Loading...    
   


BHOPAL का हमीदिया अस्पताल फुल, चिरायु में वेटिंग, AIIMS वीआईपी के लिए आरक्षित - MP NEWS

भोपाल
। भोपाल शहर में कोरोनावायरस संक्रमित हो रहे आम नागरिकों के लिए अस्पतालों में कोई जगह नहीं बची है। गंभीर स्थिति वाले मरीजों को एडमिट कराने के लिए परिजनों को पापड़ बेलने पड़ रहे हैं। भोपाल का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल हमीदिया हॉस्पिटल का आईसीयू फुल हो चुका है। चिरायु हॉस्पिटल के आईसीयू में लगभग 12 घंटे की वेटिंग चल रही है। एम्स हॉस्पिटल मध्य प्रदेश भर के वीआईपी मरीजों के लिए आरक्षित है। भोपाल शहर के सामान्य नागरिकों को इमरजेंसी में एडमिट नहीं किया जा रहा। 

आज दिनांक तक हमीदिया अस्पताल में कोविड मरीजों के लिए आईसीयू में 40 बेड ही उपलब्ध हैं, जो सितंबर की शुरुआत से लगातार फुल चल रहे हैं। यदि किसी मरीज की स्थिति बहुत खराब है तब भी उसे वापस लौटा दिया जाता है। यही हाल है एम्स हॉस्पिटल का है। मध्य प्रदेश भर के द्वितीय श्रेणी के अधिकारी एवं नेता यहां इलाज के लिए भर्ती हो रहे हैं। आम आदमी जिसके पास कोई पॉलिटिकल बैकअप नहीं है, एम्स में भर्ती नहीं किया जा रहा। चिरायु अस्पताल में मरीजों को इनकार नहीं किया जा रहा है परंतु लगभग 12 घंटे की बैटिंग का आग्रह किया जाता है जबकि डॉक्टरों का कहना है कि कोरोनावायरस से संक्रमित मरीज की यदि स्थिति ठीक नहीं है तो उसे तत्काल हाईफ्लो ऑक्सीजन की जरूरत है। ऐसे मरीज मात्र 2 घंटे में मृत्यु की स्थिति तक पहुंच जाते हैं।

हमीदिया अस्पताल में कोविड मरीजों के लिए 320 बेड का वार्ड बनाया गया है, जहां पर ब्लॉक A और B में 100 फीसदी ऑक्यूपेंसी है, वहीं ब्लॉक C में 100 बेड में महज 34 बेड खाली हैं (केवल पॉलिटिकल एप्रोच वालों को आवंटित किया जाता है)। हमीदिया अस्पताल में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों के लिए नया आईसीयू वार्ड बनाया जा रहा है। कमिश्नर कविंद्र कियावत ने अस्पताल में तैयार हो रहे आईसीयू वार्ड का जायजा लिया। वहीं दूसरी ओर टीवी अस्पताल के 100 बिस्तर कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित कर दिए गए हैं।

हमीदिया हॉस्पिटल: ऑक्सीजन तो है परंतु इमरजेंसी के बंदोबस्त नहीं है

हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक डॉक्टर आईडी चौरसिया ने बताया कि अस्पताल के कोविड वार्ड में 6 बेड बढ़ाए गए हैं और तीन अतिरिक्त कक्षों को भी कोविड वार्ड में तब्दील करने की योजना है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। हमारे 320 बेड के कोविड वार्ड में अब हमारे पास इमर्जेंसी मरीजों को रखने की जगह नहीं है, ऐसे में यहां के सामान्य मरीजों को टीबी अस्पताल शिफ्ट करेंगे।

डी ब्लॉक में 100 बिस्तर का वार्ड बनवा रहे हैं

गांधी मेडिकल कॉलेज के नए भवन के डी-ब्लाक में भी 100 बिस्तर के अतिरिक्त वार्ड को तैयार करने के लिए कहा है। उन्होंने निर्माण एजेंसी से कहा है कि कोरोना संकटकाल को देखते हुए काम को कोऑर्डिनेशन के साथ पूरा करें। यह कब तक बनकर तैयार हो जाएगा फिलहाल प्रेस को नहीं बताया गया।

संक्रमित हुए डॉक्टरों को गर्ल्स हॉस्टल में आइसोलेट करेंगे

कमिश्नर कविंद्र कियावत ने डॉक्टरों की मांग पर गांधी मेडिकल कॉलेज में नव-निर्मित गर्ल्स हॉस्टल को एक सप्ताह में व्यवस्थित कर पुराने हॉस्टल से छात्राओं को यहां पर शिफ्ट किया जा सके, जिससे अस्पताल में कोरोना मरीजों के इलाज के दौरान बीमार होने वाले डॉक्टरों को आईसोलेट करने के लिए जगह उपलब्ध हो सके। उन्होंने नवीन नर्सिंग हॉस्टल और लाइब्रेरी भी शिफ्ट कर हफ्तेभर में शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

10 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPTET-3 EXAM 2020: वर्ग 3 का परीक्षा कार्यक्रम घोषित
SCHOOL OPEN: स्कूल खोलने के लिए सरकार ने SOP जारी किया
BF ने GF से कैंसर पीड़ित पिता के लिए खून बदले आबरू ले ली
इंडियन आर्मी की यूनिफार्म का कलर ग्रीन क्यों होता है
यदि दामाद अपनी पत्नी को मायके वालों से मिलने ना दे तो किस धारा के तहत मामला दर्ज होगा
MP BOARD हायर सेकेण्डरी/हा.से.व्यावसायिक एवं हाईस्कूल पूरक परीक्षा कार्यक्रम
MP NEWS: आंध्र प्रदेश से आए बादल मध्य प्रदेश के 21 जिलों में बरसेंगे
GWALIOR के भाजपा नेता सतीश सिकरवार कांग्रेस में शामिल, उपचुनाव चुनाव लड़ेंगे
इलेक्ट्रिक करंट कब झटके मारता है और कब चिपका लेता है, ध्यान से पढ़िए
INDORE में स्कूल ने बेटे को क्लास से निकाला, माँ ने पिता को जीवन से निकाल दिया
स्पेशल ट्रेन के नाम पर दोगुना किराया वसूली कर रहे थे, अब यात्री ही नहीं मिल रहे
20-50 फार्मूला पर अनिवार्य सेवानिवृत्ति: सुप्रीम कोर्ट के निर्णयों पर आधारित स्थापित सिद्धांत
कंप्यूटर के मेन बोर्ड को मदर बोर्ड क्यों कहते हैं फादर बोर्ड क्यों नहीं कहते हैं
DAVV NEWS: फर्जी वेबसाइट चल रही थी, यूनिवर्सिटी को पता ही नहीं, हजारों स्टूडेंट्स ठगे
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
नाबालिग लड़की की खरीद-फरोख्त या वेश्यावृत्ति पर FIR में धारा कौन सी धारा दर्ज की जाएगी
EPFO की बैठक में ब्याज दर का निर्धारण, 6 करोड़ कर्मचारियों को लाभ
INDORE में केंद्रीय विद्यालय के लिए आदेश जारी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here