मध्य प्रदेश मानसून- ग्वालियर में मूसलाधार, 6 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी - MP WEATHER FORECAST

भोपाल
। मध्य प्रदेश के ग्वालियर चंबल संभाग में सभी नदी नालों में बाढ़ आई हुई है। सैकड़ों गांव और हजारों लोग बाढ़ की चपेट में है। लोकल पुलिस, होमगार्ड और NDRF के अलावा एयर फोर्स और इंडियन आर्मी रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं। इस सब के बीच मौसम विभाग की तरफ से चिंता बढ़ाने वाली खबर है कि ग्वालियर में मूसलाधार एवं 6 जिलों में भारी वर्षा की संभावना है।

GWALIOR-CHAMBAL में मौसम खराब रहेगा- आसमान से आफत बरसेगी 

भारत मौसम विज्ञान विभाग के भोपाल केंद्र द्वारा दिनांक 5 अगस्त 2021 के लिए जारी किए पूर्वानुमान के अनुसार ग्वालियर जिले में ज्यादातर क्षेत्र में मूसलाधार बारिश होगी। इसके साथ ही आकाशीय बिजली यानी वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है। ग्वालियर चंबल संभाग के अन्य जिले अशोकनगर, गुना, शिवपुरी, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुर, में कई इलाकों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है।

सामान छोड़ें, जान बचाएं- इमरजेंसी वाले हालात हैं 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली से तत्काल वापस आ गए। श्योपुर में इमरजेंसी वाले हालात हैं। पुल टूट जाने के कारण सड़क मार्ग के माध्यम से संपर्क खत्म हो गया है। टेलीफोन एवं मोबाइल काम नहीं कर रहे हैं। बिजली बंद पड़ी हुई है। 48 घंटे से ज्यादा हो गया। मुरैना एवं भिंड में बरसाती नदी नालों में बाढ़ की संभावना है। शिवपुरी और दतिया के हालात में थोड़ा सुधार जरूर हुआ है परंतु मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार राहत की सांस नहीं ली जा सकती। 

पूरे ग्वालियर चंबल संभाग पर खतरा बरकरार है। ऐसे नागरिक जो बरसाती नदी नालों के आस पास रहते हैं अथवा किसी ऐसी जगह पर रहते हैं जहां किसी पुल के टूट जाने पर पानी भरने की संभावना है। बेहतर होगा अगले 48 घंटों के लिए किसी सुरक्षित स्थान पर चले जाएं। सामान छोड़ें, जान बचाएं।

मध्यप्रदेश में बादल छाए रहेंगे, हल्की फुल्की बारिश होगी 

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार पूरे मध्यप्रदेश में मानसून के बादल छाए रहेंगे। सूर्य नारायण के दर्शन होने की संभावना काफी कम है। ज्यादातर इलाकों में हल्की फुल्की बारिश होती रहेगी। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश के 30% से ज्यादा हिस्से में पिछले 10 दिनों से सूरज के दर्शन तक नहीं हुए हैं। दीवारों में सीलन और घरों में नमी बैठने लगी है।

05 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- गृह मंत्री मिश्रा ने बाढ़ में फंसे 9 लोगों को बचाने जान जोखिम में डाल दी
MP NEWS- विधायक के फर्जी लेटर हेड वाला रैकेट पकड़ा गया
GWALIOR NEWS- अंचल में 400 साल पुराने पुल खड़े हैं, 4 साल पुराने पुल कैसे बह गए
GWALIOR NEWS- बड़ी बहन को देखने आया लड़का, छोटी बहन का रेप कर भागा
MP NEWS- ट्रांसफर मांगने वाले 1800 असिस्टेंट प्रोफेसर्स को मंत्रीजी की ना
MP NEWS- कर्मचारियों के तबादले की लास्ट डेट फिर बढ़ाई जाएगी
MP CORONA NEWS- दमोह और सागर से उठ रही है तीसरी लहर, मुख्यमंत्री चिंतित
MP NEWS- श्योपुर का मध्य प्रदेश से कनेक्शन कट, कूनो का पुल टूटा
MP NEWS- शर्ट उतारकर अमर्यादित प्रदर्शन, 44 पंचायत कर्मचारियों के खिलाफ FIR
MP NEWS- नगरीय निकायों में प्रतिनियुक्ति पर मलाई काट रहे 800 प्रभारी अधिकारियों की लिस्ट तैयार
EMPLOYEE NEWS- वनविभाग छिंदवाड़ा, सिवनी के श्रमिकों के विनियमितीकरण प्रकरण पर कार्रवाई करें: हाईकोर्ट 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiअंधेरा होने पर भी मच्छरों को हमारी लोकेशन कैसे मिल जाती है 
GK in Hindiरत्ती भर शर्म में, रत्ती से क्या तात्पर्य होता है, पढ़िए मजेदार जानकारी
GK in Hindiसाबुन, शैंपू या टूथपेस्ट सबके झाग सफेद क्यों होते हैं, जबकि कलर अलग-अलग होते हैं
GK in Hindiठंड और डर दोनों के कारण रोंगटे खड़े हो जाते हैं, ऐसा क्यों
GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here