मध्य प्रदेश मानसून- सभी जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना, छत्तीसगढ़ी बादल आ गए हैं - MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। मौसम विभाग की तरफ से अलर्ट आया है, मौसम वैज्ञानिक लगातार नजर बनाए हुए। मध्यप्रदेश के आसमान पर छत्तीसगढ़ के बादल छा गए हैं। पिछले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 52 में से 50 जिलों में बारिश हुई है और आने वाले 24 घंटों में मध्य प्रदेश के सभी जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना है। इन बादलों का कोई मुहूर्त नहीं था। हवा के साथ बहते हुए निकल आए हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि उत्तर प्रदेश और राजस्थान की तरफ जा सकते हैं।

मध्य प्रदेश के 7 जिलों में मूसलाधार से भी ज्यादा बारिश का ऑरेंज अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग के भोपाल केंद्र द्वारा रीवा, सतना, नरसिंहपुर, सागर, दतिया, भिंड एवं छतरपुर जिला में भारी से भी अति भारी वर्षा के लिए यानी अधिकतम 204 एमएम बारिश का पूर्वानुमान लगाते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इसका तात्पर्य है कृपया आंधी और पानी से अपनी जान और माल की सुरक्षा की तैयारी कर ले। सभी प्रकार की यात्राओं को स्थगित कर दें। 

मध्य प्रदेश के 27 जिलों में मूसलाधार बारिश का येलो अलर्ट

भोपाल मौसम केंद्र द्वारा सीधी, सिंगरौली, डिंडोरी, जबलपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, पन्ना, दमोह, टीकमगढ़, निवाड़ी, शिवपुरी, मुरैना, श्योपुर, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, होशंगाबाद, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर, आगर मालवा, बैतूल और हरदा जिलों में भारी वर्षा का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

मध्य प्रदेश मौसम की खबर

मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बीते चौबीस घंटों के दौरान सबसे ज्यादा पानी हरदा में 4 इंच से ज्यादा गिरा। सिवनी और होशंगाबाद में भी 3-3 इंच तक बारिश हो गई। पहली बार तवा डैम फुल टैंक लेवल हो गया और उसके दरवाजे खोले गए हैं। भोपाल में एक इंच से ज्यादा और इंदौर में 1 इंच तक पानी गिर गया। पहली बार ऐसा हुआ जब 52 में से 50 जिलों में पानी गिरा है। मध्यप्रदेश में तवा डैम के अलावा सतपुड़ा, चंदोरा और पारसोड़ा डैम के गेट खोलने पड़े। हालांकि चंदोरा और पारसोड़ा डैम के गेट बंद हो गए हैं।

मध्य प्रदेश के 21 जिलों में बारिश का पूर्वानुमान

मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह के अनुसार अगले चौबीस घंटों के दौरान भी प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में बारिश होगी। अनूपपुर, डिंडौरी और बालाघाट में तेज बारिश होगी, जबकि सागर, विदिशा, भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद, दमोह, नरसिंहपुर, बैतूल, हरदा, बुरहानपुर, खरगोन, इंदौर, देवास, सीधी, छिंदवाड़ा, पेंच, सिवनी और जबलपुर में अगले कुछ घंटों में पानी गिरेगा।

मध्य प्रदेश में कहां-कहां हुई मूसलाधार बारिश

हरदा के खिरकिया में 4 इंच, बैतूल के भीमपुर, सीहोर के बुधनी, होशंगाबाद के पिपरिया, पचमढ़ी, सिवनी में करीब 3-3 इंच, बैतूल के प्रभातपट्टन और होशंगाबाद शहर, रायसेन के गौरहगंज, देवास के सतवास में 2-2 इंच तक पानी गिर गया। भोपाल शहर में करीब डेढ़ इंच बारिश रिकॉर्ड की गई। इसके अलावा सीधी, इंदौर, खजुराहो और धार में 1-1 इंच, रतलाम, सागर, रीवा, दमोह, खंडवा, बैतूल, उमरिया, रायसेन, मंडला और मलाजखंड में आधा-आधा इंच पानी गिरा। जबलपुर, नौगांव, श्योपुरकलां, ग्वालियर, दतिया, उज्जैन, टीकमगढ़, खरगोन, छिंदवाड़ा, गुना, और शाजापुर में भी बारिश रिकॉर्ड की गई।

15 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP CPCT EXAM APPLICATION LAST DATE- सीपीसीटी परीक्षा एवं रजिस्ट्रेशन की लास्ट डेट
प्रमोशन में आरक्षण NEWS- सुप्रीम कोर्ट में आज की कार्यवाही का विवरण - MP EMPLOYEE NEWS
MP NEWS- आउटसोर्स कर्मचारियों का वेतन रोकने वाली एजेंसी के खिलाफ कार्यवाही के निर्देश
MP NEWS- मुख्यमंत्री ने सीएमओ और इंजीनियर को सस्पेंड किया, भ्रष्टाचार की जांच के आदेश
BHOPAL NEWS- डस्टबिन में फेंके पुराने मोबाइल से हुई थी ब्लैकमेलिंग
MP SCHOOL OPEN NEWS- प्राइमरी और मिडिल स्कूल भी खुलेंगे, आदेश जारी, पढ़िए
INDORE NEWS- बर्थडे वाले दिन गर्लफ्रेंड ने चौराहे पर थप्पड़ मारा, FIR दर्ज कराई
1 साल में दोगुनी हो गई मोबाइल रिचार्ज की कीमत, फिर से मिस कॉल का जमाना आने वाला है
डेंगू क्या है, कैसे फैलता है, कैसे पहचाने और कैसे बचें - What Is Dengue, How does It spreads
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का टाइम टेबल जारी, यहां पढ़िए
मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन - MP CABINET MEETING OFFICIAL REPORT
MPPEB NEWS- ढाई लाख युवाओं को कभी नौकरी नहीं मिलेगी, गलती पीईबी की, सजा बेरोजगार भुगतेंगे

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiसोने के सिक्के को मोहर, तो चांदी और तांबे के सिक्के को क्या कहा जाता है
GK in Hindiमछली पानी में रहती है, फिर उसमें से बदबू क्यों आती है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here