BHOPAL NEWS- हड़ताली डॉक्टरों के खिलाफ FIR करवाएंगे: GMC के डीन ने कहा

भोपाल
। हमीदिया अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं सहित सभी कार्य सुचारू रूप से जारी हैं और जूनियर डॉक्टर्स के एक धड़े द्वारा की गई हड़ताल के कामकाज तथा स्वास्थ्य सेवाओं पर कोई भी प्रभाव नहीं पड़ा है। गांधी मेडिकल कॉलेज के अधिष्ठाता डॉ. जितेंद्र शुक्ला ने बताया है कि हड़ताली जूनियर डाक्टर्स संगठन के पदाधिकारियों के विरूद्ध हॉस्टल के कमरे खाली करवाने और एफआईआर दर्ज करवाने की कार्यवाही भी की जा जाएगी।

जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल का भोपाल में कोई असर नहीं: GMC डीन का दावा

डॉ. शुक्ला ने बताया कि हमीदिया अस्पताल में आपातकालीन चिकित्सा सेवाएँ, ओपीडी, सभी निर्धारित आपरेशन और जांच आदि पूर्ववत हैं और पीजी छात्रों के एक धड़े द्वारा की गई हड़ताल का इस पर कोई असर नहीं पड़ा है। उन्होंने बताया कि अस्पताल के विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष डाक्टर्स ने भी किसी भी तरह से कार्य प्रभावित होने से इंकार करते हुए कहा है कि मरीजों को सभी स्वास्थ्य सेवाएँ बेहतर तरीके से दी जा रही हैं।

शुक्रवार से 150 डॉक्टर्स चार्ज ले लेंगे

डीन डॉ. शुक्ला ने बताया कि हमीदिया अस्पताल की स्वास्थ्य सेवाओं को सतत और उत्कृष्ट रखने के लिए आसपास के जिलों से 125 से 150 डॉक्टर्स को हमीदिया अस्पताल से सम्बद्ध किया गया है। अब तक 34 मेडिकल ऑफिसर्स और आयुष चिकित्सकों ने अपनी उपस्थिति देकर स्वास्थ्य सेवाएँ संभाल ली हैं। उन्होंने बताया कि आज रात और शुक्रवार की सुबह तक बाकी डॉक्टर्स भी हमीदिया में अपनी उपस्थिति देकर काम संभाल लेंगे।

सभी जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर नहीं, 120 सेवाएँ दे रहे हैं

डीन डॉ. शुक्ला ने कहा है कि इस हड़ताल में सभी पीजी छात्र शामिल नहीं हैं। अभी 120 छात्र हमीदिया अस्पताल में पहले की तरह सतत सेवाएँ दे रहे हैं। उन्होंने दावा किया है कि यह हड़ताल एक गुट द्वारा एस्मा लागू होने के बावजूद भी की जा रही है, जो पूर्णत: अवैधानिक है।

हड़ताली डॉक्टरों ने हॉस्टल खाली नहीं किया तो पुलिस की मदद लेंगे: डॉक्टर शुक्ला

डॉ. शुक्ला ने मुताबिक एस्मा के उल्लंघन करने पर हड़ताली पीजी छात्रों के संगठन के पदाधिकारियों पर प्राथमिकी भी दर्ज कराई जा सकती है। उन्होंने बताया कि गांधी मेडिकल कॉलेज स्थित छात्रावास में निवासरत इन छात्रों के कक्षों पर नोटिस भी चस्पा कर दिया गया है। यदि उन्होंने कक्ष रिक्त नहीं किया तो प्रशासन के सहयोग से रिक्त कराने की कार्यवाही की जायेगी।

हड़ताली जूनियर डॉक्टरों के रजिस्ट्रेशन रद्द कराने की भी होगी कार्यवाही

डीन ने बताया कि एस्मा लागू होने के बावजूद पीजी छात्रों के एक गुट द्वारा की जा रही हड़ताल को कालेज प्रबंधन ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने बताया कि ऐसे सभी हड़ताली पीजी छात्रों के एडमिशन और रजिस्ट्रेशन रद्द करने अनुशासन समिति को अनुशंसा की जाएगी। उन्होंने कहा कि समिति इस पर नियम अनुसार कार्यवाही करेगी।

10 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले समाचार

GWALIOR HC NEWS- फर्जी केस बनाकर फांसी दिलवा दी, TI, SI, गवाह और फरियादी के खिलाफ FIR का आदेश
MP GOVT JOB- रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू, 27% OBC आरक्षण देंगे
मध्यप्रदेश में चयनित शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया सोमवार से: स्कूल शिक्षामंत्री ने कहा
मध्य प्रदेश मानसून- 18 जिलों में भारी बारिश, पूरे प्रदेश में आकाशीय बिजली का अलर्ट जारी
MPPSC EXAM NEWS- स्टेट इंजीनियरिंग सर्विस परीक्षा की तारीख बदली
पत्नी की क्रूरता से पति का 21 किलो वजन घटा, तलाक मंजूर - NATIONAL NEWS
वास्तु दोष का निवारण मात्र ₹10 में, आप खुद कर सकते हैं- VASTU TIPS for HOME
दुबले पतले शरीर का वजन कैसे बढ़ाएं - HOME REMEDIES and DIET PLAN for WEIGHT GAIN
अतिथि शिक्षक भर्ती- एकीकृत शालाओं के मामले में क्या करें, कन्फ्यूजन 
MP NEWS- एक रिक्त पद पर 9 शिक्षकों का ट्रांसफर, और भी है शिक्षा विभाग के कमाल
सहायक प्राध्यापक भर्ती- हाईकोर्ट ने दिव्यांगों को 1 माह में नियुक्ति के आदेश दिए
Khula Khat- PORTAL पर गलत जानकारी के कारण अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पा रही

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiभारत की एक ऐसी जगह जहां आज भी ब्रिटिश सरकार का राज है
GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
GK in Hindiदर्पण के पीछे कौन सा पदार्थ लगा होता है, जो पारदर्शी से परावर्ती बन जाता है 
GK in Hindiभगवान विष्णु विश्राम मुद्रा में क्यों रहते हैं, सिंहासन पर क्यों नहीं बैठते
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here