Loading...    
   


कृषि मंत्री क्या विधानसभा में शराब पीकर बोल रहे थे: जीतू पटवारी ने पूछा - MP NEWS

भोपाल।
पूर्व कैबिनेट मंत्री श्री जीतू पटवारी का नशीले पदार्थों खासकर शराब से काफी गहरा रिश्ता है। जब कन्यादान योजना के तहत मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार की तरफ से दी जाने वाली उपहार राशि बढ़ाकर 51000 की थी, तब जीतू पटवारी ने बताया था कि जो ₹20000 बढ़ाए गए हैं वह विवाह में शामिल अतिथियों की शराब के लिए हैं। आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने एक बार फिर ऐसा ही कुछ बयान दिया है।

शनिवार को पीसीसी दफ्तर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कृषि मंत्री कमल पटेल पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। उन्होंने कहा कि कमल पटेल पांच बार FIR कराने की बात बोल चुके हैं, लेकिन कराई एक बार भी नहीं। जब सदन में कमल पटेल कर्जमाफी के सवाल का जबाब दे रहे थे तो क्या उस वक्त शराब पीकर या भांग खाकर बोल रहे थे।

जीतू पटवारी ने कहा कि ‘आदरणीय कमल पटेल का मानस या उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है या उनका अध्ययन ठीक नहीं है। कमल पटेल कहां थे, जब वो सदन में जवाब दे रहे थे कि कांग्रेस सरकार ने 27 लाख किसानों का कर्जामाफ किया तो या तो जब वो नशे में थे, या जब बोल रहे थे और बेहोश थे। खुद अपनी एक बात पर वो कायम तो हों। ऐसा कृषि मंत्री कैसे प्रदेश के किसानों की रक्षा कर सकता है।’

ऐसे अपरिपक्व मंत्री को कैबिनेट से हटा देना चाहिए

जीतू पटवारी ने आगे कहा- ‘मैं शिवराज सिंहजी से अनुरोध करना चाहता हूं कि ऐसे अपरिपक्व मंत्री को मंत्रिमंडल से हटा देना चाहिए या इस्तीफा ले लेना चाहिए। वरना जनता तो तैयार है, वो खुद ही हटा देगी।’ पटवारी पत्रकारों के उस सवाल का जवाब दे रहे थे, जिसमें पूछा गया था कि कमल पटेल ने शुक्रवार को कहा था कि कमलनाथ और राहुल गांधी के किसानों के मामले में झूठ बोलने के लिए माफी नहीं मांगेंगे तो वह उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे। 

26 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here