MP NEWS- मंत्री के भतीजे की धमकी से शोरूम बंद, टंगा पोस्टर, निकली राजनीति

भोपाल
। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने 24 अगस्त को एक फोटो वायरल किया जिस पर लिखा था 'मंत्री भूपेंद्र सिंह के भतीजे की धमकी के कारण शोरूम बंद कर दिया गया है'। इस मामले में चौंकाने वाली बात यह है कि करीब 24 घंटे बीत जाने के बावजूद प्रकरण से जुड़े किसी भी पक्ष द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया। सभी लोग चुप हैं। 

सागर के विवादित बैनर का पंचनामा

बताया गया है कि जिस बिल्डिंग के बाहर बैनर टांगा गया था वह एक कार शोरूम है। जो मध्य प्रदेश के सागर जिले के मकरोनिया में स्थित है। इस शोरूम के संचालक का नाम संतोष खोटे है। जिनका मोबाइल नंबर बैनर पर लिखा हुआ है। बैनर में लिखा है कि 'यह शोरूम श्री सिद्धार्थ सिंह ठाकुर, जो कि आदरणीय मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ठाकुर के भतीजे हैं, की धमकियों के कारण बंद रखा गया है। आप की असुविधा के लिए खेद है।' 

बैनर का फोटो किसी कार से लिया गया है। यानी फोटो लेने वाला नीचे भी नहीं उतरा। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपील की है कि अपने गुंडों पर अंकुश लगाएं, लेकिन सवाल यह है कि यदि किसी की धमकी से डरकर शोरूम बंद कर दिया गया होता तो फिर कोई बैनर क्यों लगाता। 

समाचार लिखे जाने तक शोरूम संचालक की ओर से मंत्री के भतीजे के खिलाफ किसी भी प्रकार का आपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं कराया गया है। जबकि पूरी मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी उसके साथ है। 
स्थानीय पत्रकार जब मौके पर पहुंचे तो वहां बैनर नहीं था। 
शोरूम संचालक संतोष खोटे ने स्थानीय पत्रकारों के फोन रिसीव नहीं किए। 
इस मामले के आरोपी मंत्री भूपेंद्र सिंह के भतीजे सिद्धार्थ सिंह ने भी पत्रकारों के सामने अपना पक्ष नहीं रखा। 
मंत्री भूपेंद्र सिंह स्वयं भोपाल में थे, परंतु उन्होंने भी इस बारे में कोई बयान नहीं दिया। 

कुल मिलाकर सिर्फ एक बैनर का फोटो वायरल किया गया है। ना तो फरियादी पक्ष ने कोई कानूनी कार्रवाई की और ना ही आरोपी पक्ष की ओर से कोई खंडन किया गया। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की रुचि भी केवल फोटो वायरल करने तक थी। कांग्रेस के नेताओं ने सुरक्षा की गारंटी देते हुए शोरूम फिर से नहीं खुलवाया।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here