Loading...    
   


5 राज्यों के 200 जमाती भोपाल की मस्जिदों में छुपाए गए थे, ना इंफॉर्मेशन, ना स्क्रीनिंग | MP NEWS

भोपाल। भारत के 5 राज्यों के करीब 200 जमाती (इस्लाम धर्म का प्रचार-प्रसार करने वाले) भोपाल की मस्जिदों में छुपा दिए गए थे। भोपाल के प्रबंधकों ने इनकी जानकारी ना तो लोकल पुलिस को दी थी और ना ही टोटल लॉक डाउन हो जाने के बाद बाहर से आए जमातियों की स्क्रीनिंग कराई गई थी। जबकि यदि भोपाल में धार्मिक आयोजन का प्रबंध करने वाले मुस्लिम समाज के लोग केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन करते तो किसी तरह का कोई तनाव उत्पन्न ही नहीं होता।

एएसपी डीएसबी संदेश जैन ने बताया कि ये सभी दिल्ली, कर्नाटक, कश्मीर, बिहार, असम और मप्र के विभिन्न जिलों के रहने वाले हैं। इनके अलावा भोपाल आए अन्य जमातियों का भी पता लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि करीब 20 जमातो में 200 लोग बाहरी प्रदेशों के थे। सभी का पता लगा लिया गया है और उन्हें क्वॉरेंटाइन किया गया है। इनमें से अभी तक कोई भी ना तो संदिग्ध पाया गया है और ना ही पॉजिटिव।

पुलिस को तलाश- फरवरी में कितनी जमातें आईं

इंटेलीजेंस और खुफिया पुलिस को निजामुद्दीन की धार्मिक सभा में शामिल लोगों की सूची चाहिए। प्रबंधक कौन है यह लिस्ट हिंदी या अंग्रेजी में नहीं बनाई है, बल्कि उर्दू में है। इसका ट्रांसलेशन किया जा रहा है। इंटेलिजेंस जानना चाहता है फरवरी से अब तक भोपाल में कितनी जमातें आई हैं, ये जमातें भोपाल होकर प्रदेश के किन-किन शहरों में धर्म प्रचार के लिए निकली थीं। 

जमातें क्या करती हैं, इनसे किन को खतरा है 

मुस्लिम समाज में जमात का अर्थ होता है इस्लाम का प्रचार करने वाले लोग। जिस प्रकार हिंदू समाज में कथावाचक होते हैं उसी प्रकार मुस्लिम समाज में जमात। यदि जमात में शामिल कुछ लोग संक्रमित हैं तो इससे मुस्लिम समाज के लोगों को ही खतरा है क्योंकि जमात के लोग दूसरे समाज के लोगों से ना तो मुलाकात करते हैं और ना ही संपर्क में आते हैं। यात्रा के दौरान भी जमात के लोग कोशिश करते हैं कि वह दूसरे समाज के लोगों से अलग रहे क्योंकि उन्हें दिन में पांच बार नमाज अदा करनी होती है। इसके अलावा उनकी विशेष धार्मिक प्रक्रियाएं भी होती है।

01 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें

अंग्रेजी का सबसे लंबा और हिंदी का सबसे छोटा शब्द कौन सा है, क्या आप जानते हैं
मंगलयान की तरह यदि AC को भी बार-बार ऑन-ऑफ करें तो क्या आधी बिजली खर्च होगी
इंदौर में 12 नए पॉजिटिव, कुल संख्या 75, पूरे गुजरात से ज्यादा अकेले इंदौर में
फिर पुराने ट्रैक पर चल पड़े ज्योतिरादित्य सिंधिया, क्या फिर से ठोकर खाएंगे
इंदौर आसपास के 6 जिलों में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
MP TET-3 परीक्षाएं स्थगित, ट्विटर पर सूचना जारी, वेबसाइट अपडेट नहीं
इंदौर में डॉक्टरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, पथराव, संक्रमण की जांच करने गए थे 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here