Loading...    
   


शिवराज सिंह के लाड़ले रिलायंस पावर के खिलाफ मजिस्ट्रियल जांच के आदेश | MP NEWS

सिंगरौली। कलेक्टर श्री केवीएस चौधरी ने रिलायंस पावर प्लांट के खिलाफ मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। इस प्लांट में स्थित एक बांध जिसमें पानी और राख भरी हुई थी। दिनांक 10 अप्रैल 2020 को शाम 5:00 बजे टूट गया था। इसके कारण 2 लोगों की मृत्यु हो गई थी जबकि 4 लोग लापता थे। पिछले 16 घंटे (यह समाचार दिनांक 12 अप्रैल को 12:30 बजे लिखा गया) में कलेक्टर सिंगरौली की ओर से कोई अपडेट नहीं आया है। लापता लोग मिले या नहीं जिंदा है या नहीं रेस्क्यू ऑपरेशन में क्या हुआ, कलेक्टर सिंगरौली ने नहीं बताया है। राजनीति में लोग तो यहां तक कहते हैं कि शिवराज सिंह का रिलायंस की कंपनी सासन अल्ट्रा मेगा पावर प्लांट से बिल्कुल वही रिश्ता है जो स्वर्गीय श्री राजीव गांधी का यूनियन कार्बाइड से हुआ करता था।

सिंगरौली में रिलायंस पावर प्लांट के कारण कितनी मौतें, कितना नुकसान हुआ 

मध्यप्रदेश के सिंगरौली में रिलायंस पावर प्लांट के कारण कुल कितनी मौतें हुई और कितना नुकसान हुआ इसका आकलन अब तक नहीं हो पाया है लेकिन ग्रामीण बताते हैं कि करीब 200 एकड़ की जमीन बर्बाद हो गई। इस जमीन पर बने घर तालाब खेत सब बर्बाद हो गए। सैकड़ों पशु मलबे में दब गए। दो ग्रामीणों के शव मिले हैं जबकि रिलायंस के कर्मचारियों की भी मौत हुई है जिसे छुपाया जा रहा है। प्रशासन ने स्वीकार किया है कि चार ग्रामीण लापता है जबकि ग्रामीणों का कहना है कि एक दर्जन से ज्यादा लोग गायब हैं। आसपास का पूरा इलाका राख के मलबे में तब्दील हो गया है। 

कलेक्टर ने प्रेस को बताया कि हादसे के लिए रिलायंस जिम्मेदार


क्योंकि मामला रिलायंस पावर प्लांट का है इसलिए पूरे विश्वास के साथ नहीं कहा जा सकता कि कलेक्टर के हस्ताक्षर से जारी दस्तावेज के शब्द क्या है परंतु कलेक्टर श्री चौधरी ने मीडिया को दी जानकारी में यह बताया है कि रिलायंस पावर प्लांट को पूर्व में एश डाइक (वह बांध जिसमें प्लांट की राख और पानी भरा होता है) के संबंध में कारण बताओ सूचना पत्र कार्यालय कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी सिंगरौली के आदेश क्रमांक 3166 दिनांक 4 अक्टूबर 2019, आदेश क्रमांक 2381 दिनांक 22 अक्टूबर 2019 आदेश क्रमांक 3666 दिनांक 30 नवंबर 2019, आदेश क्रमांक 834 दिनांक 17 दिसंबर 2019 जारी किए गए थे। जिन पर उचित कार्रवाई न करने के कारण यह हादसा हुआ है। 

मुआवजा, नौकरी और कड़ी कार्रवाई का आश्वासन

कलेक्टर ने प्रेस को बताया है कि इस हादसे के लिए जिम्मेदार परियोजना अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा रिलायंस परियोजना द्वारा लिखित में दिया गया है कि वयस्क मृतक को 10 लाख रुपए एवं बच्चों के परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा। उत्तराधिकारी को नौकरी एवं आश्रित ₹7950 (शासकीय प्रचलित दर) जीवन निर्वाह भत्ता दिया जाएगा। 

शिवराज सिंह का लाडला है रिलायंस पावर प्लांट 

यहां बताना जरूरी है कि सिंगरौली में स्थापित हुआ रिलायंस पावर प्लांट मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का लाडला प्रोजेक्ट है। श्री शिवराज सिंह अपनी उपलब्धियों में गर्व के साथ इसका जिक्र करते हैं। इस को फायदा पहुंचाने के लिए सीएम श्री शिवराज सिंह ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को सिफारिश वाला पत्र भी लिखा था। 

दोस्ती तो कमलनाथ और दिग्विजय सिंह से भी है 

जब बात रिलायंस कंपनी से रिश्तो की हो रही है तो यह बताना भी जरूरी है कि राजनीति में रिलायंस के दोस्तों की लिस्ट में अकेले शिवराज सिंह का नाम नहीं आता बल्कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह का नाम भी आता है। लोग कहते हैं कि रिलायंस से सबसे अच्छी दोस्ती कमलनाथ की है। उन्होंने ही शिवराज के साथ रिलायंस के संबंध बनवाए थे।

about Sasan UMPP

Sasan Ultra Mega Power Plant or Sasan UMPP is one of the four Ultra Mega Power Projects planned by the Ministry of Power, Government of India. It is located in Sasan village of Singrauli, Madhya Pradesh. The total project value of Sasan UMPP is ₹25,186 Crore (₹251.86 Billion). The plant is operated by Sasan Power Limited, a subsidiary of Reliance Power Limited which was incorporated on 10 February 2006.

12 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कीबोर्ड के बटन ABCD (अल्फाबेटिकल) क्यों नहीं होते, क्या कोई रीजन है या गलती 
चेन पुलिंग करने पर बोगी का नंबर रेल पुलिस को कैसे पता चल जाता है 
इंदौर में मुसलमानों ने एडवांस में कब्रें खुदवा लीं, कब्रिस्तान में वेटिंग चल रही थी 
ग्वालियर बाजार अब 3 पार्ट में खोलने की तैयारी 
24 घंटे खुलेगी सब्जी की दुकान, किसानों के लिए भी नया प्लान: शिवराज सिंह चौहान 
पत्नी को धर्मपत्नी क्यों कहते हैं, क्या कोई लॉजिक है या बस मान-सम्मान के लिए 
शिक्षकों को कोरोना ड्यूटी पर लगाया, PPE और INSURANCE की मांग 
मध्य प्रदेश: 78 नए पॉजिटिव, कुल 529, 22 जिले, 14 गंभीर, 437 स्थिर | कोरोना बुलेटिन
रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर बनेगी एक विशेष सुरंग 
लॉक डाउन के बीच मंत्री नरोत्तम मिश्रा के भाई कुलसचिव नियुक्त 
मध्य प्रदेश में राष्ट्रपति शासन की मांग, सांसद विवेक तन्खा ने पत्र लिखा 
छिंदवाड़ा में पहचान छुपा कर रह रहे थे चार जमाती
पंचायत सचिवों ने भी 50 लाख का बीमा और PPE KIT मांगे 
मध्य प्रदेश: 12वीं की परीक्षा नहीं हुई फिर भी कॉलेज में एडमिशन मिलेगा 
कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की 
मध्यप्रदेश: हे! सरकार, प्रसिद्धि के अवसर बाद में भी आयेंगे 
आरक्षक आनंद कोरोना ड्यूटी करने 450km पैदल चलकर जबलपुर पहुंचे 
भिंड में जनधन के 5-5 सौ लेने गई महिलाएं 10-10 हजार का मुचलका भरके छूटीं (वीडियो देखें) 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here