MP BOARD- 10th-12th परीक्षा सिस्टम बदलने की तैयारी

Madhya Pradesh Board of Secondary Education ने 10वीं हाई स्कूल एवं 12वीं हाई सेकेंडरी स्कूल के परीक्षा सिस्टम को बदलने की प्रक्रिया पर विचार करना शुरू कर दिया है। कोरोनावायरस संकट की कोई एक्सपायरी डेट नहीं होने के कारण एग्जाम सिस्टम में चेंजेस करना जरूरी माना जा रहा है। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश, भोपाल के विशेषज्ञों का मानना है कि सीबीएसई ने जो डिसीजन लिया है वह समय के अनुसार एकदम सही है। 

एमपी बोर्ड के सामने चुनौती: स्कूल बंद रहेंगे तो फिर परीक्षा कैसे कराएंगे

मध्य प्रदेश में कोरोना के चलते पिछले साल (वर्ष 2020 में) तमाम परीक्षाएं प्रभावित हुईं, तो इस साल परीक्षाएं कराई नहीं जा सकीं। खासकर 10वीं और 12वीं की परीक्षा के परिणाम को लेकर ऐसे हालात बन गए कि सरकार को निर्णय लेने में काफी समय लग गया। अब कोरोना की तीसरी लहर की आशंका सता रही है। बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर राज्य सरकार ने आशंका का समाधान होने तक स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया है।

तीसरी लहर के कारण परीक्षा स्थगित करनी पड़ी तो क्या होगा

जाहिर है, ऐसे में पढ़ाई फिर प्रभावित होगी और पिछली दो लहरों की तरह तीसरी लहर का प्रभाव परीक्षा के समय तक रहा, तो स्थिति और विकट हो जाएगी। सूत्र बताते हैं कि इसलिए साल में दो परीक्षा (50-50 फीसद पाठ्यक्रम के आधार पर) कराने का विकल्प सभी को रास आ रहा है।

इस साल वाले फार्मूले पर अगले साल काम नहीं चल पाएगा

हालांकि अभी इस पर विस्तार से चर्चा शुरू नहीं हुई है, मगर ऐसा होता है, तो आने वाले साल (वर्ष 2022) में इस साल जैसे (वार्षिक परिणाम के लिए अंक नहीं मिलने) हालात नहीं बनेंगे। उल्लेखनीय है कि इस साल 12वीं की छह माही, प्री-बोर्ड परीक्षाएं ठीक से नहीं कराई जा सकीं। इस कारण वार्षिक परीक्षा परिणाम के लिए माशिम को अंक तक नहीं मिले और मजबूरी में हाईस्कूल परीक्षा 2019 के आधार पर काल्पनिक अंक देकर परिणाम तैयार करना पड़ रहा है।

MP BOARD परीक्षा सिस्टम बदलना ही पड़ेगा

जानकार बताते हैं कि राज्य सरकार ने सीबीएसई का विकल्प अपनाया, तो यह दशकों पुरानी परीक्षा प्रणाली बदल देगा। इससे अच्छा यह होगा कि विद्यार्थी आधा पाठ्यक्रम पढ़ें और परीक्षा दें, शेष आधे पाठ्यक्रम की परीक्षा दूसरी बार। फिर दोनों के अंक जोड़कर परिणाम तैयार। इससे बस्ते का बोझ भी कम हो जाएगा और विद्यार्थी परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन भी कर पाएंगे।

07 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

EMPLOYEE NEWS- DA-DR पेमेंट की तारीख तय, बकाया किस्त भी मिलेगी
MP COLLEGE NEWS- 177 प्रोफेशनल डिप्लोमा और 282 सर्टिफिकेट कोर्स
DAVV ADMISSION- डिप्लोमा और सर्टिफिकेट सहित UG-PG के 72 से ज्यादा कोर्स में रजिस्ट्रेशन शुरू
GENERAL KNOWLEDGE- कौन है मंगूभाई छगनभाई पटेल, मध्य प्रदेश के नए राज्यपाल
MP CABINET MEETING- मप्र कैबिनेट मीटिंग का आधिकारिक प्रतिवेदन
MP BOARD- 12वीं के रिजल्ट का फार्मूला फेल, हजारों छात्रों का परीक्षा परिणाम अटका
GWALIOR NEWS- नवविवाहिता का वर्जिनिटी टेस्ट करवाने वाले ससुराल के खिलाफ मामला दर्ज
BHOPAL NEWS- EWS सर्टिफिकेट के लिए अब किसी के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे
MPMSU NEWS- सभी परीक्षाएं निरस्त, पढ़िए अब क्या होगा
MP NEWS- भाजपा की एक चाल से कमलनाथ कमजोर, एक पद छोड़ने का दबाव
BHOPAL NEWS- कोरोना मृतकों की राख लोगों की जान बचाएगी
STORY- माधवराव सिंधिया नहीं चाहते थे ज्योतिरादित्य सिंधिया महाराज बनें
MPMSU NEWS- भोपाल वाली मैडम बचा नहीं पाईं, वृंदा और तृप्ति की प्रतिनियुक्ति खत्म, क्लर्क सस्पेंड, कंपनी टर्मिनेट 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiपानी से आग बुझ क्यों जाती है जबकि उसमें 2 हाइड्रोजन 1 आक्सीजन होते हैं
GK in Hindiसौर मंडल के 7 ग्रहों का फायदा ही क्या जब इन पर कोई रह नहीं सकता
GK in Hindi मोर अपना घोंसला कहां बनाता है, पेड़ के ऊपर या किसी गुफा में 
GK in Hindiसड़क किनारे वृक्षों पर सफेद पेंट क्यों किया जाता है, वैज्ञानिक कारण 
GK in Hindiबर्फ का टुकड़ा पानी में तैरता है तो फिर शराब में क्यों डूब जाता है 
GK in Hindiमुर्गा सूर्योदय से पहले बांग क्यों देता है, कभी लेट क्यों नहीं होता
GK in Hindiमनुष्य की दो आंखें क्यों होती है जबकि एक आंख से भी पूरा दिखाई देता है
GK IN HINDI- BIKE का इंजन CC में क्यों होता है, हॉर्स पावर में क्यों नहीं होता
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here