Loading...    
   


लॉक डाउन: मध्य प्रदेश के 14 जिलों में राहत, 29 जिलों में लॉकइन की संभावना | MP NEWS

भोपाल। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 3 मई तक लॉक डाउन बढ़ाए जाने के बाद शिवराज सिंह सरकार मध्यप्रदेश में इसके क्लासिफिकेशन की तैयारी कर रही है। पूरे प्रदेश को 3 जून में बांटने की तैयारी हो चुकी है। रेड जोन में केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन किया जाएगा परंतु ऑरेंज और ग्रीन जोन में शिवराज सिंह सरकार अपने तरीके से कुछ राहत देगी ताकि उन क्षेत्रों में आम जनजीवन सामान्य रहे जहां संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है। पूरे प्रदेश में सीमाएं सील रहेंगी। सार्वजनिक परिवहन बंद रहेंगे। निजी वाहनों का उपयोग करके भी लोग एक शहर से दूसरे शहर में नहीं जा सकते।

9 जिलों में केंद्र की गाइडलाइन का पालन किया जाएगा

प्रदेश के कोरोना हॉटस्पॉट के अंतर्गत 9 जिले रेड एरिया में आते हैं। इन जिलों में इंदौर, भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, खरगौन, मुरैना, बड़वानी, विदिशा और होशंगाबाद शामिल है। इन जिलों में केंद्र की गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। राज्य सरकार की तरफ से कोई रियायत नहीं दी जाएगी। इन इलाकों में लोगों को एक मोहल्ले से दूसरे मोहल्ले में जाने की अनुमति नहीं है।

14 जिलों में थोड़ी ढील दी जाएगी

ऑरेंज एरिया (जहां दस से कम कोरोना पॉज़िटिव मामले मिले है) में 14 ज़िले शामिल है। इनमें ग्वालियर, देवास, खंडवा, छिंदवाड़ा, शिवपुरी, बैतूल, धार, रायसेन, श्योपुर, सागर, शाजापुर, मंदसौर, सतना और रतलाम है। इन जिलों में थोड़ी ढील दी जाएगी। राशन और दवाओं के अलावा बाजार में दूसरी गतिविधियों की सशर्त अनुमति दी जा सकती है लेकिन ध्यान रखा जाएगा कि किसी भी कीमत में धारा 144 का उल्लंघन ना हो।

29 जिलों में सोशल डिस्टेंसिंग की शर्त पर बाजार खुलेगा

ग्रीन एरिया में 29 ज़िले शामिल हैं। इन जिलों में उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, रीवा, सीधी, सिंगरौली, बालाघाट, मंडला, सिवनी, डिंडोरी, नरसिंहपुर, कटनी, टीकमगढ़, छतरपुर, पन्ना, दमोह, अशोकनगर, दतिया, गुना, भिंड, नीमच, आगर मालवा, बुरहानपुर, झाबुआ, अलीराजपुर, हरदा, राजगढ़, सीहोर और निवाड़ी हैं। इन सभी जिलों में सोशल डिस्टेंसिंग की शर्त पर बाजार खोला जा सकता है। यह भी संभव है कि पुलिस को अधिकृत कर दिया जाए, जो लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करेंगे उनसे जुर्माना वसूला जाएगा या फिर भीड़ लगाकर खड़े होने वाले सभी लोगों को एक साथ क्वॉरेंटाइन सेंटर भेज दिया जाएगा।

मध्यप्रदेश में सिर्फ इंदौर बेकाबू, भोपाल सहित पूरा प्रदेश अंडर कंट्रोल

प्रदेश में कोरोना संक्रमण का मामला बढ़ता जा रहा है. प्रदेश में सोमवार तक इसके 652 केस सामने आ चुके हैं, जबकि यहां 50 लोगों की इस खतरनाक संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। इंदौर शहर में सबसे ज्यादा मामले सामने आये हैं। यहां 362 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इनमें से 35 की मौत हो चुकी है, जबकि 39 मरीज़ पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौट चुके हैं। जबकि राजधानी भोपाल में 142 कोरोना पीड़ित मरीजों में से 4 की मौत हो चुकी है। इलाज के दौरान तीन मरीज ठीक हुए हैं।

शिवपुरी के बाद ग्वालियर भी कोरोना क्लीन

इन सबके बीच एक अच्छी खबर ग्वालियर से है। यहां 6 लोगों में से सभी को संक्रमण से मुक्‍त बताया जा रहा है, जबकि शिवपुरी जिले में भी मिले 2 मरीज इलाज के दौरान स्वस्थ हो चुके हैं। मुरैना जिले में 14 लोग इससे संक्रमित मिले हैं। जबलपुर में 12 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 6 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

14 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

पुरानी बाइक का पिकअप कम क्यों हो जाता है 
किसान सावधान! पश्चिम से काली घटाएं उठ रही हैं, बारिश होगी 
बंदूक की गोली में यदि माचिस से आग लगाएं तो क्या होगा 
1.35 करोड़ कर्मचारी NPS अकाउंट से निकासी कर सकते हैं 
IIFA के बाद IPL 2020 की भी उम्मीद खत्म, दादा ने कहा भूल जाइए 
क्या आपको पता है डॉ. आम्बेडकर के नीले कोट का रहस्य, यहां पढ़िए 
कमलनाथ की दलीलें खारिज, सुप्रीम कोर्ट में केस हार गए, योग्यता पर सवाल 
SDOP ने सिंधिया भक्त पूर्व विधायक को ऐसी धूल चटाई, कोरोना से ज्यादा वायरल हो गई (आडियो सुनें) 
कामवाली बाई, सब्जी वाला सहित 15 उद्योगों को सशर्त मंजूरी देने वाली है सरकार: IANS Report 
मई के लास्ट वीक में खुल सकते हैं स्कूल-कॉलेज 
मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल नहीं, विशेष कार्य दल का गठन 
क्या गुजारा भत्ता में भी वेतन की तरह DA बढ़ाया जा सकता है 
जहां कोरोना नहीं है वहां मनरेगा शुरू होगा: सीएम शिवराज सिंह 
छिंदवाड़ा मीटिंग में कमलनाथ के PA की मौजूदगी पर हंगामा (वीडियो देखें) 
खबर का असर: कोरोना मरीजों के समर्थन में सीएम शिवराज सिंह 
मध्य प्रदेश: कुल संक्रमित 614, मृत्यु 50, स्थिर 499, गंभीर 14, स्वस्थ हुए 51 
कोरोना शवदाह गृह में जूनियर ने शव की जगह सीनियर कर्मचारी को जिंदा जला दिया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here