Loading...    
   


कोरोना के कारण ग्वालियर के पुलिस थाने बंद, पुलिस लाइन में भी पुलिस का पहरा / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए पुलिस ने अब सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करना शुरू कर दिया है। पुलिसकर्मी वायरस की चपेट में ना आएं इसके लिए थाने के गेट पर बैरिकेड्स लगा दिया है और कहीं पर रस्सी बांध दी है। जिससे हर व्यक्ति बगैर सुरक्षा इंतजाम के अंदर ना आने पाए। जिनकी शिकायतें महत्वपूर्ण होती हैं उन्हें अंदर जाने से पहले हाथ सेनेटाइज कराने के बाद तथा मास्क लगा होने पर ही प्रवेश दिया जा रहा है, जो भी बीमार नजर आता है उसे फिलहाल थाने में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है और उनकी शिकायत वहां पर लगे बॉक्स में डलवाई जा रही है।

तेजी से फैल रहे कोरोना से बचने के लिए अब पुलिसकर्मी खुद को सुरक्षित रखने के लिए शारीरिक दूरी का पालन करेंगे। इसके लिए वरिष्ठ अफसरों ने थाना प्रभारी सहित अन्य अफसरों को निर्देशित किया है कि थाने में शिकायत करने वालों से पुलिस जवान और अफसर दूरी बनाकर रखें, जिससे वे इस वायरस की चपेट में आने से बच सकें। अफसरों के निर्देश के बाद थानों के गेट पर बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। 

तीन दिन में पंद्रह मरीज

सबसे बड़ी चिंता इस बात की है कि जिले में लगातार संक्रमित मरीज मिल रहे हैं और पिछले तीन दिन में ही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 15 मिली है और इनमें सामान्यत: वे लक्षण भी नहीं थे जो अभी तक कोरोना पॉजीटिव मरीजों में देखने मिल रहे थे। 

एफआईआर से पहले हाथ सेनेटाइज

सुरक्षित दूरी के लिए थाना प्रभारियों के निर्देश पर संतरी ड्यूटी में तैनात जवान गेट पर मुस्तैद रहता है और जिनकी शिकायत गंभीर होती है उन्हें थाने में अंदर प्रवेश से पहले सुरक्षित दूरी के निर्देश के साथ ही हाथ सेनेटाइज कराना नहीं भूलते है। वहीं गश्त से आने और जाने वाले पुलिसकर्मियों के लिए भी थानों में नियम बनाया गया है कि वे भी हाथ सेनेटाइज करने से पहले थाने में प्रवेश नहीं करेंगे।

जिले के सभी थानों में सुरक्षा के लिए अलग-अलग प्रबंध किए गए हैं, कहीं पर रस्सी बांध कर आने जाने वालों को रोका गया है तो कहीं पर पुलिस जवान गेट पर तैनात कर आने जाने वालों को सीधे थाने में जाने से रोका जा रहा है।

पुलिस लाइन में भी पुलिस का पहरा

कोरोना संक्रमण को देखते हुए पुलिस लाइन के सभी गेटों पर पुलिस तैनात कर दी है जो हर आने जाने वाले की पड़ताल कर उन्हें ही जाने दे रहे हैं जिन्हें कोई काम है, बगैर काम वालों को लाइन के गेट से ही चलता कर देते हैं, जिससे कोरोना संक्रमित व्यक्ति लाइन में प्रवेश ना कर सके।

13 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात
भारत में नर्सों को सिस्टर क्यों कहते हैं, परंपरा या कुछ और 
CBSE EXAM: परीक्षा कक्ष में बैठक व्यवस्था कैसी होगी
आठ ट्रेनें भोपाल में रुकेंगी, ये रही लिस्ट, आम नागरिकों को यात्रा की अनुमति 
ग्वालियर में दुकानदारों को लॉकडाउन नामंजूर, बाजार खोल दिया 
हाथ-पैर कटने के बाद आदमी जिंदा रहता है तो फिर गर्दन कटते ही क्यों मर जाता है
शिवलिंग की वेदी का मुख उत्तर दिशा की तरफ ही क्यों होता है 
दिमाग से निकाल दीजिए UPSC क्लियर करने 20 घंटे पढ़ना जरूरी है: पूनम दहिया
Ex CM दिग्विजय सिंह और गोविंद गोयल सहित कई कांग्रेस नेता, कोरोना पॉजिटिव जितेंद्र डागा से मिले थे 
सीएम शिवराज सिंह चाहते हैं 12 घंटे का लॉक डाउन 
लॉकडाउन में BANK LOAN पर ब्याज माफी के लिए सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी किया 
आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए विशेष पैकेज की घोषणा
शिक्षक भर्ती: 5670 पदों में से मात्र 4 पद अनारक्षित, सीएम सर ये तो अन्याय है
मध्य प्रदेश कोरोना 42वें जिले में, 201 नए पॉजिटिव, 4 मौतें, 113 डिस्चार्ज
ग्वालियर स्टेशन से निकलेंगी 4 स्पेशल ट्रेनें, लेकिन कोई फायदा नहीं
ग्वालियर का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल JAH, आम जनता के लिए बंद, 1 डॉक्टर पॉजिटिव निकला


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here