Loading...    
   


कपूर आइस्क्रीम की तरह बनाया जाता है या पेड़ पर लगा होता है, हवा में उड़ क्यों जाता है / INTERESTING SCIENCE IN HINDI

कपूर तो आप सबने देखा ही होगा। हिंदू हो या मुसलमान पूजा प्रक्रिया में कपूर का उपयोग जरूर किया जाता है। कहा जाता है कि कपूर को जलाने से नेगेटिव एनर्जी जल जाती है और पॉजिटिव एनर्जी घर में भर जाती है। कपूर का चमत्कार देखकर कोई भी उस पर विश्वास कर लेता है। कपूर को आप खुले में रख दीजिए। यदि उसमें मिलावट नहीं होगी तो कुछ देर के बाद वह गायब हो जाएगा। यानी हवा में विलीन हो जाएगा। सवाल यह है कि कपूर कौन सी कंपनी बनाती है। क्या कपूर को आइसक्रीम की तरह फ्रीज करके बनाया जाता है या फिर यह प्रकृति द्वारा प्रदत पदार्थ है और पेड़ पर लगा होता है। आइए जानते हैं:-

कपूर क्या है और कहां पाया जाता है

कपूर (अंग्रेजी: Camphor, संस्कृत: कर्पूर, उर्दू: कापुर) यह एक आवृतबीजी पौधे (angiospermic plants) से प्राप्त होने वाला अर्ध तरल द्रव्य (Semisolid liquid) है जो एक आवृत्तबीजी पेड़ सिनेमोमम केंफोरा (Cinnamomum Camphora)  के तने की छाल प्राप्त होने वाला एक गोंद जैसा पदार्थ है। जिसका रासायनिक  सूत्र  या (chemical form C10H16O)

आइए जानते हैं कपूर के क्या उपयोग है

• हिंदू धर्म में यह पूजन सामग्री के रूप में विशेष रूप से उपयोगी है।
• विभिन्न प्रकार की औषधियों में भी इसका उपयोग किया जाता है।
• विशेष रुप से त्वचा संबंधी रोगों को दूर करने में इसका उपयोग किया जाता है।
• यदि घर में चीटियां हो जाए तो कपूर रख देने से चीटियां भाग जाती हैं।
• यदि कपूर को पौधों के पास रख दिया जाए तो चीटियां कीड़े -मकोड़े, फंगस आदि नहीं लगते।

अब सरल साइंस की भाषा में समझते हैं कि कपूर क्या है?

कपूर एक ज्वलनशील (जलने वाला) तथा ऊर्ध्वपातित (उड़ने वाला) द्रव् है। जो सफ़ेद, पारदर्शी  चूर्ण या गोलियों के रूप में उपलब्ध होता है।

उर्ध्वपातन क्या है और कपूर खुले में रखड़े पर गायब क्यों हो जाता है

यह तो आप सभी जानते होंगे कि पदार्थ तीन अवस्थाओं ठोस, द्रव तथा गैस में पाया जाता हैं।उदाहरण के तौर पर पानी, तीनों अवस्था में पाया जाता है। ठोस अवस्था (बर्फ), द्रव अवस्था (पानी) और गैस अवस्था( भाप)। यह तीनों अवस्थाएं परस्पर परिवर्तित हो सकती हैं। सामान्यतः कोई भी ठोस गर्म करने पर, पहले द्रव अवस्था में बदलता है, इसके बाद गैस अवस्था में बदल जाता है। परंतु उर्ध्वपातन एक ऐसी भौतिक - रासायनिक क्रिया है जिसमें कोई द्रव, ठोस अवस्था से, द्रव अवस्था में परिवर्तित हुए बिना सीधे, गैसीय की अवस्था में परिवर्तित हो जाता है। इसी कारण खुले में रखने पर कपूर उड़ जाता है। इस कारण उसे हमेशा किसी हवाबंद डिब्बी में बंद करके रखना चाहिए। 
लेखक श्रीमती शैली शर्मा मध्यप्रदेश के विदिशा में साइंस की टीचर हैं। (Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article)

विज्ञान से संबंधित सबसे ज्यादा पढ़ी गईं जानकारियां



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here