Loading...    
   


भोपालवासी सत्येंद्र की नाइजीरिया में मौत, बेटी ने PM गुहार लगाई | BHOPAL NEWS

भोपाल। नाइजीरिया में एक कंपनी में डिप्टी जनरल मैनेजर रहे पिता की मौत के बाद उनकी बेटी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है। सत्येंद्र शर्मा भोपाल के रहने वाले थे। उनकी बेटी दीपिका शर्मा ने ट्विटर पर एक चिट्ठी लिखी, जिसमें उसने नाइजीरियाई कंपनी,अस्पताल और प्रशासन पर सहयोग न करने और जानकारी न देने का आरोप लगाया है।  

मेरे पिता लागोस की कंपनी दांगोटे इंडस्ट्रीज प्रा.लि. में डिप्टी जनरल मैनेजर थे। उन्हें पहले से न तो कोई बीमारी नहीं थी और कोई संक्रमण भी नहीं था। उन्हें याबा के मेनलैंड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। यह अस्पताल संक्रमक रोगों के इलाज के लिए जाना जाता है। मलेरिया के लक्षण दिखने के बाद 16 अप्रैल को पिता हॉस्पिटल में एडमिट हुए। अस्पताल के टेस्ट में भी मलेरिया की पुष्टि हुई। एक्स-रे रिपोर्ट में उनमें सीने में संक्रमण पाया गया। डॉक्टरों ने कहा कि उनकी हालत अच्छी है और इलाज के बाद 3-4 दिन में उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

दीपिका ने लिखा '17 अप्रैल को कोरोना टेस्टिंग के लिए सैंपल लिया गया' 

दीपिका ने बताया, इसके बाद अस्पताल ने 17 अप्रैल को कोरोना टेस्टिंग के लिए उनका सैंपल लिया और कहा कि 19 अप्रैल को इसकी रिपोर्ट आ जाएगी। 21 तारीख तक हम दांगोटे ग्रुप के एचआर से पिता के बारे में हालचाल लेते रहे। वे यही बताते रहे कि उनकी हालत ठीक है। बुधवार को कंपनी के एचआर से फोन आया कि मेरे पिता को सांस लेने में दिक्कत हो रही है, इसलिए उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया है। शाम को बताया कि उनका निधन हो गया है। 23 अप्रैल तक कोविड-19 की रिपोर्ट नहीं आई थी। अस्पताल प्रबंधन इस बारे में कोई जानकारी नहीं दे रहा है। दांगोटे ग्रुप और अस्पताल के अधिकारी भी मौत की सही वजह नहीं बता रहे। वे हमें रिपोर्ट भी मुहैया नहीं करा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि लागोस से कोई भी मेरे पिता के बारे में कुछ भी बताने को तैयार नहीं है। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्रालय और नाइजीरिया की दूतावास से प्रार्थना करती हूं कि ने अधिकारियों द्वारा की गई चिकित्सा लापरवाही को देखें। मैं अपने पिता की इकलौती संतान हूं। मुझे उनकी मौत की वजह जानने और रिपोर्ट दिलाने में मदद की


24 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रही खबरें

दो इलेक्ट्रिक पोल के बीच तार ढीला क्यों होता है, सीधा क्यों नहीं होता, आइए जानते हैं 
लॉक डाउन में अमूल ने दाम घटाए, बिक्री बढ़ी, आइसक्रीम नहीं पनीर खा रहे हैं लोग 
रेलवे स्टेशन और रेलवे जंक्शन में क्या अंतर है, एक स्टेशन कब जंक्शन बन जाता है 
बेईमान राशन विक्रेता का वीडियो बनाकर भेजें: कलेक्टर 
मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन: आज नए 100, कुल पॉजिटिव 1687, मृत्यु 83, स्वास्थ 203, सबसे गंभीर उज्जैन
मध्य प्रदेश: स्कूलों में छुट्टी एवं online class के नए आदेश
RGPV ने ऑनलाइन परीक्षाओं की तैयारियां शुरू की, EXAM DATE FIX
तकिए के पीछे न्यूड नेहा कक्कड़, फैंस ने जमकर ट्रोल किया
ज्योतिरादित्य सिंधिया: बीजेपी ज्वाइन करने के बाद भी कांग्रेस के कनेक्शन में क्यों हैं
कोरोनावायरस के कारण कर्मचारियों व पेंशनर्स के महंगाई भत्ता पर रोक
कमलनाथ के प्रिय IAS सभाजीत यादव रिटायरमेंट के 10 दिन पहले सस्पेंड
कोरोना पॉजिटिव के शव को कब्रिस्तान की जगह सीधे घर ले गए परिजन
DAMOH: 6 साल की मासूम का रेप, आंख फोड़ी, बोरे में बंद कर जंगल में फेंका
मंत्रिमंडल : जब कुछ न बन सका तो तमाशा बना लिया
मध्यप्रदेश में कॉलेज प्रोफेसरों के ग्रीष्मकालीन अवकाश निरस्त
जीतू पटवारी द्वारा फॉलेन आउट किए अतिथि विद्वानों को शिवराज सिंह सेवा में लेंगे: संघर्ष मोर्चा को उम्मीद


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here