JABALPUR NEWS- डेंगू मच्छर मारने में नाकाम प्रशासन ने कांग्रेस नेताओं को पुलिस से पिटवाया

जबलपुर
। कोरोनावायरस का संक्रमण रोकने और डेंगू फैलाने वाले मच्छरों को मारने में नाकाम प्रशासन ने विरोध प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस से पिटवाया। कांग्रेस के नेता नगर निगम कमिश्नर का पुतला फूंकने की कोशिश कर रहे थे। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि सीएसपी रांझी के आदेश पर लाठीचार्ज किया गया जबकि मौके पर मजिस्ट्रेट (SDM) मौजूद नहीं थे। उल्लेखनीय है कि कानून और व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में रखने के लिए लाठीचार्ज का आदेश देने का अधिकार मौके पर मौजूद मजिस्ट्रेट को होता है। 

रांझी में 4000 लोग मच्छरों से पीड़ित

जबलपुर में डेंगू की सबसे खराब हालत रांझी में है। यहां तीन से चार हजार लोग बुखार-वायरल और मच्छरजनित बीमारियों के लक्षण से पीड़ित हैं। डेंगू की पुष्टि वाले मरीजों में भी सबसे अधिक यहीं के हैं। इसे लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता रवींद्र कुशवाहा की अगुवाई में कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक ब्लाक अध्यक्ष राजेंद्र मिश्रा सहित अन्य कार्यकर्ता मानेगांव में प्रदर्शन कर रहे थे। कांग्रेस कार्यकर्ता नगर निगम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उसके नाम का पुतला फूंकने पहुंचे, तो पुलिस ने रोक दिया। 

पुतले की छीना-झपटी में लाठी चलाई

कांग्रेस के राजेंद्र मिश्रा के मुताबिक पुलिस पुतला छीनने लगी। कार्यकर्ता विरोध करने लगे, तो सीएसपी एमपी प्रजापति की अगुवाई में पुलिस ने लाठी चलानी शुरू कर दी। आरोप लगाया कि लाठी चलाने संबंधी आदेश देने के लिए मौके पर कोई एसडीएम मौजूद नहीं था। पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज में कांग्रेस नेता प्रतीक चौकसे के सिर में, अतुल बरहानी व अतुल डोंगरे के सिर सहित हाथ-पांव में चोटें आई हैं। प्रतीक चौकसे मौके पर ही बेहोश हो गए। तीनों कार्यकर्ता के घायल होने पर कांग्रेसी भड़क गए। 

सीएसपी विधायक विधायक अशोक रोहाणी के एजेंट: कांग्रेस का आरोप

पुलिस की लाठी चलाने पर कांग्रेसी आक्रोशित हो गए। राजेंद्र मिश्रा ने आरोप लगाए कि पुलिस बीजेपी के एजेंट की तरह कांग्रेस के हर आंदोलन को इसी तरह कुचलने का प्रयास करती है। सीएसपी एमपी प्रजापति के खिलाफ अपराध दर्ज करने की मांग करते रहे। आरोप लगाया कि वे बीजेपी से केंट विधायक अशोक रोहाणी के एजेंट बन चुके हैं। खुद सीएसपी डेंगू से पीड़ित रहे, पर आज डेंगू पीड़ितों की आवाज उठाने पर लाठी चला रहे हैं। उन्हें अविलंब रांझी से हटाने की मांग की।

पूरी घटना की न्यायिक जांच हो, FIR दर्ज हो

विवाद की सूचना पाकर मौके पर एएसपी संजय अग्रवाल पहुंचे। कांग्रेस नेताओं से कई दौर की बात के बाद किसी तरह वे शांत हुए। कांग्रेस नेताओं ने पूरी घटना की न्यायिक जांच की मांग की। वहीं लाठी चलाने वाले सीएसपी एमपी प्रजापति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की। दावा किया कि वे लोकतांत्रिक ढंग से शांतिपूर्ण तरीके से अपना विरोध दर्ज करा रहे थे। पर सीएसपी ने लाठी चलाकर कार्यकर्ताओं को भड़का दिया। घोषणा की कि अब आगे से कांग्रेस कार्यकर्ता पुतल फूंकने की बजाए इसे बनाकर पुलिस को सौंप देंगे। 

मच्छर मारने की मांग कर रहे थे कांग्रेस नेता

कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता डेंगू प्रभावित रांझी में घर-घर सर्वे कराने, फागिंग व कीटनाशक दवाओं का नियमित छिड़काव की मांग कर रहे हैं। दावा किया कि अस्पतालों में बेड नहीं मिल रहे हैं और जिला मलेरिया विभाग है कि वह डेंगू के प्रकरण को महज 10% ही दर्शा रहा है। इसी कारण हालात और बिगड़े हैं। यहां सच्चाई स्वीकार करने की बजाए आंकड़ों की बाजीगरी दिखाने की कोशिश अधिक रहती है।

13 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPPEB NEWS- सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी की चयन सूची जारी, यहां पढ़िए
GWALIOR NEWS- चिटनिस की गोठ में LAKME नकली प्रोडक्ट भंडार मिला
MP COLLEGE NEWS- मप्र के सभी विश्वविद्यालयों में एकीकृत पाठ्यक्रम लागू
MP EMPLOYEES NEWS- वित्त मंत्रालय ने DA बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा
SC-ST आयोग की तरह सामान्य वर्ग आयोग बनेगा: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह
BHOPAL NEWS- हलाली डैम में अशोका गार्डन के तीन लड़कों की मौत
MP EMPLOYEE NEWS- डीए के कारण कर्मचारी मुख्यमंत्री से नाराज
JABALPUR DEO ने महिला शिक्षक का डिपार्टमेंट के बाहर ट्रांसफर कर दिया

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiभारत की एक ऐसी जगह जहां आज भी ब्रिटिश सरकार का राज है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here