Loading...    
   


रमजान के महीने में उमराह पर रोक, हज यात्रा भी संकट में / BHOPAL NEWS

भोपाल। सऊदी सरकार ने रमजान माह में होने वाले उमराह पर फिलहाल रोक लगा रखी है। रमजान में अकेले भोपाल से 4 हजार बंदे उमराह करने जाते हैं। इसके चलते हज सफर में अकीदतमंदों की बड़ी तादाद को ध्यान में रखकर सऊदी अरब सरकार ने अभी तक हज कमेटी ऑफ इंडिया को कोई जवाब नहीं दिया है। इस बात की पुष्टि सीईओ एमए खान ने भी की है। 

वहीं मप्र हज कमेटी के सीईओ दाऊद मोहमाद खान का कहना है कि इस मसले पर 15 मई के बाद ही फैसला होगा, क्योंकि सऊदी सरकार सुरक्षा इंतजाम को लेकर अभी विचार कर रही है। हरम शरीफ, मदीना शरीफ के अलावा सभी बड़े सार्वजनिक स्थानों पर माकूल इंतजाम किए जाने हैं।

हज यात्रा में परेशानी क्या है

जानकारी के मुताबिक 15 मई को सऊदी अरब सरकार इस संबंध में फैसला कर सकती है। तय प्लान के मुताबिक 25 जून से हज की फ्लाइट शुरू होकर 4 अगस्त से वापसी होना है। इधर, हज कमेटी ऑफ इंडिया की चुप्पी हज यात्रियों की बेचनी बढ़ा रही है। सऊदी अरब के मक्का और मदीना में होने वाले हज अरकान में हिंदुस्तान से डेढ़ लाख से ज्यादा यात्री शिरकत करते हैं। वहीं मप्र से 8 हजार हज यात्री मप्र राज्य हज कमेटी और टूर ऑपरेटर्स के जरिए हज को जाते हैं।


19 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली खबरें

टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी आज डिस्चार्ज होने वाले थे, लगातार दो रिपोर्ट नेगेटिव आई थी 
इंदौर शोक मग्न: कोरोना फाइटर TI देवेंद्र चंद्रवंशी शहीद, पढ़िए पूरी रिपोर्ट 
Airtel अनलिमिटेड डाटा, 1Gbps की स्पीड के साथ for WORK FOR HOME with ENTERTAINMENT
दीपक तिवारी ने MCU कुलपति पद से इस्तीफा दिया 
अस्थाई शिक्षकों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, नियमितीकरण पर मुहर


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here