Loading...    
   


कोरोना संदिग्ध समझ शव नहीं ले जा रहे थे परिजन, 5 घंटे सड़क पर पड़ा रहा | MP NEWS

बैतूल। कोरोना वायरस के संक्रमण का आमजन में इतना भय हो गया है कि अब लोग किसी की सामान्य मौत होने के बाद भी उसके शव को हाथ लगाने से डर रहे हैं। ऐसी ही एक घटना बोरदेही थाना क्षेत्र के ग्राम बासखापा मैं सामने आई। जहां सड़क पर मृत पड़े ग्रामीण के शव को परिजन भी उठाने से परहेज करते दिखे। सूचना पर बोरदेही पुलिस ने ग्राम में पहुंचकर परिजनों को समझाया तो 5 घंटे बाद मृतक के परिजन शव को लेकर घर पहुंचे और अंतिम संस्कार किया।         

आमला विकासखंड की ग्राम पंचायत घाटावाडी कला के आश्रित ग्राम बासखापा निवासी अशोक आदिवासी 47 साल की गांव के रास्ते में अचानक तबीयत बिगड़ी और वह नीचे गिर पड़ा। घटना में अशोक की मौत हो गई। घटना स्थल गांव के आवासीय क्षेत्र में होने के चलते ग्रामीणों ने अशोक को जमीन पर मृत अवस्था में पड़ा देखा, लेकिन कोई भी उसके शव के पास नहीं आया। परिजनों को भी सूचना दी गयी, लेकिन वो भी शव के पास जाने के लिए तैयार नहीं हुए।

लगभग 5 घंटे तक शव सड़क पर ही पड़ा रहा। इसी दौरान बोरदेही थाने में सूचना मिली। सूचना पर टीआई अनिल पुरोहित ने पुलिस बल को गांव भेजा। पुलिस ने परिजनों को सूचना देकर मौके पर बुलाया और चर्चा कर उन्हें शव घर ले जाकर अंतिम संस्कार करने की समझाइश दी। परिजन पहले तो ना-नुकुर करते रहे, लेकिन बाद में शव ले जाने के लिए मान गए। 

बोरदेही थाना प्रभारी अनिल पुरोहित ने बताया अशोक की मौत संभवत: हृदयाघात से हुई है। सामान्य मौत होने के चलते मर्ग कायम नहीं किया। ग्राम पंचायत घाटावाली कला की सरपंच कमला बाई के पति ने भी घटना की पुष्टि करते हुए बताया मृतक किसान था उसके परिवार की एक महिला नर्स और एक परिजन टीचर है।


29 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें

सर्जरी के बाद डॉक्टर टांका लगाने कौन सा धागा यूज करते हैं 
मील के पत्थरों पर अलग-अलग रंग क्यों होता है, कोई संकेत है या पेंटर की मर्जी 
BIKE बंद कर देने के बाद TIK-TIK की आवाज क्यों आती है 
BSNL ने 6 लोकप्रिय प्रीपेड रिचार्ज प्लान महंगे कर दिए
फिर पुराने ट्रैक पर चल पड़े ज्योतिरादित्य सिंधिया, क्या फिर से ठोकर खाएंगे 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
HOW TO GET ONLINE TRANSIT E-PASS IN BHOPAL | भोपाल में ऑनलाइन ट्रांजिट ई-पास कैसे प्राप्त करें
ज्योतिरादित्य सिंधिया सर, 'तत्पर हूँ' से क्या तात्पर्य है, कृपया स्पष्ट कीजिए 
इंदौर में कोरोना संदिग्ध ने डॉक्टर पर थूका, पुलिस को गालियां देकर भगाया (वीडियो देखें) 
MP BOARD: कक्षा 1 से 8 तक के सभी विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन, 10वीं-12वीं शेष 
मध्यप्रदेश में 6वें कोरोना संदिग्ध की मौत, आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थी 
मध्यप्रदेश में सभी नागरिकों को 3 माह फ्री राशन: शिवराज सिंह चौहान 
VVIP कारों की प्लेट पर नंबर क्यों नहीं होते, कोई लॉजिक है या अकड़ दिखाने के लिए, पढ़िए
पूर्व सीएम कमलनाथ का सिक्योरिटी गार्ड कोेरोना संदिग्ध, भर्ती 
मप्र 7/39 की तबीयत में सुधार, दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आई 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here