छेड़छाड़ से इतना गुस्सा आया कि जज बन गई- True Motivational Stories Indore

यदि किसी लड़की के साथ छेड़छाड़ हो तो उसका और उसके परिवार का क्या रिएक्शन होगा। इग्नोर करेंगे, तुरंत जवाब देंगे, पुलिस से शिकायत करेंगे, कानून हाथ में ले लेंगे, पुलिस कार्यवाही ना करें तो सिस्टम को दोष देंगे, खुद कुछ नहीं कर पाए तो किस्मत को दोष देंगे लेकिन इंदौर की सब्जी बेचने वाली लक्ष्मी नागर ने ऐसा कुछ भी नहीं किया बल्कि, वह किया जो मिसाल बन गया। 

अपने पति के साथ सब्जी बेचकर परिवार चलाने वाली लक्ष्मी ने बताया कि, एक दिन मेरी बेटी जब कॉलेज के लिए जा रही थी, तो चौराहे पर खड़े कुछ लड़कों ने उस पर कमेंट कर दिए। उसके साथ छेड़छाड़ की। अंकिता बहुत नाराज होकर घर आई। जिसके बाद मैंने उसे हिम्मत देते हुए कहा कि कुछ ऐसा करो कि इन लड़कों को तुम खुद सबक सिखा सको।

अंकिता ने सबसे पहले एलएलबी की पढ़ाई शुरू की फिर LLM किया और सिविल जज का फॉर्म भरा। अपने माता-पिता के साथ सब्जी की दुकान भी चलाती थी। आज अंकिता को सिर्फ इंदौर ही नहीं बल्कि पूरा भारत जानता है। न केवल सिविल जज की परीक्षा पास की है बल्कि रैंक भी किया है। अब अंकिता सचमुच छेड़छाड़ करने वालों और महिलाओं के प्रति अपराध करने वालों को सजा दे सकेगी। 

POPULAR INSPIRATIONAL STORY

IAS INTERVIEW- एक जवाब ने पूरे बोर्ड को इंप्रेस कर लिया
यदि आप भी ऐसे कुछ लोगों को जानते हैं जिन्होंने शून्य से शिखर तक का सफर अपने परिश्रम के दम पर तय किया। जिनकी लाइफ स्टोरी दूसरों के लिए प्रेरणा बन सकती है तो कृपया अवश्य लिख भेजिए हमारा ईपता तो आपको पता ही होगा -editorbhopalsamachar@gmail.com