Loading...    
   


खंडवा की मक्का मस्जिद में रुके 4 जमाती कोरोना पॉजिटिव | MP NEWS

खंडवा। खंडवा जिले में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों  की संख्या 5 हो गई है। इनमें से पहला मरीज 34 वर्ष का है, जिसे 3 दिन से बुखार था। उसका पिता सऊदी अरब से 12 मार्च को लौटा था। मरीज की हालत अभी स्थिर है। इसके माता-पिता के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल ने बताया कि इसके अलावा खंडवा की मक्का मस्जिद में रुके हुए जमात के 17 में से 4 व्यक्ति भी पॉजिटिव पाए गए हैं। शेष की रिपोर्ट नेगेटिव है। ये कर्नाटक के रहने वाले हैं। इन सभी प्रकरणों की जानकारी मिलते ही इनके निवास व आसपास के स्थल को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है। जिला प्रशासन ने गुरुवार सुबह से टीम बनाकर सर्वे शुरू कर दिया है।

इधर, हैदराबाद से धार जिले के कसूर में लाैटे दाे युवकाें ने जागरूकता का परिचय देते हुए स्वयं ही प्रशासन काे सूचना देकर स्वयं की जांच की बात कही। हालांकि दाेनाें स्वस्थ हैं फिर भी एहतिहात के ताैर पर धार के क्वारैंटाइन में भर्ती किया गया है। काेराेना संक्रमण प्रभावित क्षेत्र बेटमा से चार दिन पहले पांच लाेग मांडू पहुंचे थे। परिवार के अन्य सदस्याें से मिलने पर उनके सहित 21 लाेगाें काे धार में क्वारैंटाइन किया गया था। इन सभी के सैंपल लेकर इंदाैर जांच के लिए भेजे थे। बुधवार काे आई रिपाेर्ट में सभी निगेटिव पाए गए हैं। साथ ही धार के चार लाेगाें की रिपाेर्ट भी निगेटिव आई है।

धारेश्वर मार्ग पर किराए के मकान में रह रहे मां-बेटे की सूचना कलेक्टाेरेट के कंट्राेल रूम काे मिली थी। दाेनाें की स्क्रीनिंग की गई। बेटा जीप चलाने का काम करता है। उसे सर्दी-खांसी, जुकाम की शिकायत है। मकान मालिक ने टीम के सामने ही दाेनाें काे घर से निकालने की बात कही ताे टीम ने उसे समझाइश दी। दाेनाें काे हाेम आइसाेलेशन किया है। हैदराबाद से दाे दिन पहले दाे युवक लाैटे, वे केसूर के पास के गांव हैं और हैदराबाद में मजदूरी करने गए थे। दाेनाें ने स्वयं की अधिकारियाें काे जांच के लिए कहा। रैपिड रिस्पांस टीम के लीडर डाॅ. संजय भंडारी ने बताया चूंकि वे हैदराबाद से यात्रा करके लाैटे हैं इसलिए धार के क्वारैंटाइन सेंटर में भर्ती रखा है।


09 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

  1. यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
  2. पत्नी को धर्मपत्नी क्यों कहते हैं, क्या कोई लॉजिक है या बस मान-सम्मान के लिए
  3. कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की 
  4. कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है 
  5. ग्वालियर में सब्जी वाले से संक्रमित हुई बबीता वर्मा, बाकी सब बाहर से 
  6. मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत 
  7. ग्वालियर में गुर्जरों ने तहसीलदार पर पथराव किया, गनर ने हवाई फायर करके जान बचाई
  8. 9 ट्रेनों की लिस्ट तैयार, 15 से 21 अप्रैल तक चलेंगी 
  9. मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन 90 नए पॉजिटिव, खरगोन-बड़वानी आउट ऑफ कंट्रोल 
  10. मध्यप्रदेश में ESMA लागू, पढ़िए आम जनता को इससे क्या फायदा होगा 
  11. इंदौर, भोपाल, उज्जैन: घर से निकलते ही गिरफ्तार किए जाएंगे, 11 जिले 100% लॉक डाउन
  12. लॉकडाउन के दौरान कालाबाजारी या नकली सामान की शिकायत कहां करें, पढ़िए 
  13. सांसदों की तरह मध्य प्रदेश में विधायकों की विधायक निधि बंद होगी: सीएम शिवराज सिंह 
  14. लॉक डाउन में प्याज चुराकर भाग रहे थे रोका तो पिता पुत्र की हत्या की 
  15. भोपाल में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 92 हुई, मुख्यमंत्री भड़के 
  16. CMHO डहेरिया: मुख्यमंत्री ने 5 दिन पहले नमन किया था, आज ट्रांसफर कर दिया
  17. SBI ने दूसरी बार मौके का फायदा उठाया, खाताधारकों को नुकसान 
  18. पुलिस की वर्दी का रंग 'खाकी' क्यों होता है ब्राउन (कॉफी) क्यों नहीं होता


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here