पैथोलॉजी ने पथरी को पीलिया लिख दिया, डॉक्टर ने दवाइयां खिला दी | MP NEWS
       
        Loading...    
   

पैथोलॉजी ने पथरी को पीलिया लिख दिया, डॉक्टर ने दवाइयां खिला दी | MP NEWS

Samarpan Imagine Solutions fake test report 

भोपाल। Samarpan Imagine Solutions नाम की पैथोलॉजी लैब पर आरोप है कि उसने पथरी से पीड़ित मरीज की जांच रिपोर्ट में मरीज को पीलिया से पीड़ित बता दिया। डॉक्टर ने लैब की जांच रिपोर्ट के आधार पर मरीज को दवाइयां खिलाना शुरू कर दिया। जब आराम नहीं मिला तो मरीज ने फिर से जांच कराई। तब कहीं जाकर पैथोलॉजी की पोल खुली। मरीज ने लैब के खिलाफ उपभोक्ता फोरम में केस ठोक दिया। फोरम ने समर्पण इमेजिंग सॉल्यूशंस को सेवा में कमी का दोषी पाते हुए जुर्माना लगाया है।

जिला उपभोक्ता फोरम ने लापरवाही मानते हुए आदेश दिए हैं कि मरीज को 25 हजार रुपए और जांच रिपोर्ट की राशि व अन्य मदों का भुगतान किया जाए। तय समय में पैसा नहीं दिया तो ब्याज भी भुगतना होगा। फोरम के अध्यक्ष ओमप्रकाश शर्मा और सुमित्रा हाथीवाला ने यह आदेश जारी किया। उन्होंने डॉक्टर अमित कुमार तिवारी की ओर से पेश की गई सभी दलीलों को गलत पाया है।

मो. युनूस अंसारी नामक व्यक्ति ने समर्पण इमेजिंग सॉल्यूशंस के डाॅ. अमित कुमार तिवारी से 19 अक्टूबर को 2016 को जांच कराई थी। उन्हें पेट में बायीं तरफ दर्द होता था। पथरी हाेने की आशंका में डाॅक्टर ने जांच कराने के लिए कहा था। जांच करने वाली समर्पण इमेजिंग सॉल्यूशंस लैब ने उन्हें पीलिया होने की रिपोर्ट थमा दी। इसी रिपोर्ट के आधार पर डाॅक्टर ने इलाज शुरू कर दिया। इसके बाद अन्य लैब से जांच कराई तो दाे सेंटीमीटर की पथरी होना बताया गया।

गलत दवाइयां लीं, फिर सही इलाज के लिए खर्च किए काफी रुपए

पहली लैब की जांच रिपाेर्ट में लापरवाही के कारण मो. युनूस पहले तो गलत दवाइयां लेते रहे। फिर सही इलाज के लिए भी काफी पैसा खर्च करना पड़ा। इस पर फोरम में परिवाद दायर किया। डाॅ. तिवारी की ओर से जवाब के रूप में सिटी स्कैन रिपोर्ट और अन्य दस्तावेज पेश किए गए। इसमें रिपोर्ट सही होने का दावा किया गया। फोरम ने दोनों पक्षाें को सुनने के बाद फरियादी के पक्ष में फैसला दिया।

25 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें

No Corona village: पंचायत ने इस तरह से गांव की सीमाएं सील कर दी
जयारोग्य हॉस्पिटल में कोरोना पॉजीटिव 3 दिन भटकाया, अब पत्नी को भर्ती करने की नौबत
सलाहकार मिगलानी के बाद कमलनाथ भी होम आइसोलेशन में 
मप्र कांग्रेस के 92 विधायकों पर कोरोना वायरस का खतरा! 
भोपाल के वरिष्ठ पत्रकार कोरोना पॉजिटिव पाए गए, कमलनाथ की प्रेस कांफ्रेंस में शामिल थे
कमिश्नर कोष एवं लेखा द्वारा मार्च 2020 के देयक के संदर्भ में जरूरी सूचना
शिवराज सिंह की चार पारियां: दो बार जुगाड़ से दो बार चुनाव से 
मध्य प्रदेश कोरोना: इंदौर में 4, उज्जैन में 1 नए मरीज, कुल 6 जिले 14 लोग संक्रमित
जबलपुर में कर्फ्यू फेल, बाजार में भारी भीड़
जींस में छोटी जेब क्यों होती है, कोई बड़ा कारण है या बस डिजाइन
अतिथि विद्वानों ने कहा: कोरोना कंट्रोल के लिए हम बिना वेतन सेवा देने को तैयार
मध्य प्रदेश के 23000 पंचायत सचिवों ने कोरोना कंट्रोल के लिए 5 करोड रुपए दान किए
शिवराज सिंह ने कमलनाथ के दर्जन भर नजदीकी नेताओं को सड़क पर ला दिया