Loading...    
   


MP में CORONA VACCINATION की नई गाइडलाइन, पढ़िए - HEALTH NEWS

जबलपुर।
 मध्य प्रदेश में लोगों के जेहन में एक सवाल है कि पहला डोज लगवाया और एक हफ्ते बाद कोविड पॉजिटिव हो गए तो अगली डोज का क्या होगा?  तथा दोनों डोज लेने के 15 दिन बाद संक्रमित हो गए। उनके मन में कुछ अलग सवाल है, क्या फिर डोज लेने होंगे। इस तरह की तमाम आशंकाएँ हैं जो वैक्सीनेशन के बाद उठने लगी हैं।

भारत सरकार के को-विन पोर्टल पर जब संपर्क किया गया तो विशेषज्ञों ने हर एक शंका का समाधान किया। उनका कहना रहा पॉजिटिव आने पर एंटीबाॅडी डेवलप होती है, लिहाजा सेकेंड डोज के लिए कुछ ज्यादा समय रूका जा सकता है। कम से कम 14 दिन बाद वैक्सीन लगवानी चाहिए। हाल फिलहाल दो तरह की वैक्सीन है, दोनों की वैक्सीनेशन शैड्यूलिंग अलग-अलग है, लेकिन संक्रमण बढ़ने और वैक्सीन का पहला-दूसरा डोज लेने के बाद पॉजिटिव होने के बाद इस शैड्यूल पर भी फर्क पड़ रहा है।

पहले डोज के बाद तथा दूसरी डोज के बाद पॉजिटिव होने पर क्या करना चाहिए

पहले डोज के बाद और दूसरे डोज से पहले अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाती है तो वैक्सीनेशन नहीं कराना चाहिए। प्रोटोकॉल और ट्रीटमेंट पूरा होने के बाद निगेटिव रिपोर्ट के 14 दिनों बाद ही दूसरा डोज लगवाया जाना चाहिए। वह भी तब जब हल्का बुखार, हरारत, अत्यधिक कमजोरी जैसे लक्षण न होने पर। दूसरी डोज लगने के बाद भी अगर कोई पॉजिटिव हो जाता है तब भी चिकित्सक की सलाह के मुताबिक उपचार कराना चाहिए। वैक्सीनेशन के डोजेस संक्रमित के भीतर एंटी बॉडी डेवलप करने में मददगार साबित होते हैं।

संक्रमित होने के बाद पहला डोज; अगर कोई वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराता है और इस बीच संक्रमित हो जाता है तो वैक्सीन की पहली डोज भी टालनी होगी। इसमें भी निगेटिव होने के 14 दिनों बाद पहला टीका लगवाया जा सकता है।

संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद वैक्सीनेशन को लेकर नई गाइडलाइन जारी की गई है। पहली डोज के बाद संक्रमित होने पर निगेटिव होने के 14 दिन बाद दूसरी डोज ली जा सकती है।

-डॉ. एसएस दाहिया, जबलपुर जिला टीकाकरण अधिकारी


24 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here