सिर्फ माला पहनाना शादी नहीं- हाईकोर्ट ने लव मैरिज करके आए नव दंपति से कहा- GWALIOR MP NEWS

ग्वालियर
। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने आर्य समाज मंदिर में शादी के बाद सुरक्षा मांगने की याचिका खारिज कर दी। कोर्ट ने कहा-अग्नि के 7 फेरे लेने और विधि-विधान पूरा करने के बाद ही एक विवाह वैध माना जाता है, पर देखने में आ रहा है कि आर्य समाज मंदिर में शादी के बाद जोड़े कोर्ट में सुरक्षा के लिए याचिका दायर कर रहे हैं। ऐसी याचिका सुनवाई के योग्य नहीं हैं। कोर्ट ने यह भी कहा है कि सिर्फ मंदिर में एक दूसरे को माला पहनाना शादी नहीं है।

कोर्ट ने मुरैना निवासी नवविवाहित प्रेमी जोड़े की ओर से दायर याचिका पर उक्त टिप्पणी की है। कोर्ट ने यह भी कहा है कि याचिका में भी ऐसा कोई साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किया गया है, जिससे पता लगे कि उन्हें कहीं धमकी मिली है या वह पुलिस के पास गए हों, इसलिए इसे खारिज किया जाता है। हाईकोर्ट ने कहा कि इस तरह की याचिकाएं स्वीकार नहीं की जा सकती। पहले पुलिस से सुरक्षा की मांग करें। यह भी स्पष्ट होना चाहिए कि अपनी इच्छा से व्यवहार करने के कारण जान का खतरा उत्पन्न हुआ है।

16 अगस्त को प्रेमी जोड़े ने की थी शादी

मुरैना निवासी एक 23 साल के युवक ने 21 साल की युवती के साथ 16 अगस्त 2021 को ग्वालियर के लोहा मंडी किलागेट स्थित आर्य समाज मंदिर में प्रेम विवाह किया था। आर्य समाज से विवाह का प्रमाण पत्र भी दिया। इसके बाद दोनों ने हाईकोर्ट में अपनी सुरक्षा को लेकर एक याचिका दायर की थी। सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से तर्क दिया गया कि दोनों ने प्रेम विवाह किया है। उनके परिजन और अन्य लोग झूठी शिकायतें कर रहे हैं, उन शिकायतों पर कोई कार्रवाई न की जाए। वैवाहिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए उनको सुरक्षा प्रदान की जाए। उनकी जान को लोगों से खतरा है।

सुनवाई के बाद कोर्ट ने खारिज की याचिका

शासकीय अधिवक्ता दीपक खोत ने याचिका का विरोध करते हुए कहा कि याचिकाकर्ताओं की ओर से किसी भी थाने में सुरक्षा के लिए आवेदन नहीं दिया है। उन्हें किससे खतरा है, किसने धमकी दी है, कौन परेशान कर रहा है? यह भी नहीं बताया है। सीधे कोर्ट में याचिका दायर कर दी गई है, इसलिए यह याचिका सुनवाई योग्य नहीं लगती। पूरी सुनवाई के बाद कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी। 

16 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

पुलिस, शिक्षक, पटवारी भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी: CM शिवराज सिंह
MP NEWS- भ्रष्ट कर्मचारियों को नौकरी करने लायक नहीं रहने देंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
BHOPAL EXPRESS बड़े एक्सीडेंट से बची, लोको पायलट ने सैकड़ों यात्रियों को बचाया
GWALIOR NEWS- नगर निगम कमिश्नर और जिला पंचायत सीईओ बदले
INDORE NEWS- डांसिंग गर्ल के खिलाफ कार्रवाई होगी: गृह मंत्री ने कहा - MP NEWS
GWALIOR में फिल्म फेयर फेस्टिवल का आयोजन होगा, बड़ी खबर
MP NEWS- बच्चों का ऑक्सीजन लेवल गिर रहा है, रेफर किए जा रहे हैं
TWTA NEWS- शिक्षकों की ज्वलंत समस्याओं पर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का टाइम टेबल जारी, यहां पढ़िए
मध्य प्रदेश मानसून- सभी जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना, छत्तीसगढ़ी बादल आ गए हैं
CBSE NEWS- परीक्षा फॉर्म भरने के नियम बदले, पेरेंट्स को राहत

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiजब अमेरिका 110V बिजली से जगमगाता है तो भारत में 220V बिजली सप्लाई क्यों की जाती है
GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here