Loading...    
   


देवप्रभाकर दद्दाजी को कटनी आश्रम लाया गया, वेंटिेलेटर पर हैं, अनुयायियों का तांता / MP NEWS

कटनी। मध्यप्रदेश के प्रख्यात संत देवप्रभाकर शास्त्री दद्दा जी की हालत नाजुक बताई जा रही है। उनको आश्रम में वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। शनिवार की रात्रि में दद्दा जी को दिल्ली से एयर एम्बुलेंस से जबलपुर लाया गया। यहां से उन्हें कटनी ले जाया गया। 

सांस लेने में तकलीफ हुई, वेंटीलेटर सपोर्ट दिया


दद्दा जी के भक्त और प्रदेश के पूर्व मंत्री संजय पाठक ने संदेश जारी कर उनके गंभीर होने की जानकारी दी है।गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री कुछ दिनों से अस्वस्थ थे। दद्दा जी का किडनी और लीवर का इलाज सर गंगाराम अस्पताल दिल्ली में चल रहा था। शनिवार शाम उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई और चिकित्सकों ने उन्हें वेंटीलेटर सपोर्ट दिया। किडनी के काम न करने के कारण उनका स्वास्थ्य अत्यंत नाजुक हो गया तो चिकित्सकों की सलाह पर दिल्ली से रात करीब आठ बजे दो निजी हवाई जहाज जबलपुर लाया गया । 

कटनी-बहोरीबंद स्थित गृह ग्राम कूड़ा स्थित आश्रम में


रात में करीब 11:45 बजे गृह ग्राम दद्दा जी पहुंच गए। उनको दिल्ली से लाए जाने की खबर शहर में तेजी से फैल गई। दद्दा जी को लेने के लिए उनके अनुयायी बड़ी संख्या में डुमना विमानतल पहुंचे। करीब आधे घंटे बाद यहां दद्दाजी को सड़क मार्ग से कटनी-बहोरीबंद स्थित गृह ग्राम कूड़ा ले जाया गया।

17 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई 
टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए 
शादी के लिए जाति, धर्म या पहचान छुपाने वाले के खिलाफ क्या कार्रवाई होती है
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
भारत में परमाणु बम का कोड और हमले का अधिकार किसके पास होता है
CAR जैसे हैंडब्रेक ट्रेन में क्यों नहीं होते, एक्सीडेंट क्यों हो जाता है 
मध्यप्रदेश में 10वीं को जनरल प्रमोशन, 12वीं की परीक्षा होगी
गर्भपात के दौरान यदि महिला की मृत्यु हो गई तो जेल कौन जाएगा डॉक्टर या पति
ऑनलाइन पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते समय क्या करें और क्या नहीं करें
मध्य प्रदेश: 24 सीटों पर चुनाव से पहले भाजपा में बगावत की सुगबुगाहट
कानून में संशोधन के बाद गर्भपात कब-कब अपराध की श्रेणी में आता है, जानिए 
नए टू व्हीलर्स की हेडलाइट हमेशा ऑन क्यों रहती है
चक्रवाती तूफान #अम्फान उम्मीद से ज्यादा भयानक हो गया, 3 दिन में टकराएगा
इस साल स्कूल नहीं खुलेंगे तो बच्चों को कैसे पढ़ाएंगे, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया
YES BANK: मात्र ₹1 लाख की FD पर, सबसे ज्यादा ब्याज और कोरोना इंश्योरेंस फ्री
एक साथ कई कामों में लगाए गए शिक्षक, अर्जित अवकाश देने की मांग


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here