MPPSC 2019-20 का रिजल्ट तैयार, सरकार के अभिमत का इंतजार

इंदौर
। MP Public Service Commission (मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग) Indore द्वारा राज्यसेवा मुख्य परीक्षा 2019 एवं राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 का रिजल्ट तैयार कर लिया गया है परंतु घोषित नहीं किया जा रहा क्योंकि एमपीपीएससी मैनेजमेंट को सरकार के अभिमत का इंतजार है। हाईकोर्ट में आरक्षण विवाद चल रहा है। आयोग ने सरकार से गाइडेंस मांगा परंतु सरकार ने आयोग को कोई जवाब नहीं दिया।

राजपत्रित अधिकारी के पद पर सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे मध्य प्रदेश के तीन लाख उम्मीदवार एमपी पीएससी 2019 और 2020 के रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं। नियमानुसार 2019 का रिजल्ट जारी होने के बाद 2020 की परीक्षा होनी चाहिए थी परंतु सरकार की पॉलिसी के चलते 2019 का रिजल्ट अब तक जारी नहीं हो पाया। हजारों उम्मीदवार ऐसे हैं जिन्हें डर है कि इंतजार और लंबा हुआ तो वे आयु सीमा के पैमाने पर प्रतिस्पर्धा से ही बाहर हो जाएंगे। 

राज्यसेवा मुख्य परीक्षा 2019 मार्च में आयोजित हुई थी। कोरोना संकट के कारण इस परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को पहले ही लंबा इंतजार करना पड़ा था। कई बार आगे बढ़ने के बाद जैसे-तैसे दूसरी लहर के बीच परीक्षा संपन्न हुई। उम्मीदवारों ने महामारी का सामना करते हुए परीक्षा भी दे दी। लेकिन रिजल्ट है कि घोषित नहीं हो रहा।

राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 भी 25 जुलाई को हो गई। 19 अगस्त से पीएससी ने फाइनल आंसर शीट जारी कर मूल्यांकन शुरू कर दिया था। इसके बाद एक सप्ताह में ही परिणाण घोषित भी हो जाना था। मप्र लोकसेवा आयोग ने साफ कर दिया है कि परीक्षा परिणाम में देरी के लिए आयोग जिम्मेदार नहीं है। आयोग ने आधिकारिक रूप से कहा है कि हमारी ओर से मूल्यांकन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है लेकिन प्रदेश में ओबीसी आरक्षण को लेकर कोर्ट में प्रकरण है। 

बीते दिनों सामान्य प्रशासन ने ओबीसी आरक्षण को लेकर विधिक अभिमत भी जारी किया है। उसमें पीएससी की परीक्षाओं को लेकर मत स्पष्ट नहीं किया गया है। इसके बाद पीएससी ने शासन को पत्र लिखा है कि आरक्षण के मसले पर आयोग को स्थिति स्पष्ट कर दें। हालांकि अब तक शासन की ओर से निर्देश नहीं मिले हैं। नतीजा रिजल्ट भी घोषित नहीं किए जा पा रहे हैं।

राज्य सेवा परीक्षा 2021 की घोषणा नहीं हो पा रही

पीएससी ने अपनी ओर से एडवांस कैलेंडर जारी कर सालभर में घोषित होने वाली रिक्तियों से लेकर परीक्षा के आयोजन का कार्यक्रम पूर्व घोषित कर दिया था। इस कैलेंडर के हिसाब से सितंबर में राज्यसेेवा परीक्षा 2021 की घोषणा होना है। हालांकि आधा सितंबर निकलने के बावजूद पीएससी ने अगली परीक्षा की घोषणा भी नहीं की है। वजह वही है कि शासन की ओर से आरक्षण पर बना भ्रम साफ नहीं किया जा रहा।

20 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- चयनित शिक्षकों की नियुक्ति व्यस्था के लिए आदेश जारी
MP COLLEGE ADMISSION- 10 लाख में से 8.50 लाख सीटें खाली, स्टूडेंट्स एडमिशन ही नहीं ले रहे
MP NEWS- चयनित शिक्षक अधीर, डिपार्टमेंट की तैयारियां अंतिम दौर में
MP BOARD NEWS- लो सिलेबस में भी संशोधन, त्रैमासिक परीक्षा के लिए, यहां पढ़िए
Google TV APP यहां से DOWNLOAD करें- सैकड़ों चैनल फ्री में देखने को मिलेंगे
BHOPAL NEWS- शासकीय उचित मूल्य दुकान के लिए आवेदन बुलाए
MP NEWS- चयनित शिक्षकों की नियुक्ति के लिए हलचल तेज
MP NEWS- 14 जिलों में आंगनवाड़ी मानदेय घोटाला, 94 अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ FIR
MP BOARD NEWS- त्रैमासिक परीक्षा का सिलेबस जारी, यहां पढ़िए
CTET REGISTRATION NEWS - नोटिफिकेशन जारी, परीक्षा की तारीख घोषित
GK in Hindi- जीभ पर कड़वा स्वाद थोड़ी देर से क्यों आता है जबकि मीठा पहले 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiदुर्योधन की पत्नी कौन थी, किसकी पुत्री थी और कैसे विवाह हुआ
GK in Hindiघड़ी की सुई उत्तर से दक्षिण क्यों घूमती है जबकि सूर्य पूर्व से पश्चिम जाता है
GK in Hindiशिवलिंग पर जल क्यों चढ़ाते हैं, कोई वैज्ञानिक कारण है या बस परंपरा
GK in Hindiगेहूं की रोटी में हवा कैसे भर जाती है, ज्वार और मक्का की रोटी में क्यों नहीं भरती
GK in Hindiजब अमेरिका 110V बिजली से जगमगाता है तो भारत में 220V बिजली सप्लाई क्यों की जाती है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here