Loading...    
   


मध्यप्रदेश में भीषण बाढ़ के बाद 6 जिलों के लिए रेड अलर्ट, 20 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी

भोपाल। मध्य प्रदेश पर प्रकृति का प्रकोप हमने वाला नहीं है। 400 गांव पूरी तरह से तबाह हो जाने के बावजूद लगातार मूसलाधार बारिश जारी है। मौसम वैज्ञानिकों ने मध्य प्रदेश के 6 जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी कर दिया है जबकि 20 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है। रेड अलर्ट से तात्पर्य आम नागरिक 31 अगस्त 2020 तक के लिए खुद को सुरक्षित कर लें एवं किसी भी इमरजेंसी के लिए तैयार रहें। 

मध्य प्रदेश के 6 जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी 

भारत सरकार अंतर्गत पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मध्य प्रदेश के 6 जिलों (छिंदवाड़ा, विदिशा, सीहोर, राजगढ़, शाजापुर और आगर-मालवा) के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। मध्यप्रदेश के नदी-नालों के हालात देखने के बाद इन छह जिलों के नागरिकों से अपील की गई है कि कम से कम 31 अगस्त 2020 तक के लिए उन सभी इलाकों को खाली कर दें जहां बाढ़ का पानी आने की या फिर बारिश का पानी बरसाती नालों के माध्यम से जमा होने की संभावना है। जब तक बहुत जरूरी ना हो घरों से बाहर ना निकले। रेड अलर्ट वाले जिलों के लिए यात्रा टाल दी जाए। 

मध्य प्रदेश के 20 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी 

मौसम वैज्ञानिकों ने मध्य प्रदेश के 20 जिलों (होशंगाबाद, हरदा, बैतूल, भोपाल, रायसेन, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट, दमोह, सागर, बुरहानपुर, खंडवा, बड़वानी, धार, इंदौर, रतलाम, उज्जैन, देवास, नीमच और मंदसौर) में भारी बारिश एवं वज्रपात की चेतावनी जारी की है। भोपाल समाचार की ओर से नागरिकों से अपील की जाती है कि स्वयं की सुरक्षा करते हुए कृपया उन लोगों की मदद करें जो नदी-नालों के किनारे कच्चे आवास बनाकर रह रहे थे और भारी बारिश के कारण उनका सब कुछ बर्बाद हो गया। यथासंभव प्रभावित लोगों को भोजन एवं आसरा उपलब्ध कराने की कोशिश करें। 

मध्य प्रदेश के किन जिलों में भी वर्षा होगी 

मध्य प्रदेश के गुना, अशोकनगर, शिवपुरी और श्योपुर जिलों में भी रविवार को वर्षा होने की संभावना है। इन जिलों में भी पिछले 2 दिनों से वर्षा लगातार जारी है लेकिन बाढ़ जैसे हालात नहीं है।

29 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार 

क्या आप एक शब्द में भारत की सभी विश्व सुंदरियों के नाम बता सकते हैं
BF ने शादी से मना किया, रेप केस दर्ज / लड़का बोला ब्लैकमेल कर रही है
सऊदी अरब में बारिश क्यों नहीं होती है
ग्वालियर में बिजली कंपनी ने ऊर्जा मंत्री की भाभी को एक करोड़ का फायदा पहुंचाया
मध्य प्रदेश के 6 जिलों में वज्रपात की संभावना, नागरिक सावधान रहें
2 से अधिक बच्चों वाले कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी
जब यह इमारत जमीन पर खड़ी है तो इसे 'हवामहल' क्यों कहते हैं
ज्योतिरादित्य सिंधिया के नागपुर प्रवास के बाद कमलनाथ और शिवराज सिंह मिले
इंदौर में पति-पत्नी ने मिलकर किसान को हनीट्रैप का शिकार बनाया
1 सितंबर से स्कूल/कॉलेज खुलेंगे या नहीं, भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया
दूध को दही बनाने वाले चमत्कारी पत्थर में क्या खास है, कहां मिलता है, नाम क्या है
सोयाबीन की फसल को पीली पड़ने से बचाने क्या करें, वैज्ञानिकों की सलाह
जबलपुर मेडिकल हॉस्पिटल में आज दूसरे मरीज ने आत्महत्या की कोशिश की
इंदौर से पटना, भोपाल सहित चार ट्रेनें चलाने की तैयारी
सिंधिया के मोदी कैबिनेट में शामिल होने के आसार
मध्य प्रदेश के 6 जिलों में रेड अलर्ट, 14 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here