मध्यप्रदेश में फिर से साक्षरता अभियान चलाया जाएगा - MP NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश में एक बार फिर साक्षरता अभियान चलाया जाएगा। सरकार का कहना है कि पूरे प्रदेश में 1.25 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं जिनकी उम्र 15 वर्ष से अधिक है और जिनको अक्षरों का ज्ञान तक नहीं है। प्रस्ताव तैयार हो चुका है। आने वाली कैबिनेट मीटिंग में इसे प्रस्तुत किया जाएगा। मंजूरी मिलते ही अभियान शुरू हो जाएगा।

मंत्रालय सूत्रों ने बताया, मध्यप्रदेश में अगले 5 साल में ऐसे 32 लाख 60 से ज्यादा व्यक्तियों को औपचारिक शिक्षा देकर साक्षर बनाया जाएगा, जिनकी आयु 15 साल से अधिक हो चुकी है। इसके लिए शिवराज सरकार नवभारत साक्षरता कार्यक्रम संचालित करेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रस्ताव के मुताबिक मार्च 2018 तक साक्षर भारत योजना में 49 लाख 63 हजार से ज्यादा लोगों को साक्षर किया जा चुका है। 

अब 5 साल में 32 लाख लोगों को साक्षर करने का लक्ष्य है। बाकी असाक्षरों को नई शिक्षा नीति के तहत वर्ष 2030 तक साक्षर किया जाएगा। नवभारत साक्षरता कार्यक्रम में अक्षर साथी साक्षरता कक्षाएं संचालित करके बुनियादी और कार्यात्मक साक्षरता प्रदान करने का काम करेंगे।

जानकारी के मुताबिक वर्ष 2011 की जनगणना में प्रदेश में असाक्षरों को संख्या 1 करोड़ 74 लाख बताई गई है। केंद्र सरकार इनके लिए साक्षरता कार्यक्रम चलाने की योजना की स्वीकृति दे चुकी है। इसके लिए वर्ष 2021-22 के लिए सात करोड़ 41 लाख रुपए भी स्वीकृत कर दिए हैं। कार्यक्रम के संचालन के लिए पोर्टल होगा। जिसमें बुनियादी साक्षरता परीक्षा सहित कार्यक्रम से जुड़ी अन्य सभी जानकारियां रहेंगी। इसके संचालन के लिए 322 डाटा एंट्री ऑपरेटर आउटसोर्स के माध्यम से रखे जाएंगे।

अलग से किसी की नियुक्ति नहीं होगी

इस कार्यक्रम को चलाने के लिए अलग से नियुक्ति नहीं की जाएगी। समग्र शिक्षा अभियान और शिक्षा विभाग में काम कर रहे अमले के अलावा सेवानिवृत्त कर्मचारियों, स्व सहायता समूह, नेहरू युवा केंद्र, जन अभियान परिषद, आजीविका मिशन के समूहों के साथ विद्यार्थियों का सहयोग लिया जाएगा। ये अक्षर साथी कहलाएंगे।

मानदेय नहीं मिलेगा
योजना में यह स्पष्ट प्रावधान किया गया है, इसके लिए पारिश्रमिक या मानदेय नहीं दिया जाएगा। प्रत्येक अक्षर साथी को शपथ पत्र भी देना होगा, वे भविष्य में इस काम के एवज में न तो शासकीय नौकरी की मांग करेंगे और न ही सुविधा मांगेंगे। शिक्षण सामग्री साक्षरता कक्षाओं का संचालन करने वालों को शासन की ओर से निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी।

23 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- 18 अधिकारियों को IAS और 11 को IPS प्रमोशन फाइनल
MP NEWS- मध्य प्रदेश के प्राइवेट स्कूलों में ट्यूशन फीस को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला
MP COLLEGE ADMISSION- पीजी सेकंड राउंड के लिए रजिस्ट्रेशन
MP NEWS- बाढ़ पीड़ितों से रिश्वत मांगने के आरोप में तहसीलदार सस्पेंड
MP NEWS- महिला पुलिस अधिकारी से अभद्रता के आरोप में जनपद अध्यक्ष गिरफ्तार 
JABALPUR NEWS- कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही महिला की मौत
GWALIOR NEWS- भू-अभिलेख अधिकारी को लड़की का कॉल आया, रात भर सो नहीं पाया
BHOPAL NEWS- पुलिस की आंखें खराब, दूसरों की दया पर होती है इन्वेस्टिगेशन
INDORE NEWS- नगर निगम में एक और फर्जी नियुक्ति का खुलासा

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindi- ताश की गड्डी का चौथा राजा सुसाइड क्यों कर रहा है
GK in Hindiएक पौधा जिसे खाने से महीने भर भूख-प्यास नहीं लगती
GK in Hindiमिनरल वाटर एक्सपायर नहीं होता, तो फिर बोतल पर एक्सपायरी डेट क्यों होती है
GK in Hindiभारत का सबसे पहला गांव कौन सा है, जहां मनुष्य, बंदर से इंसान बना
GK in Hindiइमरजेंसी में कार लॉक हो जाए तो जान बचाने के लिए क्या करें
GK in Hindiअंग्रेजी के अक्षरों में i और j के ऊपर बिंदी क्यों लगाई जाती है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com