Loading...    
   


दो से अधिक संतान वाले शिक्षकों को नोटिस जारी, आजाद अध्यापक संघ मोर्चे पर डटा / EMPLOYEE NEWS

शहडोल। आजाद अध्यापक शिक्षक संघ शहडोल के जिला अध्यक्ष अनिल पटेल ने बताया कि दो से अधिक जीवित संतान होने पर सहायक आयुक्त शहडोल ने अपने कार्यालय से शिक्षा स्था.-2 आदेश क्रमांक पृथक पृथक दिनांक 17-06-2020 को एक आदेश जारी कर शिक्षकों से कारण बताओं नोटिस जारी किया है। इस प्रकार का हिटलरशाही अमानवीय आदेश जारी होने से जिले भर के हजारों शिक्षक दहशत एवं मानसिक दबाव में आ गये है। बिडम्ना यह है कि इस प्रकार की कार्यवाही म.प्र. के किसी भी जिले में प्रचलित नहीं है और न ही किसी जिले के सहायक आयुक्त द्वारा इस तरह का आदेश जारी किया है। 

संघ ने आरोप लगाया है कि भर्ती नियम के समय इस तरह की कोई पाबंदी नहीं थी और न ही शासन की स्पस्ट गाइड लाइन जारी हुई थी, जबकि 20-25 वर्षो से नियमित संवर्ग एवं अध्यापक सवंर्ग सर्विस करता आ रहा है, आज तक किसी भी अधिकारी द्वारा इस तरह का आदेश जारी कर मानसिक आघात नहीं पहुंचाया है । इस आदेश के जारी होते ही जिले भर के शिक्षक संवर्ग दहशत, टेंशन व मानसिक तनाव में गुजर रहे है इसी का परिणाम है कि हमारे संवर्ग के दो साथी श्री संजय सैनी उ.मा.शिक्षक ब्लाक सोहागपुर एवं श्री मिथलेश प्रसाद मिश्रा प्राथमिक शिक्षक ब्लाक गोहपारू की हार्ट अटेक से असमय मृत्यु हो गई है, इन दोनो शिक्षकों को भी यही डर सता रहा था कि हो सकता एसी साहब का नोटिस हमे भी प्राप्त हो जाये। 

जिला अध्यक्ष ने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 के इन दिनों में वैसे ही सम्पूर्ण समाज डर के माहौल में जीवन यापन कर रही है । वहीं दूसरी ओर जिले के सहायक आयुक्त ने इस तरह का आदेश जारी कर शिक्षक संवर्ग को दहशत और टेंशन के माहौल में जीवन जीने के लिये मजबूर कर दिया है। 

सहायक आयुक्त द्वारा इस आदेश को यदि बिना शर्त बापिस नहीं लिया गया तो आजाद अध्यापक शिक्षक संघ आगामी दिनों में म.प्र. शासन के मुखिया शिवराज सिंह चैहान मुख्यमंत्री आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के प्रान्ताध्यक्ष भतर पटेल सहित मंत्रीगणों और कमिश्नर शहडोल के पास इस अन्यायपूर्ण आदेश के प्रति अपना विरोध पृकट करेगा । संघ द्वारा 29 जून 2020 को दिये गये ज्ञापन पत्र में संवर्ग को न्याय दिलाने हेतु बिन्दु वार जानकारी चाही गई है अब देखना है कि उक्त जानकारी संघ को कब तक प्राप्त हो पाती है। यदि समय पर जानकारी प्राप्त नहीं हुई तो संघ बाध्य होकर संवर्ग को न्याय दिलाने माननीय न्यायालय हाई कोर्ट की शरण में जाने एवं वृहद आन्दोलन के लिये बाध्य होगा । संघ के जिलाध्यक्ष ने सहायक आयुक्त से इस कारण बताओं नोटिस पर विनम्रता पूर्वक सहानुभूति विचार करने की अपील की है ताकि किसी भी सवंर्ग के साथी  की अब आंगे जनहानि व आर्थिक क्षति का नुकसान न हो। 

सहायक आयुक्त शहडोल को ज्ञापन सौपते समय आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के कई पदाधिकारीगण मौजूद थे जिनमें मुख्य रूप से अरविन्द पटेल, अशोक पटेल, सतेन्द्र पटेल, विमलेश पटेल, महेन्द्र कुमार धुर्वे, नंदी लाल कोल, रामप्रसाद प्रसाद कोल, अशोक कुमार दोहरे, किरन सिंह, निशा सिंह आदि संघ के सैकड़ों पदाधिकारी उपस्थित रहे । आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने मृत साथी श्री संजय सैनी उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं श्री मिथलेश प्रसाद मिश्रा प्राथमिक शिक्षक को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है एवं परिवार को संगठन की ओर से व शासन/जिला प्रशासन की तरफ से मिलने वाली हर संभव आर्थिक सामाजिक मदद दिलाने का आश्वान दिया है ।

04 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश में 22 नगर परिषदों का गठन, अधिसूचना जारी 
इस लड़की को ध्यान से देखिए, कहीं किसी से शादी की बात तो नहीं चल रही
मध्य प्रदेश कोरोना: 32 जिलों में 10 से ज्यादा एक्टिव केस, 4 जिलों में 100 से ज्यादा
MP BOARD 10th HIGH SCHOOL RESULT 2020 यहां देखें, शनिवार को आएगा
दिग्विजय सिंह यह क्या कह गए, तो फिर कमलनाथ...?
जबलपुर भाजपा विधायक अजय विश्नोई का बगावती बयान 
इंदौर हाईकोर्ट में ब्लास्ट, 5 गंभीर रूप से घायल 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here