RGPV NEWS- 2 संविदा प्रोफेसरों के खिलाफ प्रदर्शन शुरू

भोपाल
। राजीव गांधी प्रौद्योिगकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी) में मंगलवार को दो संविदा प्रोफेसर उदय चौरसिया एवं प्रो. मनीष अहिरवार के खिलाफ अन्य कई संविदा प्राध्यापकों का प्रदर्शन शुरू हो गया है। सभी लोग काली पट्टी बांधकर काम कर रहे हैं और राज्यपाल महोदय से उन्होंने निवेदन किया है कि दोनों के खिलाफ प्रचलित शिकायतों पर बंद पड़ी जांच की प्रक्रिया को तेजी से पूरा करवा कर, निर्णय करवाएं। 

संविदा प्राध्यापकों ने प्रसाशन पर आरोप लगाया है कि इस मुद्दे की जांच बहुत ही धीमी गति से की जा रही है , इसलिए इन जांच को गति देने के लिए संविदा प्राध्यापकों द्वारा कुछ दस्तावेज प्रस्तुत किए जिससे उनपर हो रहे उत्पीड़न साबित हो दिख रहे हैं, लेकिन ऐसा भी प्रतीत हो रहा है प्रो.उदय चौरसिया एवं प्रो. मनीष अहिरवार के राजनीतिक पकड़ का किसी तरह का प्रभाव प्रशासन पर भी है। इसमे महिला संविदा प्राध्यापकों द्वारा आरोप लगाया गया कि प्रो. उदय चौरसिया ने महिला के ऊपर पब्लिक में उनके शरीर पर सैनिटाइजर छिड़का और अपमानित किया। 

वहीं एक निशक्त संविदा शिक्षक ने आरोप लगाए हैं कि प्रो चौरसिया ने उन्हें निशक्त होने पर अपमानित किया। वही महिलाओं ने अपने काल हिस्ट्री प्रस्तुत की है, जिसमें इनके द्वारा समय-समय पर कॉल कर मानसिक प्रताड़ित किया गया। संविदा प्राध्याकों ने मेडिकल दस्तावेज प्रस्तुत कर बताया कि इस मानसिक प्रताड़ना से वे ब्लड प्रेसर एवं डिप्रेशन के मरीज बन गए है। संविदा शिक्षकों ने ये भी आरोप लगाया कि प्रो. उदय चौरसिया की शैक्षणिक योग्यता भी इंजीनियरिंग संस्था में पढ़ाने योग्य नही है, जिसकी शिकायत होने पर भी कोई जांच नही शुरू हुई। 

विवि प्रसाशन महिला उत्पीड़न के इस मामले में पूरी तरह उदासीनता बरत रहा है। वही दूसरी ओर इन प्रोफेसरों द्वारा की गई गलत शिकायतों पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने तुरंत एक्शन लेते हुए विश्वविद्यालय स्तर पर नोटशीट चलाई गई, जिसमें निलंबन की कार्यवाही का उल्लेख था। यहां तक कि सभी महिला संविदा प्राध्यापकों ने भी राज्यपाल और मुख्यमंत्री को राखी भेज इन प्रोफेसरों से उनकी रक्षा करने की गुहार लगाई है। प्रशासन का ध्यान आकर्षित करने एवं दोषी प्रोफेसरों के विरोध में संविदा प्राध्यापक काली पट्टी लगा कर एक हफ्ते अपना काम करेंगे। इस मामले में प्रांतीय संविदा प्राध्यापक कल्याण संघ द्वारा इन शिकायतों को कई जगहों में किया गया, जिसमे प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति सभी आयोग आदि शामिल है।

31 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश मानसून- हवाएं बदलीं, 5 जिलों में मूसलाधार, आधे प्रदेश में भारी बारिश की संभावना
MP COLLEGE EXAM NEWS- नए सत्र में परीक्षा का पैटर्न भी बदल गया है, मक्कारी के नंबर कटेंगे
Khula Khat- सीएम राईज स्कूल योजना की सफलता संदिग्ध 
EMPLOYEE NEWS- अतिथि विद्वानों की मांग जायज़, सरकार गंभीरता से विचार कर रही है: गिरीश गौतम 
आईएएस लोकेश जांगिड़ का एक और विवाद, लड़की ने चैट वायरल कर दी
MP NEWS- स्कूलों में अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति के लिए गाइडलाइन
BHOPAL NEWS- भोपाल-नागपुर फोरलेन पर नर्मदा ब्रिज तैयार, अब कभी जाम नहीं लगेगा
ऐसे अपराध जिनमें पुलिस सीधे कार्रवाई नहीं कर सकती, पढ़िए - CrPC SECTION-155
MPBJP युवा मोर्चा प्रदेश पदाधिकारियों की लिस्ट जारी
BHOPAL NEWS- बिना वैक्सीन वाले शिक्षकों को अवैतनिक अवकाश के आदेश
BREAKING NEWS- 19 वर्षीय युवती, नाबालिग बालक को भगा ले गई, FIR दर्ज, गिरफ्तार, जेल भेजा

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiश्री कृष्ण पृथ्वी पर कितने साल तक रहे ,पढ़िए आज उनकी आयु कितनी हो गई
GK in Hindi- जूतों के फीते में लगे प्लास्टिक या धातु के लॉक को क्या कहते हैं
GK in Hindiपृथ्वी पर हिमालय लेकिन ब्रह्मांड का सबसे ऊंचा पर्वत कौन सा है
GK in Hindiएक गांव जहां कोबरा सांप और इंसान साथ-साथ रहते हैं, अच्छे पडोसियों की तरह
GK in Hindiबिस्किट्स में छोटे-छोटे छेद क्यों होते हैं, सिर्फ डिजाइन है या कोई टेक्नोलॉजी
GK in Hindi- ताश की गड्डी का चौथा राजा सुसाइड क्यों कर रहा है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here