Loading...    
   


MP CORONA 80000 के पार, हर घंटे 91 लोग महामारी का शिकार - UPDATE NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण कितनी गंभीर स्थिति में पहुंच गया है इसका अनुमान सिर्फ इस बात से लगाया जा सकता है कि आज भी संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं द्वारा कोरोनावायरस बुलेटिन 2 घंटे देरी से जारी किया गया। कहा जाता है कि बुलेटिन उसी दिन देरी से जारी होता है जिस दिन अधिकारियों को आंकड़ों में हेरफेर करना होता है। मध्यप्रदेश में संक्रमित नागरिकों की संख्या 80000 से अधिक हो गई है। पिछले 24 घंटे में 2187 नागरिक महामारी का शिकार हुए। यानी हर घंटे 91 लोग संक्रमित हुए। मात्र 24 घंटे में इतनी ज्यादा संख्या में नागरिकों का संक्रमित होना जबकि सर्वे नहीं चल रहा है काफी गंभीर बात है परंतु दुखद यह है कि सरकार लापरवाह और जनता बेपरवाह हो गई है। 

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 10 SEPTEMBER 2020

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावाAयरस मीडिया बुलेटिन दिनांक 10 सितंबर 2020 (शाम 6:00 बजे तक) के अनुसार पिछले 24 घंटे में:- 
23694 सैंपल की जांच की गई।
140 सैंपल रिजेक्ट हो गए।
21507 सैंपल नेगेटिव पाए गए।
2187 सैंपल पॉजिटिव पाए गए।
21 मरीजों की मौत हो गई।
1435 मरीज डिस्चार्ज किए गए।
मध्यप्रदेश में संक्रमित नागरिकों की कुल संख्या 81379 
मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 1661 
मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस से स्वस्थ हुए नागरिकों की संख्या 61285 
10 सितंबर 2020 को संक्रमित नागरिकों की संख्या 18433 
10 सितंबर 2020 को मध्यप्रदेश में संक्रमित इलाकों की संख्या 6421 

mp corona status today and update 

आज की सरकारी रिपोर्ट में पॉजिटिविटी रेट 9.2% है। यानी स्थिति गंभीर हो गई है। यदि पॉजिटिविटी रेट 10% से अधिक हुई तो समाज में महामारी से मौतों की संख्या तेजी से बढ़ती चली जाएगी। 
मध्यप्रदेश में संक्रमित इलाकों (गांव, कॉलोनी, मोहल्ले) की संख्या लगातार बढ़ रही है। आज की तारीख में 6421 इलाके संक्रमित दर्ज किए जा चुके हैं। 9 सितंबर को यह संख्या 6388 थी। किसी भी इलाके में संक्रमण के होने का मतलब उस इलाके में रहने वाले नागरिक खतरे में है। 
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के अस्पतालों (ICU) में कोरोनावायरस मरीजों के लिए कोई बेड खाली नहीं है। सरकार की तरफ से ऐसे कोई इंतजाम नहीं किए गए थे जो प्रत्येक मरीज को बेड उपलब्ध करा सके। माथे पर कलंक से बचने के लिए कोविड सेंटरों के संचालक लोगों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दे रहे हैं। 
उपचुनाव प्रचार अभियान के कारण ग्वालियर में संक्रमण की स्थिति सबसे गंभीर होती जा रही है। जबकि जबलपुर में संक्रमित नागरिकों की मृत्यु आश्चर्यजनक रूप से बढ़ रही है।



10 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MPTET-3 EXAM 2020: वर्ग 3 का परीक्षा कार्यक्रम घोषित
SCHOOL OPEN: स्कूल खोलने के लिए सरकार ने SOP जारी किया
BF ने GF से कैंसर पीड़ित पिता के लिए खून बदले आबरू ले ली
इंडियन आर्मी की यूनिफार्म का कलर ग्रीन क्यों होता है
यदि दामाद अपनी पत्नी को मायके वालों से मिलने ना दे तो किस धारा के तहत मामला दर्ज होगा
MP BOARD हायर सेकेण्डरी/हा.से.व्यावसायिक एवं हाईस्कूल पूरक परीक्षा कार्यक्रम
MP NEWS: आंध्र प्रदेश से आए बादल मध्य प्रदेश के 21 जिलों में बरसेंगे
GWALIOR के भाजपा नेता सतीश सिकरवार कांग्रेस में शामिल, उपचुनाव चुनाव लड़ेंगे
इलेक्ट्रिक करंट कब झटके मारता है और कब चिपका लेता है, ध्यान से पढ़िए
INDORE में स्कूल ने बेटे को क्लास से निकाला, माँ ने पिता को जीवन से निकाल दिया
स्पेशल ट्रेन के नाम पर दोगुना किराया वसूली कर रहे थे, अब यात्री ही नहीं मिल रहे
20-50 फार्मूला पर अनिवार्य सेवानिवृत्ति: सुप्रीम कोर्ट के निर्णयों पर आधारित स्थापित सिद्धांत
कंप्यूटर के मेन बोर्ड को मदर बोर्ड क्यों कहते हैं फादर बोर्ड क्यों नहीं कहते हैं
DAVV NEWS: फर्जी वेबसाइट चल रही थी, यूनिवर्सिटी को पता ही नहीं, हजारों स्टूडेंट्स ठगे
इंदौर में BF संग लिव इन में रह रही लड़की ने सुसाइड किया, प्रेमी के खिलाफ केस दर्ज
नाबालिग लड़की की खरीद-फरोख्त या वेश्यावृत्ति पर FIR में धारा कौन सी धारा दर्ज की जाएगी
EPFO की बैठक में ब्याज दर का निर्धारण, 6 करोड़ कर्मचारियों को लाभ
INDORE में केंद्रीय विद्यालय के लिए आदेश जारी


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here