Loading...    
   


पंचायत सचिव अमर सिंह सस्पेंड, भ्रष्टाचार के 6 मामलों में आरोपी / EMPLOYEE NEWS

मंदसौर। सीईओ जिला पंचायत श्री ऋषव गुप्ता द्वारा जनपद पंचायत मल्हारगढ की ग्राम पंचायत मोल्याखेडी के सचिव अमर सिंह भाटी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। श्री भाटी के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायतों में से 6 शिकायतें प्राथमिक जांच में सही पाई गईं हैं। भाटी के खिलाफ विभागीय जांच की जाएगी एवं भ्रष्टाचार प्रमाणित होने पर सेवा समाप्ति की कार्रवाई की जाएगी। 

जिला पंचायत की ओर से प्रेस को दी गई सूचना के अनुसार सचिव द्वारा गांव के विभिन्न कार्यों में तरह-तरह की लापरवाही एवं भ्रष्टाचार का कार्य किया गया जिसमें प्रथम डग आउट तालाब की राशि 4 लाख 71 हजार रुपये का तालाब ग्राम मोल्याखेड़ी में बनना था, जबकि धरातल पर कार्य जीरो है। द्वितीय खेल मैदान ग्राम माल्याखेडी में तीन लाख पंद्रह हजार का कार्य करना था, जिसमे से केवल 10 हजार का ही कार्य किया गया है। तीसरा शमशान शेड में राशि 3 लाख रुपये का कोई भी कार्य नही कराया गया। चतुर्थ शमशान विकास बरखेड़ा में राशि 90 हजार का कोई भी कार्य नही किया गया। पांचवा सुदूर सड़क का खेरखेड़ा व मोल्याखेडी में राशि लगभग 30 लाख रुपये का कार्य किया जाना था, जिसमे से लगभग 05 लाख रुपये का कार्य ही किया गया। छटवां समग्र स्वच्छता के लिए 1 लाख रुपये के कचरा पात्र वितरण करने थे, जिसमे से कोई भी पात्र वितरण नही किये गए। समग स्वच्छता के अंतर्गत लगभग 20 लाख रूपये का भ्रष्टाचार सरपंच द्वारा किया गया व पंचायत की अमानत एल.सी.डी.15 नग लोहे की गाडर, कम्प्यूटर, सासंद निधि वाला टेंकर व अन्य सामग्री भी सरपंच द्वारा या तो बेच दी गई या घर पर उपयोग कर ली। 

इस तरह सचिव द्वारा अपने वरिष्ठ कार्यलय के आदेशों की अवहेलना करने तथा शासकीय राशि का अनियमित व्यय किया जाकर अपने पद कर्तव्यों के प्रति घोर लापरवाही तथा उदासीनता बरतने के कारण श्री अमरसिंह भाटी सचिव ग्राम पंचायत मोल्याखेडी जनपद पंचायत मल्हारगढ़ को म.प्र.पंचायत सेवा (अनुशासन एवं अपील) नियम 1999 भाग-2 (क),(ख) में निहित प्रावधानों के अंतर्गत तत्काल प्रभाव से सचिव के पद से निलंबित किया जाता है। श्री भाटी का निलंबन अवधि में मुख्यालय जनपद पंचायत मंदसौर किया जाता है। निलंबन अवधि में इनको जीवन निर्वाह भत्ता प्राप्त होता रहेगा।

29 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार

मध्य प्रदेश कोरोना: एक्टिव केस 8000 से ज्यादा, 830 की मौत
एक पहाड़ पर 11 शिवलिंग लेकिन कभी कोई मंदिर नहीं बना पाया
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन
मध्य प्रदेश से रूठ गए इंद्रदेव, बादल बिना बरसे ही लौट गए
बैतूल में जज को जहर देकर मारा गया है, भोपाल समाचार का संदेह सही निकला
इंदौर में जीतू पटवारी सहित 200 कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज
ग्वालियर में पिज्जा डिलेवरी की तरह टाइम लिमिट में मिलेगा बिजली कनेक्शन
कोरोना के नाम पर कर्मचारियों को ही क्यों रोक रहे हैं, IAS अफसरों को क्यों नहीं


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here