्यों नहीं हुए, शासन ने बताया 
सिंधिया समर्थक उप चुनाव प्रत्याशी कोरोना पॉजिटिव 
सीएम शिवराज सिंह की अनुपस्थिति में 4 मंत्री मध्यप्रदेश सरकार चलाएंगे 
AIRTEL 52.6 लाख और VODAFONE-IDEA को 45.1 लाख यूजर्स का घाटा, JIO मुनाफे में
मध्य प्रदेश कोरोना: पॉजिटिविटी रेट आज भी 5%, हालात बेहद गंभीर 
मिस्र देश की रानियां कभी बूढ़ी क्यों नहीं होती थी, क्या उनके पास कोई फार्मूला था
भारत में फिर से लॉकडाउन या अनलॉक 3.0 की राहत, फैसला 27 जुलाई को 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here