Loading...    
   


इनकम टैक्स रिफंड नहीं आया तो इसे ध्यान से पढ़ें, पता चलेगा कहां अटक गया / INCOME TAX REFUND

भारत के आयकर विभाग ने लॉकडाउन के दौरान 21 लाख से ज्यादा लोगों के इनकम टैक्स रिफंड उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए हैं लेकिन कई लोगों का रिफंड अब तक उनके बैंक में नहीं आया है। यदि आपके साथ भी ऐसा हुआ है तो कृपया इसे ध्यान से पढ़ें। शायद आप पता लगा पाएंगे कि आपका रिफंड कहां अटक गया है:-

कंफर्म करें क्या आपका बैंक अकाउंट प्री-वैलिडेट है

जिस बैंक खाते में इनकम टैक्स रिफंड आना है उस बैंक खाते को प्री-वैलिडेट (पहले से सत्यापित) करा लें। इनकम टैक्‍स रिटर्न (ITR) फाइल करने के बाद यदि आपका कोई रिफंड बनता है तो वह आपको इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट के सेंट्रलाइज्ड प्रोसेसिंग सेंटर (CPC) के जरिए मिलता है। इसके लिए जरूरी है कि आपका बैंक अकाउंट प्री-वैलिडेट हो ताकि आपको रिफंड मिलने में देरी न हो।

रिटर्न वैरिफाई नहीं करने पर भी लगता है ज्यादा समय

आपने रिटर्न समय पर फाइल कर दिया। आपने बाकी बातों का भी ख़याल रखा लेकिन हो सकता है कि आपने ITR का वैरिफ़िकेशन नहीं किया। जब तक आप वेरिफाई नहीं करेंगे, आपका रिटर्न प्रोसेस नहीं होगा। यानी, जो ITR आपने दाखिल किया है, उसको वेरिफाई करना आवश्यक है। यह भी रिफंड मिलने में देरी का कारण बन सकता है।

आयकर विभाग के ईमेल का जवाब न देना

सीए अभय शर्मा (पूर्व अध्यक्ष इंदौर चार्टर्ड अकाउंटेंट शाखा) के अनुसार आयकर विभाग की ओर से भेजे गए ई-मेल का जवाब न देने के कारण भी रिफंड अटक सकता है। आयकर विभाग की ओर से भेजे गए ई-मेल में करदाताओं से उनकी बकाया मांग, उनके बैंक खाते तथा रिफंड में किसी तरह के अंतर के बारे में जानकारी मांगी जाती है। इसकी जानकारी सही समय पर न देने पर भी आपका रिफंड अटक सकता है।

आमतौर पर 2 से 3 महीने में आ जाता है रिफंड

आईटीआर प्रोसेसिंग के बाद लगभग टैक्स रिफंड आने में करीब एक महीने का समय आमतौर पर लगता है। सामान्य रूप से सेंट्रलाइज प्रोसेसिंग सेक्टर से आईटीआर के प्रोसेसिंग को पूरा होने में 2 से 3 महीने का समय लग जाता है।

8 अप्रैल से 11 जुलाई के बीच 71,229 करोड़ रुपए के रिफंड जारी किए

आयकर विभाग ने 8 अप्रैल से 11 जुलाई के बीच 21.24 लाख करदाताओं को 71,229 करोड़ रुपए के रिफंड जारी किए हैं। जारी किए गए रिफंड में 24,603 करोड़ रुपए का रिफंड 19.79 लाख इंडिविजुअल टैक्‍सपेयर्स को जारी किया गया। वहीं, कॉरपोरेट टैक्‍स के तहत 1.45 लाख करदाताओं को 46,626 करोड़ रुपए दिए गए। कोरोना के कारण लोगों को हो रही परेशानी को देखते हुए जल्दी रिफंड लौटाने का काम चल रहा है।

इस तरह चेक कर सकते हैं अपने रिफंड का स्टेटस

करदाता refundstatuslogin.html पर जा सकते हैं।
रिफंड स्टेटस पता लगाने के लिए यह दो जानकारी भरने की जरूरत है – पैन नंबर, जिस साल का रिफंड बाकी है वह साल भरिए।
अब आपको नीचे दिए गए कैप्चा कोड को भरना होगा।
इसके बाद Proceed पर क्लिक करते ही स्टेटस आ जाएगा।


28 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार

MP COLLEGE EXAM: कब होंगे, कैसे होंगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने बताया 
ट्रैक्टर का साइलेंसर ऊपर की ओर क्यों होता है, कार की तरह पीछे, ट्रक की तरह साइड में क्यों नहीं 
एमपी बोर्ड 12वीं के राज्य स्तरीय टॉपर्स की लिस्ट
JEE Main और UPSC NDA के उम्मीदवारों के लिए AEW ओपन, फटाफट एंट्री करें
मध्य प्रदेश के 38 जिलों में 5 दिन लगातार बारिश की संभावना 
ग्वालियर में प्रॉपर्टी नामांतरण मात्र 50 रुपए में, नियम बदले 
शेर और शेरनी में से शिकार कौन करता है, किसमें कितना दम होता है, पढ़िए सबसे मजेदार जानकारी 
सिंगरौली में युवक ने CM शिवराज सिंह की कोरोना से मृत्यु की कामना कर डाली, मामला दर्ज 
पिता जूते बनाते हैं, बेटी ने रिकॉर्ड बना दिया: MP 12th TOPPER 
मध्य प्रदेश कांग्रेस में जयवर्धन सिंह और नकुल नाथ आमने-सामने 
टीवी-फ्रिज की पैकिंग में थर्माकोल ही क्यों यूज करते हैं, जबकि ट्रांसपोर्टेशन के झटके सहने के लिए कई अच्छे विकल्प हैं 
AIRTEL 52.6 लाख और VODAFONE-IDEA को 45.1 लाख यूजर्स का घाटा, JIO मुनाफे में 
मध्य प्रदेश में कोरोना 5.7% खतरे के निशान से ऊपर, भोपाल सबसे बेहाल 
MP COLLEGE EXAM इस साल OBS से होंगे, घर बैठे दे सकते हैं परीक्षा
एमपी बोर्ड जिला स्तरीय टॉपर्स (मेरिट) लिस्ट 2020
वेदांश इंटरनेशनल स्कूल का वीडियो वायरल, बाल आयोग ने कलेक्टर को पत्र लिखा 
जबलपुर में 36 हजार राशन कार्ड धारकों के नाम पात्रता सूची से हटे


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here