Loading...    
   


इंदौर में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 250 तक जा सकती है लेकिन हालात नियंत्रण में: कलेक्टर | INDORE NEWS

इंदौर। मंगलवार को 17 नए पॉजिटिव के सामने आने के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने अधिकारियों की एक आपात बैठक बुलाई। इमरजेंसी मीटिंग के बाद कलेक्टर ने बताया कि करीब 300 सैंपल अभी भी लैब में हैं जिनकी जांच रिपोर्ट आना बाकी है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में इंदौर में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़ेगी। यह 200 या 250 के आसपास हो सकती है परंतु स्थिति नियंत्रण में है क्योंकि सभी संदिग्ध क्वॉरेंटाइन में ले लिए गए हैं। कोई भी समाज में खुला नहीं घूम रहा है। यह जो 17 पॉजिटिव आए हैं। सभी पहले से ही आइसोलेशन में है। 

कलेक्टर मनीष सिंह ने आपात बैठक बुलाई

शहर में मंगलवार को 17 और मरीजों में कोरोना की पुष्टि होने के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने आपात बैठक बुलाई। बैठक में आगे की परिस्थितियों को देखते हुए काम करने को कहा गया। कलेक्टर मनीष सिंह ने स्पष्ट कहा है कि प्रशासन हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम है। कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आने के पहले ही कोरोना संदिग्धों को क्वाॅरेंटाइन होम में सुरक्षित कर दिया गया था। इनका इलाज वहीं पर चल रहा है। उन्होंने लोगों से निर्देशों का पालन करने को कहा। साथ ही यह भी बताया की दूध के लिए घरों में जाकर आपूर्ति की व्यवस्था चालू कर दी गई है। कलेक्टर ने बताया कि कोरोना से बचाव का केवल एक ही रास्ता है और वह है लोग अपने घर में ही रहे।

इंदौर में सर्दी, खांसी वाले भी क्वाॅरेंटाइन किए जाएंगे

कलेक्टर ने बताया कि हमारे द्वारा पिछले दिनों क्वारेंटाइन किए गए मरीजों में से कुछ और की रिपोर्ट पॉजिटिव आ सकती है, लेकिन इसका एक पहलू यह है कि क्वारेंटाइन किए गए मरीजों में लगातार सुधार हो रहा है। हमारे लिए रानीपुरा, हाथीपाला और नयापुरा जैसे क्षेत्र चुनौतिपूर्ण हैं, लेकिन इस चुनौती से निपटने के लिए हम तैयार हैं। नए केस की लिस्ट आने के बाद इनके परिवार या रिश्ते में बचे हुए लोगों को भी क्वॉरेंटाइन किया जाएगा। हमने सर्वे टीम को मैदान में उतार दिया है। यदि किसी को सर्दी, खांसी भी होगी ताे उसे भी क्वाॅरेंटाइन किया जाएगा।

कल लिए गए 140 सैंपल जांच के लिए भेजे

सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि इंदौर में मंगलवार को जो 17 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ये वे हैं जिनके परिजन पहले से ही इस बीमारी की चपेट में हैं। संदिग्ध लगने पर इन्हें क्वॉरेंटाइन कर इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। भोपाल से हमारे द्वारा भेजे गए 40 सैंपल में यह आंकड़ा आया है। इन्हें मिलाकर इंदौर में अब पॉजिटिव की संख्या 44 हो गई है। हालांकि इनकी अभी लिस्ट नहीं आई है कि ये इंदौर के हैं या आसपास के जिलों के भी मरीज इनमें शामिल हैं। इनमे से तीन की मौत हो गई है। 

जितने भी पॉजिटिव हैं सब पहले से ही क्वॉरेंटाइन में है

हमने सोमवार को 140 सैंपल लिए थे। इसके पहले 144 लिए जा चुके थे। इस तरह से हमने अब तक 300 के करीब सैंपल लिए हैं। कल लिए गए सैंपल को आज जांच के लिए भेजा गया है। करीब डेढ़ सौ सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है। वहीं, उज्जैन के पांच मरीजों को मिलने पर यह संख्या 49 हो जाती है। प्रदेश में अब तक 64 मरीज हो चुके हैं। जड़िया के अनुसार पिछले दो दिनों से क्वॉरेंटाइन करने की संख्या बढ़ा दी गई है। अभी करीब 400 लोग क्वॉरेंटाइन में हैं। इसमें से कुछ पहली और कुछ दूसरी स्टेज में हैं। ये जो पाॅजिटिव आए हैं ये क्वारेंटाइन से ही आए हैं। यदि ये क्षेत्र में रहते तो संख्या और बढ़ती। समाज में यह नहीं फैले इसके लिए और ज्यादा क्वारेंटाइन किया जाएगा।

इंदौर सबसे संक्रमित शहरों की सूची में चौथे नंबर पर नंबर पर 

कोरोना संक्रमण से देश में 27 राज्य प्रभावित हैं। शहरों की बात करें तो 24 मार्च तक कोरोना मुक्त रहा इंदौर बीते छह दिनों में देश के सबसे संक्रमित शहरों की सूची में चौथे नंबर पर पहुंच गया है। 31 मार्च तक इंदौर में पॉजिटिव की संख्या 49 पहुंच गई है, इसमें पांच उज्जैन के संक्रमित भी हैं, जिनका इंदौर में इलाज चल रहा है। केरल में देश का पहला मरीज 30 जनवरी को सामने आया था। महाराष्ट्र और दूसरी जगहों पर मार्च के पहले और दूसरे हफ्ते में मरीजों का आना शुरू हुआ। इंदौर में मरीज बढ़ने की रफ्तार जो रविवार तक 380% थी, वह अब 880% हो गई है।

30 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें

फिर पुराने ट्रैक पर चल पड़े ज्योतिरादित्य सिंधिया, क्या फिर से ठोकर खाएंगे 
अंग्रेजी का सबसे लंबा और हिंदी का सबसे छोटा शब्द कौन सा है, क्या आप जानते हैं 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
ज्योतिरादित्य सिंधिया सर, 'तत्पर हूँ' से क्या तात्पर्य है, कृपया स्पष्ट कीजिए 
BSNL ने 6 लोकप्रिय प्रीपेड रिचार्ज प्लान महंगे कर दिए
सर्जरी के बाद डॉक्टर टांका लगाने कौन सा धागा यूज करते हैं 
यदि भोपाल में जरूरतमंदों को भोजन की जरूरत है तो यहां क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here