श्रीकृष्ण जन्माष्टमी: करोड़ों के जवाहरात से राधा-कृष्ण का श्रृंगार होगा - GWALIOR NEWS

ग्वालियर
। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के नजदीक आते ही फूलबाग स्थित गोपाल मंदिर में तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। भक्तों के लिए यहां पर होने वाला राधा कृष्ण का विशेष श्रृंगार आकर्षण का केंद्र रहता है। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच राधाकृष्ण की प्रतिमा को करोड़ों रुपये के बेशकीमती जेवरात पहनाए जाते हैं। 

गोपाल मंदिर के पुजारी प्रदीप सरवटे के अनुसार मंदिर में स्थापित राधाकृष्ण की प्रतिमाओं का श्रृंगार जेवरात से करने की परंपरा आजादी से पूर्व की है। उस समय सिंधिया राजपरिवार के लोग व रियासत के मंत्री दरबारी व आम लोग जन्माष्टमी पर दर्शन करने मंदिर में आते थे। उस समय भगवान राधाकृष्ण को जेवरात से सजाया जाता था। आजादी के बाद मध्य भारत की सरकार बनने के बाद गोपाल मंदिर से जुड़ी संपत्ति जिला प्रशासन व निगम प्रशासन के अधीन हो गई ओर इसके बाद से जन्माष्टमी पर मंदिर में स्थापित प्रतिमाओं का जेवरातों से श्रृंगार नहीं हुआ। 

साल 2007 में निगम की संपत्तियों की पड़ताल कराई गई जिसमें इन जेवरातों की जानकारी मिली जिसके बाद से मंदिर में राधाकृष्ण की प्रतिमाओं का फिर से जेवरातों से श्रृंगार करने की परंपरा शुरू हुई जो लगातार जारी है। पिछले साल की भांति इस साल भी कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए भक्तों को राधा कृष्ण के दर्शन दूर से ही करने पड़ेंगे।

इन जेवरातों से होगा राधाकृष्ण का श्रृंगार

249 शुद्ध मोती की माला, सोने की बांसुरी, हीरे जड़े कंगन, भगवान श्री कृष्ण और राधा के झुमके, सोने की नथ, कडे, चूडिय़ा, 50 किलो चांदी के बर्तन हीरे जवाहरात से जड़ा स्वर्ण मुकुट, पन्ना और सोने की सात लड़ी का हार, समेत अन्य जेवरात शामिल है।

26 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

BHOPAL NEWS- मजदूर का बेटा मालकिन के बाथरूम में वीडियो बनाता पकड़ा गया
INDORE NEWS- दोस्तों के साथ मांडू गई छात्रा का गैंगरेप, नशे की हालत में सड़क पर छोड़ दिया
MP SCHOOL OPEN DATEमध्यप्रदेश में कक्षा 1 से 12 तक सभी स्कूल खोलने की तैयारी
MP EMPLOYEE NEWS- शिक्षाकर्मियों की पेंशन मामले में 35 याचिकाओं की सुनवाई की तारीख
JABALPUR JOB NEWS- आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका के रिक्त पदों की पूर्ति हेतु आवेदन आमंत्रित
EPFO NEWS- खाताधारकों के लिए चेतावनी, तत्काल बैलेंस चेक करें
MP OBC आरक्षण- कमलनाथ ने मध्य प्रदेश को संकट में डाल दिया: सीएम शिवराज सिंह चौहान
यदि कोई विवाह के बाद सन्यासी बन जाए तो क्या जीवनसाथी दूसरी शादी कर सकता है- THE HINDU MARRIAGE ACT, 1955
MP NEWS- 10 साल की मासूम के साथ हैवानियत, कांग्रेस नेता ने 6 दिन तक FIR नहीं होने दी
REAL INSPIRATIONAL STORY- पिता का सपना पूरा करने एवरेज स्टूडेंट फर्स्ट चांस में IAS बन गया
GWALIOR NEWS- बेटी की करतूत से दुखी मां किले से कूदी, आत्महत्या
MP NEWS- आज का वायरल फोटो- जेल में बंद हत्यारोपी की पत्नी, विधायक रामबाई ने गृहमंत्री को राखी बांधी
MP NEWS- मंत्री के भतीजे की धमकी से शोरूम बंद, टंगा पोस्टर, निकली राजनीति
मध्यप्रदेश मानसून रुठा- 13 जिले सूखे की चपेट में, 18 जिलों में रेड जोन का खतरा

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiक्या भगवान को प्रसाद में चॉकलेट चढ़ा सकते हैं, पहली चॉकलेट कहां बनी थी
GK in Hindiबिस्किट्स में छोटे-छोटे छेद क्यों होते हैं, सिर्फ डिजाइन है या कोई टेक्नोलॉजी
GK in Hindi- ताश की गड्डी का चौथा राजा सुसाइड क्यों कर रहा है
GK in Hindiएक पौधा जिसे खाने से महीने भर भूख-प्यास नहीं लगती
GK in Hindiमिनरल वाटर एक्सपायर नहीं होता, तो फिर बोतल पर एक्सपायरी डेट क्यों होती है
GK in Hindiभारत का सबसे पहला गांव कौन सा है, जहां मनुष्य, बंदर से इंसान बना
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here