Loading...    
   


कमलनाथजी, आप गांधी परिवार की चापलूसी करके नेता बने हैं: वीडी शर्मा / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ यह कहते हैं कि हमारा टारगेट भाजपा का संगठन होगा। कमलनाथ आप किसी भी तरह की गलतफहमी न रखें, भाजपा कार्यकर्ताओं को आपकी हर चुनौती स्वीकार है। आप गांधी परिवार की चापलूसी करके नेता बने हैं, लेकिन भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता और कार्यपद्धति के बल पर चलती है। हमारे कार्यकर्ता एक-एक बूथ पर कांग्रेस को जवाब देने का काम करेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने ग्वालियर विधानसभा की वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कही।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने रविवार को ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं और नागरिकों से वर्चुअल रैली के माध्यम से चर्चा की। प्रदेश अध्यक्ष के साथ प्रदेश शासन के मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने भोपाल एवं ग्वालियर सांसद विवेक शेजवलकर ने ग्वालियर से रैली को संबोधित किया। वर्चुअल रैली का संचालन प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुणावत ने एवं कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी ने की। रैली में वरिष्ठ नेता जयभानसिंह पवैया, वेदप्रकाश शर्मा, अरूण कुलश्रेष्ठ सहित ग्वालियर पूर्व विधानसभा स्थानीय पदाधिकारी एवं बूथ स्तर के कार्यकर्ता शामिल हुए।

100 दिन में सरकार ने लगातार जनता की सेवा की: शेजवलकर

रैली को संबोधित करते हुए ग्वालियर सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने मध्यप्रदेश में लगातार विकास किया। लेकिन बीते 15 महीनों में कमलनाथ सरकार ने मध्यप्रदेश के विकास को अवरूद्ध कर दिया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के 100 दिन पूरे हुए हैं। कोरोना संकटकाल में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी, लेकिन विपरीत परिस्थितियों में भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में और भाजपा कार्यकर्ताओं के सहयोग से सरकार ने दिन-रात श्रमिकों की, गरीबों की और जनता की सेवा की। 

हमारे लिए जनता से किए वादे महत्वपूर्ण थे, कुर्सी नहीं: तोमर

मध्यप्रदेश शासन के कैबिनेट मंत्री प्रधुम्नसिंह तोमर ने वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार पूरी तरह बेलगाम हो चुकी थी। चुनाव के पहले जो वादे किए थे, उन्हें सत्ता में आते ही भुला दिया। हमने जनता से जो वादे किए थे, वह वादे हमारे लिए महत्वपूर्ण थे, हमारे लिए कुर्सी महत्वपूर्ण नहीं थी। इसलिए हमने जनता के साथ हुई वादाखिलाफी को लेकर इस्तीफा दिया। उन्होंने कहा कि जब हम ग्वालियर के विकास को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात कहते थे, तो वे उन्हें अनसुना कर दिया जाता था। ग्वालियर से किया गया विकास का वादा मैं पूरा नहीं कर पा रहा था।


06 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ये खूब रही, शिक्षा मंत्री ने सरकार गिरा दी और हाई स्कूल रिजल्ट का क्रेडिट कमलनाथ को
मध्य प्रदेश: शादी के लिए सज रही दुल्हन की हत्या, बेरहमी से गला काट डाला
CM Sir, हमने विभाग को अवार्ड दिलवाया, हमें ही नौकरी से निकाल दिया
कोर्ट में यूज होने वाला पेपर हरा और थोड़ा ज्यादा बड़ा क्यों होता है
यदि किसी व्यक्ति को आवेदन देने से रोका जाए तो क्या FIR दर्ज हो सकती है
मंत्रिमंडल विस्तार से नाराज अजय विश्नोई ने सीएम शिवराज सिंह को पत्र लिखा
बहती नदी पर इंजीनियर पुल कैसे बनाते हैं, लोग बरसात में घर नहीं बना पाते
मध्य प्रदेश के 5 लाख शासकीय कर्मचारियों की वेतन वृद्धि
प्राचीन काल में क्या राजा-महाराजा भी खुले में शौच के लिए जाते थे
ऐसे में लड़कियां TikToker बन जाती हैं लेकिन भोपाल की कर्णिका मिश्रा 10th टॉपर बनी है 
हत्यारे को बचाने की किसी भी प्रकार की कोशिश अपराध है, पढ़िए FIR में कौन सी धारा दर्ज होगी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here