Loading...    
   


ग्वालियर के डॉ महेश्वरी और अग्रवाल के खिलाफ FIR, मरीज की मौत के लिए जिम्मेदार / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। इंस्पेक्टर की पत्नी की इलाज के दौरान लापरवाही बरतने और मौत के मामले में 4 साल बाद पुलिस ने 2 डॉक्टर, नर्स पर मामला दर्ज किया है। घटना 28 मई 2016 लक्ष्मीबाई कॉलोनी स्थित माहेश्वरी नर्सिंग होम की है। घटना के समय मृतका का पति तत्कालीन टीआई झांसी रोड दीपक यादव सिंहस्थ से ड्यूटी कर घर लौट रहे थे। पुलिस ने डॉ. डीके माहेश्वरी, डॉ. कपिल अग्रवाल, स्टाफ नर्स मिशी जोसेफ पर आईपीसी की धारा 304 ए व 34 के तहत मामला दर्ज किया है।

इंस्पेक्टर दीपक यादव वर्ष 2016 में शहर के झांसी रोड थाना में बतौर टीआई पदस्थ थे। इसके बाद वह सिंहस्थ महाकुंभ उज्जैन ड्यूटी पर चले गए थे। सिंहस्थ पूरा होने के बाद 29 जून को उन्हें घर लौटना था। एक दिन के लिए वह गुना अपने पुश्तैनी घर रुक गए। जबकि उनकी पत्नी रेनू यादव व बच्चे यहां अपने ननिहाल में थे। दीपक यादव की पत्नी के सीने पर एक फोडा था जिसे माहेश्वर नर्सिंग होम में दिखाया था। 28 मई को ऑपरेशन के लिए डॉक्टर ने बुलाया था। जिस पर रेनू के पिता ने उन्हें भर्ती कराया। ऑपरेशन के बाद कुछ दवा देते ही अचानक रेनू की हालत बिगड़ गई। मुंह से झाग निकला। डॉक्टर्स ने आईसीयू में भर्ती किया। कुछ देर बाद मृत घोषित कर दिया गया। 

इंस्पेक्टर की पत्नी की मौत की खबर से वहां हंगामा खड़ा हो गया। परिजन ने अस्पताल में गलत इलाज और लापरवाही पर हंगामा किया। इस मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की थी। खुद पुलिस विभाग के इंस्पेक्टर की पत्नी की लापरवाही से मौत के मामले में पुलिस को नर्सिंग होम के डॉक्टर्स पर मामला दर्ज करने में 4 महीने लग गए। पुलिस ने इस मामले में सोमवार को माहेश्वरी नर्सिंग होम के डॉ. डीके माहेश्वरी, डॉ. कपिल अग्रवाल, स्टाफ नर्स मिशी जोसेफ के खिलाफ लापरवाही से मौत का मामला दर्ज किया है।

21 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक केपी सिंह, डॉ नरोत्तम मिश्रा से मिले: कमलनाथ के किले में बड़ी दरार
जब मोबाइल 100% चार्ज हो जाता है तो चार्जर ऑटोमेटिक ऑफ क्यों नहीं होता
मिस्र देश की रानियां कभी बूढ़ी क्यों नहीं होती थी, क्या उनके पास कोई फार्मूला था
मध्यप्रदेश की भर्ती परीक्षाओं में लागू आरक्षण अधिनियम निष्प्रभावी है
UGC COLLEGE EXAM: भारत की 560 यूनिवर्सिटी ने परीक्षा कार्यक्रम बनाया
क्या कर्मचारी के वेतनमान/पे स्केल में किसी भी प्रकार की घटोत्री की जा सकती है
संपत्ति अधिग्रहण का शारीरिक विरोध आईपीसी में अपराध माना गया है
कोरोना पॉजिटिव को काटकर उड़ा मच्छर यदि आम इंसान को काट ले तो क्या वह भी पॉजिटिव हो जाएगा, पढ़िए
मध्य प्रदेश के सरकारी ऑफिसों में 33-50% का फार्मूला, प्राइवेट ऑफिस 7 दिन बंद होंगे
प्रिय शिवराज, मेरी OBC आरक्षण की लड़ाई अब आपको लड़नी है: कमलनाथ
पशुपालक किसानों के लिए KCC: 1.80 लाख का लोन, बिना गारंटी के लिए KCC: 1.80 लाख का लोन, बिना गारंटी
मध्यप्रदेश में कोरोना बढ़े या घटे, उपचुनाव सितंबर लास्ट तक हो जाएंगे: चुनाव आयोग
मध्यप्रदेश में रात 8:00 बजे से कर्फ्यू, कोरोना कंट्रोल के लिए सख्त कदम शुरू
राखी में रेशम के धागों की मान्यता क्यों है क्या कोई लॉजिक है या बस पंडित जी ने कह दिया इसलिए!
पिछड़ा वर्ग 27% आरक्षण के लिए हाईकोर्ट में कांग्रेस अपने वकील भेजेगी
मध्य प्रदेश कोरोना: 15 जिलों में महामारी, 52 जिले संक्रमित
जबलपुर में कोरोना वाले कमिश्नर के यहां शादी में गए सभी अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही होगी
मध्य प्रदेश के 15 से ज्यादा जिलों में 2 दिन का लॉकडाउन


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here