Loading...    
   


शिवपुरी में होम क्वारेटाईन छात्र की संदिग्ध मौत, अफवाहों का बाजार गर्म / MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले की कोलारस तहसील में प्रशासन की लापरवाही के कारण स्थिति तनावपूर्ण बन गई है। इंदौर से लौटे एक स्टूडेंट की होम क्वॉरेंटाइन के दौरान संदिग्ध मौत हो गई। अब अफवाहों का बाजार गर्म है। पुलिस छात्र की संदिग्ध मौत को आत्महत्या मानकर चल रही है और प्रशासन छात्र के परिवार को जिम्मेदार बता रहा है। जबकि प्रशासन की लापरवाही स्पष्ट रूप से नजर आ रही है। 

मामला क्या है

शिवपुरी जिले के शहर कोलारस में स्थित रमतला मोहल्ले में रहने वाले नरेश जाटव उम्र 20 वर्ष पुत्र काशीराम जाटव की संदिग्ध अवस्था मौत हो गई। नरेश इंदौर मे रहकर पढाई कर रहा था। 4 अप्रैल को वह इंदौर से वापस कोलारस आया था। प्रशासन ने उसे होम क्वॉरेंटाइन किया था। छात्र की संदिग्ध अवस्था में मौत के बाद जब परिवार जन उसके अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे तभी आस-पड़ोस के नागरिक सक्रिय हो गए और मामले की जांच शुरू हुई। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

प्रशासन की लापरवाही क्या है 

प्रशासन ने 4 अप्रैल को नरेश जाटव को 14 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन किया था। प्रशासन की जिम्मेदारी है कि वह 1 दिन के अंतराल पर नरेश जाटव के स्वास्थ्य की जांच करता रहे। कम से कम उसके शरीर का तापमान तो रिकॉर्ड किया ही जाना था परंतु प्रशासन ने ऐसा कुछ नहीं किया। यदि प्रशासन अपना दायित्व निभाते तो यह मौत संदिग्ध नहीं होती। स्थिति स्पष्ट होती। 

प्रशासन की दूसरी लापरवाही यह है कि संदिग्ध मृत्यु की स्थिति में प्रशासन कोलारस के नागरिकों को यह विश्वास दिलाने में असफल साबित हो रहा है कि पोस्टमार्टम के दौरान मृत्यु के जो भी कारण प्राप्त होंगे वह सार्वजनिक किए जाएंगे। लोगों में दहशत व्याप्त है, तरह-तरह की अफवाहें उड़ रही है। यहां तक कहा जा रहा है कि छात्र का अंतिम संस्कार प्रशासन की मर्जी से बिना पोस्टमार्टम के करवाया जा रहा था ताकि कोलारस के माथे पर कोरोना का दाग ना लगे। प्रशासन नागरिकों में अपना विश्वास कायम रख पाने में असफल साबित हो रहा है।

25 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

रेलवे स्टेशन और रेलवे जंक्शन में क्या अंतर है, एक स्टेशन कब जंक्शन बन जाता है 
E-GRAM SWARAJ App Download यहां से करें, पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा ग्राम पंचायतों के लिए लांच
ज्योतिरादित्य सिंधिया: बीजेपी ज्वाइन करने के बाद भी कांग्रेस के कनेक्शन में क्यों हैं 
स्वामित्व योजना क्या है, इससे क्या फायदा होगा, यहां पढ़िए 
कार की स्टीयरिंग बीच सेंटर में क्यों नहीं होती, साइड क्यों होती है 
लॉकडाउन: सभी प्रकार की दुकानें खोलने के आदेश जारी, शर्तें लागू 
सहकारी समितियां किसानों से कर्जवसूली कर रहीं हैं, रोकिए शिवराज
ज्योतिरादित्य सिंधिया को उनके गढ़ में धूल चटाने कमलनाथ की कोर टीम तैयार 
लॉक डाउन में अमूल ने दाम घटाए, बिक्री बढ़ी, आइसक्रीम नहीं पनीर खा रहे हैं लोग 
मध्य प्रदेश: 159 नए मामले, टोटल 1846, संक्रमित जिलों की लिस्ट से 3 नाम घटे 
SLAP KINGS बना दुनिया का सबसे लोकप्रिय मोबाइल गेम, PUBG और Call Of Duty को पीछे छोड़ा
बेईमान राशन विक्रेता का वीडियो बनाकर भेजें: कलेक्टर 
ग्वालियर 10 मंजिला एमके सिटी में आग, लोग चौथी मंजिल से कूदे 
लॉकडाउन ने उजाड़ा पूरा परिवार, बेटी की हत्या कर माँ ने सुसाइड किया 
SC-ST के धनाढ्य लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट 
जबलपुर में आर्मी ऑफिसर और उसकी पत्नी ने आत्महत्या की 
भोपाल में 8 माह के बच्चे सहित 1 ही परिवार 4 लोग कोरोना पॉजिटिव 
शिवराज सरकार ने घुटने टेके, पेरेंट्स को स्कूल संचालकों के सामने लावारिस छोड़ दिया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here