MP NEWS- नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी, 1869 अवैध कॉलोनियों के लिए अध्यादेश तैयार

भोपाल
। मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार कोरोनावायरस की तीसरी लहर की रोकथाम की गतिविधियों के बीच नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियां भी कर रही है। इसी के चलते मध्य प्रदेश की 1869 अवैध कालोनियों को वैध करने के लिए अध्यादेश तैयार कर लिया गया है। जिसे कैबिनेट की मीटिंग में मंजूरी के लिए रखा जाएगा। उल्लेखनीय है कि हाईकोर्ट के एक आदेश के बाद अवैध कालोनियों को वैध करने की प्रक्रिया रुक गई थी। 

हाईकोर्ट के आदेश के बाद दिनांक 3 जून 2019 से आज तक मध्य प्रदेश में कोई भी अवैध कॉलोनी को नियमित नहीं किया गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश में 5000 अवैध कॉलोनियों को वैध किया जा चुका था। शिवराज सिंह सरकार ने नगरीय निकाय चुनावों को देखते हुए इस समस्या का समाधान खोज लिया है। क्योंकि अभी कोई विधानसभा के मानसून सत्र की तारीखें घोषित नहीं की गई है इसलिए डिसाइड किया गया है कि अध्यादेश को मंजूरी के लिए कैबिनेट में रखा जाएगा।

दिसंबर 2016 तक के निर्माण शामिल होंगे 

मध्य प्रदेश नगर पालिका (कॉलोनाइजर का रजिस्ट्रीकरण, निर्बंधन तथा शर्तें) नियम 1998 में नियम 15-क जोड़ा गया था। इसमें 31 जून 1998 तक विकसित अनाधिकृत कॉलोनियों तथा उसमें भूखंडों पर अवैध निर्माण का शुल्क लेकर नियमितीकरण करने का प्रविधान था। इस समय सीमा को पहले 30 जून 2002 तक फिर 31 दिसंबर 2016 तक बढ़ाया गया था।

यह होगा फायदा

- बैंक से भूखंड पर ऋण ले सकेंगे।
- सड़क, बिजली, पानी सहित अन्य सुविधाएं नगरीय निकायों के माध्यम से मिल सकेंगी।
- स्वीकृत नक्शे से अधिक निर्माण यदि 20 फीसद तक है तो उसे समझौता शुल्क लेकर मान्य किया जाएगा। इससे अधिक को तोड़ा जाएगा।
- निकायों की आय बढ़ेगी और विवाद भी खत्म होंगे।

सख्ती भी होगी

- बिना डिवेलप की गई कॉलोनी बनाने वाले कॉलोनाइजर के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। सात साल की सजा और दस लाख रुपये का जुर्माना लगाया जा सकेगा। रहवासी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी।
- कॉलोनाइजर यदि जुर्माने की राशि नहीं चुकाते हैं तो बैंक गारंटी या संपत्ति कुर्क करके वसूली की जाएगी।
- यदि अवैध निर्माण होता है तो संबंधित नगरीय निकाय के अधिकारियों की जिम्मेदारी भी तय होगी।

04 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- यशोधरा राजे को ऊर्जा मंत्री का जवाब- खंभे पर चढ़ने से विभाग ठीक हो गया
INDORE NEWS- विधायक जीतू पटवारी भड़के, मुख्यमंत्री की बैठक में नहीं बुलाया था
BANK FD वालों के लिए जरूरी सूचना, सतर्क रहें नहीं तो ब्याज कम हो जाएगा
BHOPAL NEWS- पुलिस ने लात मार कर BIKE गिराई, महिला की मौत
INDORE NEWS- मंत्री उषा ठाकुर से पंगा महंगा पड़ा, डिप्टी रेंजर सस्पेंड
MP CORONA NEWS- 8 जिलों से उठ रही है तीसरी लहर, लगातार 5वें दिन संक्रमण बढ़ा
IFMIS TRANFER कर्मचारी ऑनलाइन आवेदन करें
BHOPAL NEWS- आंगनवाड़ी केंद्र में छात्रा का 9 महीने तक गैंगरेप
NATIONAL NEWS- गरीबों को सब कुछ फ्री में दिया तो वह कभी काम नहीं करेंगे: हाई कोर्ट
MP EMPLOYEE NEWS- शिक्षा विभाग की स्वैच्छिक स्थानांतरण नीति जारी करने की मांग 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
FARMS APP यहां से DOWNLOAD करें, कृषि उपकरण किराए पर मिलेंगे
MP VanMitra App यहां से Download करें, वनाधिकार पट्टा वितरण के लिए अनिवार्य
GK in Hindiबारिश की बूंदे गोल क्यों होती है, लंबी क्यों नहीं होती 
GK in Hindiमुर्गा सूर्योदय से पहले बांग क्यों देता है, कभी लेट क्यों नहीं होता
GK in Hindiमनुष्य की दो आंखें क्यों होती है जबकि एक आंख से भी पूरा दिखाई देता है
GK IN HINDI- BIKE का इंजन CC में क्यों होता है, हॉर्स पावर में क्यों नहीं होता
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here