Loading...    
   


इंदौर के 1 बड़े हॉस्पिटल में कोरोना के मरीजों का इलाज बंद / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में कोरोना के उपचार के लिए अब सिर्फ चार अस्पताल ही उपलब्ध होंगे। प्रशासन द्वारा चोइथराम अस्पताल को रेड श्रेणी के अस्पताल से हटाकर ग्रीन श्रेणी में कर दिया है। इसके अलावा चार अन्य निजी अस्पतालों को भी यलो से ग्रीन श्रेणी में किया गया है।  

कलेक्टर के आदेश के अनुसार अब एमजीएम मेडिकल कॉलेज के एमटीएच, एमआरटीबी, निजी मेडिकल कॉलेज अरबिंदो और इंडेक्स को कोविड अस्पतालों की रेड श्रेणी में रखा गया है। इन सभी अस्पतालों में आयुष्मान योजना के तहत नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। अरबिंदो अस्पताल में निजी वार्ड की सुविधा भी उपलब्ध है। जबकि चोइथराम अस्पताल में शुल्क लेकर कोरोना के मरीजों का उपचार किया जा रहा था।

इसके अलावा अब तक येलो श्रेणी में शामिल चार निजी अस्पताल अरिहंत हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, सुयश हॉस्पिटल, मयूर हॉस्पिटल और गोकुलदास अस्पताल को ग्रीन श्रेणी में कर दिया गया है। कोरोना के संदिग्धों की पहचान के लिए स्वास्थ्य विभाग के फीवर क्लीनिक और एमवाय अस्पताल की कोविड ओपीडी उपलब्ध रहेगी।


17 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

AC खराब हो जाए तो क्या फ्रिज का डोर ओपन करके रूम ठंडा कर सकते हैं
एक स्वस्थ इंसान को कितने वोल्ट तक बिजली का करंट नहीं लगता
MP PEB EXAM CALENDAR 2020 में होने वाली भर्ती/प्रवेश परीक्षाओं का डेट चार्ट जारी
MADHYA PRADESH में सभी स्कूल/कॉलेज/कोचिंग, अंतर्राज्यीय बस बंद करने के आदेश
KISHORE WADHWANI: इंदौर का उद्योगपति गिरफ्तार, MUMBAI के होटल में छुपा था
क्या सीमेंट की सड़कें टायर खराब करतीं हैं, डामर रोड टायर के लिए अच्छी है
SC-ST EMPLOYEE को प्रमोशन में आरक्षण: केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एप्लीकेशन फाइल की
MADHYA PRADESH में उपचुनाव के लिए डेट प्लान तैयार, पढ़िए कब होगा मतदान
घर के निर्माण में नदी की रेत क्यों यूज़ करते हैं, समुद्र या रेगिस्तान की क्यों नहीं
MADHYA PRADESH के 5 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, 3 संभागों में भी जोरदार बरसात होगी
BREAKING: कॉलेज (UG-PG और इंजीनियरिंग) परीक्षाएं अनिश्चित काल तक के लिए स्थगित
CORONA: मध्यप्रदेश 11000 पॉजिटिव, 1100 कंटेनमेंट जोन, 11 मौतें
GWALIOR में महिला ने कार जला डाली क्योंकि उससे रास्ता जाम होता था
JABALPUR में प्राइवेट स्कूल-कॉलेजों की शिकायत समाधान के लिए डिप्टी कलेक्टर नियुक्त


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here