Loading...    
   


नक्सली भाभी: एडवोकेट प्रशांत पटेल हमलावर, विवेक तंखा बचाव में - JABALPUR NEWS

जबलपुर
। सोशल मीडिया पर 'नक्सली भाभी' के नाम से जिस महिला की फोटो वायरल हुई थी वह जबलपुर में पदस्थ डॉक्टर राजकुमारी बंसल निकली। डॉ राजकुमार जी ने खुद मीडिया के सामने आकर बयान दिया। अब सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल उनके खिलाफ और सुप्रीम कोर्ट के वकील एवं कांग्रेस पार्टी के सांसद विवेक तंखा उनके बचाव में आ गए हैं। 

यह संजलि हत्याकांड में मौसी बनकर गयी थी: एडवोकेट प्रशांत पटेल

सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट श्री प्रशांत पटेल उमराव ने 2 सरकारी दस्तावेज शेयर करते हुए लिखा कि 'नक्सली भाभी डॉ राजकुमारी बंसल वाल्मीकि, नेताजी सुभाष मेडिकल कॉलेज,जबलपुर में 10% से कम उपस्थित रहती है। दो लाख सैलरी, मुफ्त आवास और अन्य भत्ते हैं। प्रिंसिपल से लेकर डीन सब इससे डरते हैं क्योंकि यह SC/ST एक्ट में फंसाने की धमकी देती है। यह संजलि हत्याकांड में मौसी बनकर गयी थी।' 
 

मुझे वो बहुत की संवेदनशील महिला लगी: कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा

कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने कहा कि मुझे वो बहुत की संवेदनशील महिला लगी। एक माह के वेतन का चेक देकर आई है। वह कोई अपराधी नहीं। यूपी एसटीएफ बिना किसी अपराध के जबरदस्ती झूठी कहानी गढ़कर गिरफ्तार नहीं कर सकती है। तन्खा ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार से मेरा आग्रह कि बंसल को योगी आदित्यनाथ के कहने से या खुश करने के उद्देश से परेशान करना गलत होगा। फिलहाल, कांग्रेस का राजकुमारी मसले के सहारे दलित वोट साधने की कोशिश माना जा रहा है।

11 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here