Loading...    
   


मध्य प्रदेश कोरोना: संक्रमित नागरिकों की संख्या 15000 के पार, 9 जिलों में हालत बेकार / MP CORONA UPDATE NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है। पिछले 24 घंटे में 354 पॉजिटिव मिले। इसी के साथ मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से संक्रमित नागरिकों की संख्या 15,000 से ज्यादा ( 15284) हो गई है। एक्टिव केस की संख्या भी पहली बार 3000 से ज्यादा हो गई है। मध्य प्रदेश के 9 जिलों ( इंदौर, भोपाल, मुरैना, ग्वालियर, भिंड, शिवपुरी, नीमच, मंदसौर और हरदा) में स्थिति चिंताजनक नजर आ रही है क्योंकि यहां पिछले 24 घंटे में 10 से ज्यादा पॉजिटिव मिले हैं।

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 06 JULY 2020 

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलेटिन दिनांक 06 जुलाई 2020 (शाम 6:00 बजे तक) के अनुसार पिछले 24 घंटे में 9520 सैंपल की जांच की गई जिसमें से 173 रिजेक्ट हो गए। 9166 सैंपल नेगेटिव लेकिन 354 पॉजिटिव निकले। इसी के साथ मध्यप्रदेश में महामारी से पीड़ित नागरिकों की कुल संख्या 15284 हो गई। 9 मरीजों की मौत के साथ मरने वालों की कुल संख्या 617 और 168 मरीजों को डिस्चार्ज के साथ संक्रमण से स्वस्थ हुए नागरिकों की संख्या 11579 हो गई है। मध्य प्रदेश में आज की तारीख में कोविड-19 महामारी से पीड़ित नागरिकों की कुल संख्या 3088 है।

MP COVID-19 LATEST REPORT की खास बातें 

आज की रिपोर्ट में भी 9520 सैंपल में से 354 पॉजिटिव पाए गए हैं। यह औसत करीब 4% है। बेहद चिंता की बात है क्योंकि यह औसत लगातार बढ़ता जा रहा है। मध्यप्रदेश में कुछ दिनों पहले तक यह 2% था।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज फिर 65 पॉजिटिव मिले हैं। प्रशासन की तमाम कोशिशों के बाद भी संक्रमण को नियंत्रित नहीं किया जा सका है। इसी महीने राजधानी में विधानसभा का मानसून सत्र है।
उज्जैन की तारीफ करनी पड़ेगी। लगातार नियंत्रण में चल रहा है। अब वहां मात्र 18 एक्टिव केस बचे हैं।
मुरैना 28, ग्वालियर 55 के बाद शिवपुरी में 21 पॉजिटिव पाए गए हैं। पूरा ग्वालियर-चंबल संभाग कोरोनावायरस के संक्रमण की चपेट में है।
नीमच में 12 और मंदसौर में 10 पॉजिटिव का मिलना, चौकाने वाला घटनाक्रम है।
हरदा में एक साथ 13 नागरिक पॉजिटिव मिले हैं।




06 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

जनता बताइए, मेरी और शिवराज की जोड़ी चाहिए या दिग्विजय और कमलनाथ की: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पूछा
ग्वालियर में 'महाराज' के महल के सामने कमलनाथ कैंप लगाएंगे, उपचुनाव तक वहीं रहेंगे 
रीवा को मंत्री पद नहीं मिला तो क्या एशिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना मिल गई 
एसिड अटैक की कोशिश भी गंभीर अपराध है, पढ़िए और सबको बताइए 
सावन के महीने में 300 साल बाद चमत्कारी दुर्लभ संयोग 
मुख्यमंत्री की कुर्सी में एक पाया थोड़ा बड़ा लगा दिया है 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here