HOSHANGABAD के 369 गाँव CORONA की चपेट में, कलेक्टर और प्रभारी मंत्री रोक नहीं पाए - MP NEWS

भोपाल
। होशंगाबाद के कलेक्टर श्री धनंजय सिंह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा CORONA संक्रमण को नियंत्रण करने के लिए नियुक्त किए गए प्रभारी मंत्री श्री कमल पटेल कोरोनावायरस के संक्रमण की रोकथाम में असफल साबित हो रहे हैं। होशंगाबाद के 369 गांव कोरोनावायरस के संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। यह मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी संख्या है। 

मध्य प्रदेश के इन 15 जिलों में हालात आज भी खराब

जिलावार समीक्षा में पाया गया कि इंदौर में 1706, भोपाल में 1561, ग्वालियर में 987, जबलपुर में 825, रतलाम में 379, रीवा में 313, उज्जैन में 308, शिवपुरी में 252, सतना में 248, नरसिंहपुर में 237, अनूपपुर में 236, धार में 220, सीधी में 207, दमोह में 205 तथा सीहोर में 204 नए प्रकरण आए हैं। इन सभी जिलों पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिए। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के अशोक नगर में हालात अच्छे नहीं 

मध्यप्रदेश में अशोकनगर एक ऐसा जिला है जहां CORONA मामलों में ज्योतिरादित्य सिंधिया सीधे जिम्मेदार हैं। यहां मरीजों को और उनके परिजनों को बार-बार जताया जा रहा है कि यदि उन्हें अस्पताल में ऑक्सीजन, दवाइयां और इंजेक्शन मिल रहे हैं तो श्रीमंत महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया की कृपा से। मानौ ज्योतिरादित्य सिंधिया नहीं होते तो अशोकनगर का अस्तित्व ही खत्म हो जाता। महाराज के चाटुकार यह भी जता रहे हैं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया अशोकनगर के लिए दिन रात परिश्रम कर रहे हैं। बावजूद इसके अशोकनगर के हालात अच्छे नहीं हैं। संक्रमण बढ़ता जा रहा है और अस्पतालों में जगह नहीं है। मुख्यमंत्री ने अशोकनगर के अस्पताल में बेड कैपेसिटी बढ़ाने और ऑक्सीजन लाइन का काम पूरा करने के निर्देश दिए हैं। 

उल्लेखनीय है कि गुना में सीटी स्केन सुविधा प्रारंभ हो गई है, ऑक्सीजन प्लांट भी लगाया जा रहा है। भिंड में भी सीटी स्केन मशीन प्रारंभ हो गई है। 

मध्यप्रदेश में मेल नर्स की भी भर्ती के निर्देश

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए कि अस्पतालों में स्वास्थ्य कर्मियों की उपलब्धता के लिए मेल नर्स की भी भर्ती की जाए। भर्ती की प्रक्रिया आसान हो, जिससे तुरंत भर्ती की जा सके। उल्लेखनीय है कि पिछले कई सालों से मेल नर्स सरकारी भर्ती की मांग कर रहे थे। मेल नर्स का दावा था कि वह आपातकाल की स्थिति में ज्यादा अच्छा काम कर सकते हैं। 

09 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here