Loading...    
   


ग्वालियर में BSF ऑफिसर ने जीती काेराेना से जंग | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। बीएसएफ टेकनपुर के अफसर अशाेक कुमार (57) ने काेराेना से जंग जीत ली है। 13 दिन सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल में भर्ती रहे अशाेक कुमार की दाे रिपाेर्ट निगेटिव आने के बाद गुरुवार काे उन्हें छुट्टी दे दी गई। वह कोरोना से जंग जीतने वाले जिले के दूसरे शख्स हैं। चार दिन पहले चेतकनपुरी निवासी अभिषेक मिश्रा भी स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं। 

टेकनपुर के बीएसएफ परिसर में रहने वाले अशोक कुमार की पत्नी 13 मार्च काे यूके से लौटी थीं। 26 मार्च को अशाेक कुमार काे जुकाम, खांसी के साथ हल्का बुखार हाेने लगा। संक्रमण की आशंका के चलते उन्हाेंने जेएएच में दिखाया। 27 मार्च को उन्होंने बेटे के साथ जिला अस्पताल मुरार में सैंपल दिया था। इसके बाद उन्हें आईटीएम हॉस्पिटल में बनाए गए आइसोलेशन सेंटर में भेजा गया। 28 मार्च को अशोक कुमार की जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद उन्हें इलाज के लिए सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। हालत सुधरने पर 5 व  8 अप्रैल को उनका दाे बार और काेराेना टेस्ट कराया गया। दाेनाें बार उन्हें काेराेना का संक्रमण नहीं पाया गया। 

गुरुवार को डॉक्टरों ने चेकअप के बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। अशोक कुमार के बेटे विनीत कुमार ने बताया, पिता को बीएसएफ अस्पताल में क्वारेंटाइन किया गया है। सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के अधीक्षक डॉ. गिरिजाशंकर गुप्ता ने बताया कि डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ मरीजों की बेहतर तरीके से देखभाल एवं मॉनिटरिंग कर रहे हैं। इसी का परिणाम है कि दो मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

10 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

पत्नी को धर्मपत्नी क्यों कहते हैं, क्या कोई लॉजिक है या बस मान-सम्मान के लिए 
यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
जबलपुर में कोकिला रिसोर्ट सहित तीन होटल डॉक्टर्स और नर्सों के लिए अधिग्रहित 
छिंदवाड़ा में पहचान छुपा कर रह रहे थे चार जमाती
भोपाल में AIIMS के 2 डॉक्टरों को पुलिस ने पीटा, एक आरक्षक लाइन अटैच 
मध्य प्रदेश के 15 जिलों में 46 इलाके हॉटस्पॉट: जहां आना-जाना प्रतिबंध
कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है
सांसदों की तरह मध्य प्रदेश में विधायकों की विधायक निधि बंद होगी: सीएम शिवराज सिंह
शिवराज के लिए सिरदर्द कम नहीं: COVID-19 के बाद CABINET-26
मध्यप्रदेश में ESMA लागू, पढ़िए आम जनता को इससे क्या फायदा होगा
लॉकडाउन के संदर्भ CM शिवराज की टेबल पर सुलेमान कमेटी की रिपोर्ट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here