GWALIOR NEWS- सिंधिया के बचाव में आए भाजपा नेता खुद फंस गए

ग्वालियर।
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बचाव में कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक को जवाब देने आए दलांतरित नेता पुनीत शर्मा उर्फ पप्पन भैया खुद नई झमेले में फंस गए हैं। रजक समाज ना केवल उनसे नाराज हो गया है बल्कि उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को ज्ञापन भी सौंपा है।

ग्वालियर की राजनीति ज्योतिरादित्य सिंधिया के आसपास मंडराती रहती है। सिंधिया द्वारा दल बदलने के बाद से ही कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल लिया है। पिछले दिनों ज्योतिरादित्य सिंधिया के दौरे के समय भी प्रवीण पाठक ने कई बयानी हमले किए। सिंधिया के साथ कांग्रेस पार्टी से भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए पुनीत शर्मा उर्फ पप्पन भैया ने बीते रोज ज्योतिरादित्य सिंधिया के बचाव में सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया। उनका टारगेट कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक थे परंतु वीडियो अपलोड होने के बाद पुनीत शर्मा रजक समाज के टारगेट पर आ गए।

लगभग 5 मिनट की वीडियो में पुनीत शर्मा ने विधायक प्रवीण पाठक को समझाने के लिए रामायण के एक प्रसंग का उपयोग किया। इस दौरान उन्होंने चार बार धोबी शब्द का उपयोग आपत्तिजनक लहजे में किया। इसी बात से रजक समाज नाराज हो गया। रजक समाज के संगठनों ने आईजी ग्वालियर श्री अविनाश शर्मा एवं एसपी ग्वालियर श्री अमित सांघी को आवेदन देकर पुनीत शर्मा के खिलाफ जातिसूचक शब्दों से अपमानित करने के लिए FIR की मांग कर चुके हैं।

भाजपा नेता सार्वजनिक माफी मांगे: अखिल भारतीय धोबी महासंघ

इस पर अखिल भारतीय धोबी महासंघ के जिलाध्यक्ष भागीरथ घिया ने कहा है कि पुलिस तो अपनी कार्रवाई करेगी, लेकिन भाजपा नेता यदि सोशल मीडिया पर माफी मांग लेते हैं तो रजक समाज मामले को आगे नहीं बढ़ाएगी। यदि उन्होंने ऐसा नहीं किया तो यह माना जाएगा कि उन्होंने जान बूझकर ऐसा किया है

15 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com