Loading...    
   


उज्जैन में कोरोना सर्वे करने गई मेडिकल टीम को जाहिलों ने घेर लिया, जान बचा कर लौटी | MP NEWS

उज्जैन। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस के इंफेक्शन के बढ़ने का एक बड़ा कारण 'जाहिल लोग' हैं जो लगातार स्वास्थ्य सेवाओं में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं। इंदौर में डॉक्टरों पर हमले के बाद उज्जैन में कोरोनावायरस के संक्रमण के संदर्भ में सर्वे करने गई मेडिकल टीम को जाहिल लोगों ने घेर लिया। मेडिकल टीम में दो महिलाएं थी। जाहिल लोगों ने उनके सामने गंदी गालियां दी। महिलाओं को धमकी दी गई। स्थिति को संभालते हुए मेडिकल टीम जान बचाकर वहां से निकलकर आई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दानीगेट क्षेत्र की एक महिला की 3 अप्रैल को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी। नियम अनुसार पूरे क्षेत्र में कोरोनावायरस के इंफेक्शन का सर्वे होना है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि इंफेक्शन आसपास के लोगों में तो नहीं फैल गया है। यह सर्वे प्रभावित क्षेत्र के नागरिकों की जान बचाने के लिए है लेकिन मेडिकल टीम ने जैसे ही सर्वे का काम शुरू किया जाहिल लोगों ने चारों तरफ से उन्हें घेर लिया। वह लोग मेडिकल टीम को वापस जाने के लिए बोल रहे थे। उन्होंने धमकी दी कि यदि मेडिकल टीम वापस नहीं गई तो बहुत बुरी तरह पीटा जाएगा। कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है। धमकी से घबराए मेडिकल टीम किसी तरह की स्थिति को संभालते हुए वापस लौट आई। 

मेडिकल टीम ने पुलिस के पास आकर शिकायत दर्ज कराई और सुरक्षा की मांग की। मंगलवार को पुलिस बल स्वास्थ्य अमले के साथ मौके पर पहुंचा मस्जिद से अनाउंसमेंट करवाया गया। तब कहीं जाकर इलाके में कोरोना वायरस के इंफेक्शन का सर्वे कार्य शुरू हो सका। सवाल यह है कि क्या सरकार को अपनी हर कार्रवाई से पहले मस्जिद से अनाउंसमेंट करवाना पड़ेगा। क्या इन इलाकों में सरकार सीधे कोई कार्यवाही नहीं कर सकती। क्या इन क्षेत्रों में सरकारी कर्मचारियों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है।

रूपेश द्विवेदी, एएसपी, उज्जैन ने घटना की पुष्टि की है

मामले में कुछ नर्सों द्वारा शिकायत की गई थी। टीम ने मौके पर पहुंचकर रहवासियों को समझाइश दी है। स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रख रहे हैं। रहवासियों ने भी ज्ञापन देकर अभद्रता जैसी बात से इंकार किया है। जांच कर रहे हैं।

08 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है
कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की
पहाड़ से उतरते समय ट्रक की तरह ट्रेन का इंजन बंद कर दें तो क्या होगा?
पुलिस की वर्दी का रंग 'खाकी' क्यों होता है ब्राउन (कॉफी) क्यों नहीं होता
मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत
यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
इंदौर में बाहर निकलने वाले गिरफ्तार होंगे, वैष्णव यूनिवर्सिटी अस्थाई जेल घोषित 
मध्यप्रदेश में संक्रमित जिलों की संख्या बढ़कर 14 हुई, इटारसी और श्योपुर पॉजिटिव 
शिवराज सिंह ने कोरोना के बहाने कलेक्टरों को लाल बत्ती दे दी 
मध्य प्रदेश: मंगलवार को 38 पॉजिटिव, टोटल 290, सबसे ज्यादा भोपाल में 
ग्वालियर में गुर्जरों ने तहसीलदार पर पथराव किया, गनर ने हवाई फायर करके जान बचाई
भोपाल में कोरोना पॉजिटिव डॉ रूबी खान का हंगामा, कलेक्टर परेशान 
ग्वालियर में क्वारैंटाइन 9 मुस्लिम खाने में मटन बिरयानी मांग रहे हैं, नहीं मिली तो हंगामा
ट्रंप की धमकी से भारत में गुस्सा, पीएम मोदी पर कड़ी प्रतिक्रिया का दवाब
इंदौर के कब्रिस्तानाें में आ रहे जनाजों की संख्या 488% का इजाफा
मध्यप्रदेश में लॉक डाउन का क्या करेंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का बयान
पति की मौत के बाद देवर दुष्कर्म करने लगा, गर्भवती हुई तो घर से भगा दिया 
शिवराज सर, सुन रहे हैं ना आप, भोपाल में कोरोना इंफेक्शन क्यों बढ़ रहा है 
इंदौर में मेडिकल टीम के बाद पुलिस पर हमला, छह गिरफ्तार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here