Loading...    
   


मध्यप्रदेश में वन स्टॉप सेंटर 24 घंटे खुले रहेंगे, इलाज मिलेगा / MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश में सरकारी वन स्टॉप सेंटर 24 घंटे खुले रहेंगे। इन सेंटरों में 24 घंटे इलाज मिलेगा। वन स्टॉप सेंटर हिंसा प्रभावित महिलाओं की प्राथमिक चिकित्सा के लिए बनाए गए हैं। पैरा मेडिकल स्टॉफ जिसमें प्रशिक्षित नर्स, ए.एन.एम., एम.बी.बी.एस., बी.ए.एम.एस., बी.एच.एम.एस, यूनानी डॉक्टर्स को शिफ्ट के आधार पर चौबीस घंटे सेवाऍ देनी होगी। 

वन स्टॉप सेंटर के लिए भारत सरकार की गाइडलाइन

भारत सरकार द्वारा जारी गाईडलाइन अनुसार वन स्टॉप सेंटर पर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं सिविल सर्जन को जारी किया गया है। वन स्टॉप सेंटर पर पैरा-मडिकल स्टॉफ की रोस्टर के आधार पर ड्यूटी लगाई जाएगी। हिंसा प्रभावित महिला/बालिका के सेंटर पहुँचने पर जीवन-रक्षक दवाइयाँ एवं प्राथमिकता चिकित्सा देकर अपने साथ अस्पताल में पहुँचाने की जिम्मेदारी पैरा-मेडिकल स्टाफ की होगी। उनके द्वारा लैंगिक उत्पीडन संबंधी प्रकरणों में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी प्रोटोकॉल अनुसार मेडिकल-लीगल एवं फोरेसिंक जाँच तथा अन्य टेस्ट करवाना सुनिश्चित किया जायेगा।

जिला स्तर पर एमओएचएफ डब्ल्यू द्वारा जारी प्रोटोकॉल को स्थानीय भाषा में अनुवादित कर पैरा-मेडिकल स्टाफ, स्वास्थ्य कर्मियों, वन स्टॉप सेंटर एवं प्रशासकीय अधिकारियों को उपलब्ध कराया जायेगा। साथ ही प्रोटोकॉल निर्देशों को कैलेण्डर के रूप में विकसित कर वन स्टॉप सेंटर और सर्वे संबंधितों को प्रदाय किया जाना अनिवार्य होगा। 

इसके अतिरिक्त राज्य में संचालित शासकीय एवं अशासकीय अस्पताल, डॉक्टर्स के पूर्ण पते, निजी क्लीनिक एवं शासकीय एम्बुलेंस शासकीय एवं निजी ब्लड बैंक की डायरेक्ट्री भी विकसित कर वन स्टॉप सेन्टर और संबंधितों को उपलब्ध कराया जायेगा। इसके अतिरिक्त पैरा-मेडिकल स्टाफ/स्वास्थ्य कर्मियों के लिये प्रशिक्षण और जागरूकता कार्यक्रम भी आयोजित किये जायेंगे।

02 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर में दुकानों का किराया माफ, लॉकडाउन के कारण लिया फैसला
फर्जी सर्टिफिकेट लगाने वाला कितने साल के लिए जेल जाएगा, ध्यान से पढ़िए
फर्जी सर्टिफिकेट बनाने व हस्ताक्षर करने वाले को कितनी सजा होती है, पढ़िए
अब मुझमें हिम्मत नहीं बची, मैं सुसाइड कर लूंगी: एक्ट्रेस रानी चटर्जी
पुंसवन संस्कार क्या है, क्या इससे गर्भ में शिशु के लिंग का निर्धारण होता है
मध्य प्रदेश: जिला शिक्षा अधिकारियों की तबादला सूची
मध्यप्रदेश - 28 मंत्री, 20 कैबिनेट, 8 राज्य मंत्री
MPPSC 2019 SCORECARD यहां देखें, OMR SHEET भी डाउनलोड कर सकते हैं
परिनिन्दा या चेतावनी की शास्ति का शासकीय कर्मचारी की सेवा के ऊपर क्या प्रभाव पड़ता है
हायर एजुकेशन के अस्थाई एवं संविदा शिक्षक लॉकडाउन के दौरान ऑन ड्यूटी माने जाएंगे: भारत सरकार
अन्याय के खिलाफ़ छेड़ा गया संघर्ष ही धर्म है: ज्योतिरादित्य सिंधिया
मध्य प्रदेश के 33 मंत्रियो में से 14 विधायक ही नहीं है: कमलनाथ
झूठी गवाही के लिए धमकाना या लालच देना कितना गंभीर अपराध है, यहां पढ़िए
जो थर्माकोल गर्म पानी में से नहीं पिघलता, माचिस की तीली से क्यों सिकुड़ जाता है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here