Loading...    
   


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में क्या कहा, पढ़िए या वीडियो देखिए / NATIONAL NEWS


नई दिल्ली। देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि त्यौहारी सीजन और कोरोना संकट को देखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार दीवाली और छठ पूजा तक यानी नवम्बर महीने के आखिर तक कर दिया जाएगा। प्रत्येक परिवार को हर महीने पांच किलो गेहूं या चावल औऱ एक किलो चना दिया जाएगा। इसमें 90 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होंगे। 

अनलॉक 1 से लापरवाही बढ़ती जा रही है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है। समय पर किए गए लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है लेकिन हम यह देख रहे हैं देश में अनलॉक हुआ है व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही बढ़ती चली जा रही है। पहले हम मास्क को लेकर, 2 गज की दूरी को लेकर, 20 सेकंड तक दिन में कई बार हाथ धोने को लेकर काफी सतर्क थे लेकिन आज बहुत ही चिंता का कारण है। 

गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों को रोकना होगा: प्रधानमंत्री

नियमों का पालन किया गया था अब सरकारों को स्थानीय निकाय की संस्थाओं को देश के नागरिकों को फिर से उसी तरह की सतर्कता दिखाने की जरूरत है। विशेषकर कंटेनमेंट जोंस में, उस पर तो हमें बहुत ध्यान देना होगा। जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं हमें उन्हें रोकना होगा रोकना होगा और समझाना भी होगा। अभी आपने खबरों में देखा होगा एक देश के प्रधानमंत्री पर ₹3000 का जुर्माना सार्वजनिक स्थल पर भारत में भी प्रशासन को ऐसा करना होगा।

किसान और करदाता दोनों को धन्यवाद

आपने देश का अन्न भंडार भरा है इसलिए आज गरीब का चूल्हा जल रहा है। आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपना दायित्व निभाया है इसलिए आज देश का गरीब संकट से मुकाबला कर पा रहा है। आज अगर सरकार सबको राशन दे रही है तो उसका क्रेडिट अन्नदाता किसान औऱ दूसरा ईमानदार टैक्सपेयर को जाता है। मैं हर किसान और करदाता को धन्यवाद देता हूं।

30 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

भोपाल के फ्लैट में दो भाइयों की 8 दिन पुरानी लाशें मिली, 1 फर्श पर दूसरा फंदे से लटका मिला
क्या सचमुच बारिश के साथ केंचुए भी गिरते हैं, यदि नहीं तो अचानक कहां से आते हैं
ठंडा और गर्म पानी एक साथ फ्रीजर में रखें तो पहले कौन सा बर्फ बनेगा
इंदौर के बड़े व्यापारी और स्कूल के संचालक ने सुसाइड किया
मध्यप्रदेश में नायब तहसीलदार की पत्नी का बलात्कार
MPPEB: तीन परीक्षाओं में आवेदन की लास्ट डेट बढ़ाई
फल और सब्जी में क्या अंतर है, जबकि दोनों की प्रक्रिया एक जैसी है
भिंड से अधिकारियों का आना-जाना बंद, व्हाट्सएप पर लाइव लोकेशन बतानी होगी: कलेक्टर
GWALIOR में बारिश कम होती है फिर अकाल क्यों नहीं पड़ता, जबकि पहले यह अकाल पीड़ित क्षेत्र था
MPPSC 2019 SCORECARD यहां देखें, OMR SHEET भी डाउनलोड कर सकते हैं
फर्जी सर्टिफिकेट बनाने व हस्ताक्षर करने वाले को कितनी सजा होती है, पढ़िए
OMG! मात्र ₹70000 की स्कूटी के लिए 18 लाख का VIP नंबर
मध्यप्रदेश में कॉलेज स्टूडेंट्स को जनरल प्रमोशन नहीं मिलेगा, पढ़िए कहां उलझ गया
इंदौर के 1 दर्जन CBSE स्कूलों की मान्यता निरस्त

कोर्ट में कपटपूर्ण याचिका दाखिल करने वाला वापस घर जाता है या जेल, यहां पढ़िए


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here