Loading...    
   


SUSHANT SINGH RAJPUT: रात में कुछ दोस्त घर आए थे, सुबह फांसी पर लटकी लाश मिली

मुंबई। लंबे संघर्ष और एक्सपीरियंस के बाद बॉलीवुड के आसमान पर स्थापित होने वाले एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की अचानक मृत्यु के समाचार ने सभी को चौंका कर रख दिया है। लोग स्तब्ध हैं और अपने अपने तरीके से शोक प्रकट कर रहे हैं। इस सबके बीच पुलिस की इन्वेस्टिगेशन भी शुरू हो गई है। पता चला है कि 13 जून 2020 की रात कुछ दोस्त सुशांत सिंह राजपूत के घर आए थे और 14 जून 2020 की सुबह सुशांत सिंह की लाश उन्हीं के फ्लैट में फांसी पर लटकी हुई मिली। 

सुसाइड नोट नहीं मिला, सिर्फ डिप्रेशन की बातें 

बताया गया है कि 14 जून 2020 की सुबह सुशांत सिंह राजपूत के फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़ने पर सुशांत की फांसी पर लटकी हुई लाश मिली। पुलिस के लिए यह इन्वेस्टिगेशन का विषय है कि सुशांत सिंह के फ्लैट का दरवाजा कितने बजे तोड़ दिया गया। कहीं कोई जल्दबाजी तो नहीं की गई। सुशांत सिंह के शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। फिर ऐसा क्यों हुआ कि सुशांत सिंह की संदिग्ध मौत को आत्महत्या करार दिया गया और इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते सुशांत सिंह की आत्महत्या का कारण डिप्रेशन घोषित कर दिया गया। सोशल मीडिया पर सुशांत सिंह के डिप्रेशन का हैशटेग चलाया गया। 

सोशल मीडिया से दूर क्यों हो गए थे सुशांत, दोस्त क्या करने आए थे 


यह मामला भारत के उभरते हुए बॉलीवुड स्टार की संदिग्ध मौत का है। पुलिस को हर एंगल से जांच करनी पड़ेगी। बताया गया है कि सुशांत सिंह राजपूत सोशल मीडिया पर हमेशा एक्टिव रहते थे परंतु उन्होंने अपनी जिंदगी की लास्ट पोस्ट 3 जून 2020 को प्रकाशित की। सवाल यह है कि ऐसा क्या हुआ था जो सुशांत सिंह अचानक सोशल मीडिया से दूर हो गए थे। 3 जून के पहले 10 दिन और 3 दिन के बाद के 10 दिनों में सुशांत सिंह की जिंदगी में क्या-क्या हुआ, हर फोन कॉल और हर मिलने वाला व्यक्ति जांच की जद में होना चाहिए।

14 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

SUSHANT SINGH RAJPUT का शव फांसी पर झूलता मिला, मौत से पहले मां को याद किया
सात फेरे के बाद विदा होकर ससुराल जा रही दुल्हन चंबल नदी में कूदी
INDORE में प्रेमिका से मिलने पाइप के सहारे गर्ल्स हॉस्टल पहुंचा डॉक्टर, गिरकर मौत
INDORE में कांग्रेस विधायकों के सामने घुटने टेकने वाले SDM-CSP हटाए, विधायकों के खिलाफ FIR
GWALIOR में महिला ने कार जला डाली क्योंकि उससे रास्ता जाम होता था
MADHYA PRADESH के राज्यपाल की तबीयत बिगड़ी, मेदांता ICU में भर्ती
थ्री पिन प्लग का पहला पिन शेष दोनों पिन से बड़ा क्यों होता है
गंगाजल कितने समय बाद एक्सपायर हो जाता है
MADHYA PRADESH में SCHOOL जुलाई के महीने में भी बंद रहेंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
MP NEWS: महिला अधिकारी ने दलित कर्मचारी से जूते सैनिटाइज करवाए
स्वस्थ इंसान का हृदय 1 मिनट में कितना खून पंप करता है
रात के समय किसी के घर में चोरी छुपे घुसना किस धारा के तहत अपराध है
पुलिस ने पिता को बेइज्जत किया था, गुस्से में बेटा IPS बन गया
घर के निर्माण में नदी की रेत क्यों यूज़ करते हैं, समुद्र या रेगिस्तान की क्यों नहीं
BHOPAL में नीम की पत्तों से कोरोना संक्रमण, सरकारी नल से पूरे मोहल्ले में महामारी
MADHYA PRADESH कोरोना: INDORE 4000 के पार, BHOPAL की थम नहीं रही रफ्तार
ग्वालियर में छात्रों की बेमियादी भूख हड़ताल, जनरल प्रमोशन के लिए
KAMAL NATH के सबसे नजदीकी विधायक कोरोना पॉजिटिव


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here