Loading...    
   


मध्य प्रदेश में BJP के पूर्व मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला फिर से सुर्खियों में - MP NEWS

भोपाल।
मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार में मंत्री रहे भाजपा नेता श्री ओम प्रकाश धुर्वे एवं उनकी पत्नी श्रीमती ज्योति धुर्वे के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल होने के बाद नोटिस जारी हुए थे। सरकार ने इस मामले में स्टेटस रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए 2 सप्ताह का समय मांगा है।

डिंडोरी में दीनदयाल चलित अस्पताल योजना में घोटाला हुआ था

बात वित्तीय वर्ष 2012-13 की है। जब मध्य प्रदेश में दीनदयाल चलित अस्पताल योजना संचालित थी। योजना के तहत सरकारी अस्पतालों में किराए से ऐसी एंबुलेंस मुहैया कराई जानी थी, जो जरूरतमंदों को इलाज मुहैया कराने में सक्षम हो। इस योजना के तहत डिंडोरी की गजानन शिक्षा एवं जन सेवा समिति को ठेका दिया गया, जिसके अध्यक्ष पूर्व मंत्री ओम प्रकाश धुर्वे और सचिव उनकी पत्नी ज्योति धुर्वे थी।

ट्रक, फायर बिग्रेड, स्कूल बस और ट्रैक्टर को एंबुलेंस बता कर भुगतान लिया था

याचिकाकर्ता के मुताबिक, इस मामले में घपले की शिकायत के बाद जब जांच बैठाई गई तो पता चला कि एंबुलेंस के नाम पर ट्रक, फायर ब्रिगेड, स्कूल बस और ट्रैक्टर के नंबर देकर लाखों का भुगतान ले लिया गया। इस मामले में 2013 और 2016 में तत्कालीन कलेक्टर ने रिकवरी और FIR के आदेश दिए थे लेकिन 2016 के बाद यह फाइल बंद पड़ी हुई है। जनहित याचिका की प्राथमिक सुनवाई के दौरान राज्य शासन ने हाई कोर्ट से जवाब दाखिल करने के लिए दो हफ्ते का समय लिया है।

12 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार


महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here