जबलपुर में कर्फ्यू फेल, बाजार में भारी भीड़ | JABALPUR NEWS
       
        Loading...    
   

जबलपुर में कर्फ्यू फेल, बाजार में भारी भीड़ | JABALPUR NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर में जहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है, जिला प्रशासन की बड़ी विफलता सामने आई है। जबलपुर में कर्फ्यू पूरी तरह से फेल हो गया। बाजार में भारी भीड़ देखी गई। यह किसी मेले जैसी थी। किसी भी संक्रमण को हजारों लोगों तक पहुंचने के लिए यह सबसे आसान था। 

बाजार में भीड़ बढ़ती गई, ना कोई मजिस्ट्रेट तैनात था, ना पुलिस 

यह चित्र जबलपुर के प्रमुख बाजार बड़ा फुहारा-कमानिया गेट पर दिनांक 25 मार्च 2020 सुबह की स्थिति है। लोग खाने-पीने का सामान लेने इस तरह सड़कों पर निकल आये और जबलपुर प्रशासन गहरी नींद से जागा ही नहीं। चौंकाने वाली बात यह है कि केंद्र सरकार को इस बात का अंदेशा था कि लोग अचानक बाजार में निकलेंगे। भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा अपील जारी की गई। गाइडलाइन जारी हुई लेकिन जबलपुर में कुछ नहीं हुआ। यहां तक कि बाजार में भीड़ को अनुशासित करने के लिए ना तो कोई मजिस्ट्रेट तैनात था और ना ही पुलिस। 

जबलपुर के हालात के लिए कलेक्टर जिम्मेदार 

सरकार को सिर्फ जनता से कड़े अनुशासन की अपील नहीं करना चाहिए बल्कि सरकार और सरकार के अधिकारियों के आचरण में सख्त अनुशासन अनुशासन दिखाई देना चाहिए। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने दिनांक 24 मार्च को 21 दिन के लिए टोटल लॉक-डाउन की घोषणा की थी। रात 8:30 बजे से खबर आना शुरू हो गई थी कि लोग पैनिक हो गए हैं और राशन व दैनिक उपयोग की चीजें खरीदने के लिए भारी भीड़ सड़कों पर आ रही है। यह जबलपुर कलेक्टर की जिम्मेदारी थी कि वह अपने शहर में लोगों को समझाएं। उन्हें आश्वस्त करें और बाजार में अनुशासन बनाए रखें।

24 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबरें

हवाई जहाज कितना माइलेज देता है, प्रति व्यक्ति ईंधन का खर्चा कितना होता है 
यदि चलती ट्रेन में ड्राइवर बेहोश हो जाए तो क्या होगा, पढ़िए 
पूरे भारत में 21 दिनों के लिए लॉक-डाउन, जो जहां है वही रहे: प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
विदेश से लोटा युवक घर की बजाय होटल पहुंचा, स्वास्थ्य विभाग ने आइसोलेशन में रखा
जींस में छोटी जेब क्यों होती है, कोई बड़ा कारण है या बस डिजाइन
गृह मंत्रालय भारत सरकार की गाइडलाइन, 15 अप्रैल तक थोड़ी राहत 
थप्पड़ वाली कलेक्टर सहित 4 IAS अधिकारियों को हटाया 
चिंता ना करें, दैनिक उपयोग की चीजें सरकार पहुंचाएगी: शिवराज सिंह चौहान 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
मध्यप्रदेश में मुख्य सचिव बदले, श्री एम. गोपाल रेड्डी मात्र 9 दिन के मुख्य सचिव